Friday, May 7th, 2021 Login Here
रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित, चार महिने में नहीं बन पाया सवा दो सौ मीटर का नाला दूकान का शटर बंद लेकिन अंदर मिले ग्राहक हर दिन आॅक्सीजन आने का दावा लेकिन खत्म नहीं हो रहीं मारा-मारी *रजिस्ट्री की गाइड लाइन 30 जून तक यथावत* MP में 1 मई से शुरू नहीं होगा वैक्सीनेशन पार्ट-3:2.5 लाख डोज की पहली खेप 3 मई तक मिली तो 18+ लोगों को 5 मई से लगेगा टीका, 19 हजार लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन सोमली नदी को पार कर मंदसौर की तरफ आगे बढा चंबल का पानी
सात दिवसीय प्राकृतिक चिकित्सा शिविर में पंजीयन कराकर लाभ लेवें

मंदसौर । अ.भा.मारवाड़ी युवा मंच एवं अग्रवाल नवयुवक मंडल मंदसौर के तत्वावधान में श्री एक्यूप्रेशर रिसर्च ट­ेनिंग ओर ट­ीटमेंट संस्था जोधपुर के सहयोग से स्वण्सचिन गुप्ता की स्मृति में गुप्ता परिवार द्रारा सात दिवसीय एक्यूप्रेशर एवाइब्रेशन एवं सुजोक चिकित्सा शिविर का शुभारंभ प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की संचालिका ब्रह्माकुमारी समिता बहिन के मुख्य आतिथ्य में हुआ। अध्यक्षता मंच के प्रांतीय उपाध्यक्ष नरेन्द्र अग्रवाल ने की। विशेष आतिथ्य सकल जैन समाज के पूर्व अध्यक्ष नंदकिशोर अग्रवाल, अग्रवाल समाज देशी पंचायत के संरक्षक राजमल गर्ग, एडवोकेट कृष्णवल्लभ त्रिपाठी, शिक्षाविद प्रो.अशोक अग्रवाल एवं महासचिव ओम अग्रवाल (सर) ने प्रदान किया।शिविर का लाभ आज 123 व्यक्तियों ने उठाया, पंजीयन लगातार जारी है।

स्थानीय नरसिंहपुरा स्थित  महाराजा अग्रसेन मांगलिक भवन में 26 अगस्त से 1 सितंबर तक आयोजित सात दिवसीय शिविर में जोधपुर के थेरेपिस्ट के.एस.राजपुरोहित, प्रवीण चौधरी एवं अशोक गोस्वामी प्रतिदिन प्रात: 8 से दोपहर 12 एवं दोपहर 3 से 8 बजे तक अपनी सेवाएं देगें।मंच पर संस्था अध्यक्ष नरेन्द्र त्रिवेदी , सचिव संजय वर्मा, महिला शाखा अध्यक्ष श्रीमती नेहा सुमित मित्तल, सचिव श्रीमती रानी अनिल सिंहल,नवयुवक मंडल अध्यक्ष मयंक मित्तल, महासचिव पवन बंसल, मोनू कबाड़ी मंचासीन थे।

शिविर शुभारंभ अवसर पर  ब्रह्माकुमारी समिता बहिनजी ने कहा कि आज भी देश मे ओषधिविहीन प्राकृतिक चिकित्सा पद्दति कारगर है, इस पद्दति से शरीर को कोई नुकसान नही होता है और व्यक्ति स्वस्थ भी होता हैं ओर वह जीवन जीने की कला में निपुर्ण हो जाता है। आपने कहा कि आज सबसे ज्यादा बीमारी जो फैली हुई है अपने नैतिक विचारोंएगलत विचारों के कारण । मन दुरुस्त नहीं है, मन कई प्रकार के नकारात्मक विचारों से भरा हुआ है उन विचारों का प्रभाव हमारे शरीर पर पड़ता हैं आज आवश्यकता है मन को साफ बनाने की।

समारोह की अध्यक्षता करते हुए प्रांतीय उपाध्यक्ष नरेन्द्र अग्रवाल ने कहा कि मारवाड़ी युवा मंच ने सदैव सामाजिक और चिकित्सा सेवा के कार्यों र्में र्अग्रणी भूमिका निभाई है।मंदसौर शहर में  चार करोड़ की लागत से निर्मित कैंसर डिटेक्शन वैन के माध्यम से नि:शुल्क परीक्षण ओर उपचार के बाद अब सात दिवसीय  प्राकृतिक चिकित्सा शिविर के माध्यम से आमजन की सेवा का बीड़ा उठाया है। विशेष अतिथि शिक्षाविद प्रो. अशोक अग्रवाल ने कहा कि  इस सात दिवसीय प्राकृतिक चिकित्सा शिविर के माध्यम से जहां एक ओर व्यक्ति बगैर ओषधि के लाभान्वित होगा एवही दूसरी ओर अपनी पुरातन संस्कृति से भी जुड़ेगा।

जोधपुर के थैरेपिस्ट के.एस.राजपुरोहित ने बताया कि अग्रसेन मांगलिक भवन में आयोजित ओषधिविहीन इस शिविर में   एक्यूप्रेशर, वाइब्रेशन चिकित्सा पद्दति से मोटापा, ब्लड प्रेशर, शुग,कंधा, कब्ज, गैस, सर्वाइकल, गर्दन, सिर, ऑंख, कान, नाक, गला,  जोड़ो, घुटनों एवं कमर का दर्द, पैरालिसिस, श्वास की तकलीफ, किडनी, मानसिक तनाव, नींद नही आना ऐसे अनेक प्रकार के रोगों का उपचार किया जावेगा। इस उपचार विधि से शरीर में किसी भी प्रकार कोई भी साईड इफेक्ट नही होता है। यह  विधि शरीर के लिए काफी लाभदायक है।

प्रारंभ में अतिथियों ने कुलदेवी महालक्ष्मी जी के चित्र पर माल्यार्पण कर दीप प्रज्वलित कर शिविर का शुभारंभ किया। अतिथियों का स्वागत उपाध्यक्ष सुमीत मित्तल, प्रोजेक्ट चेयरमैन दिलीप सेठिया, दिलीप गुप्ता, सावन भाटी, अनिल सिंहल, सिध्दार्थ अग्रवाल, मुकेश पोरवाल, श्रीमती सुमन वर्मा,श्रीमती सुनीता देशमुख, श्रीमती सोनिया गुप्ता, शुभम अग्रवाल, महेश सेठिया, चंदन सोनी, यशवंत अग्रवाल, लोकेश अग्रवाल, निर्मल सिंहल, प्रांशु गोयल ने किया। कार्यक्रम का संचालन मायुम के संयोजक संजय वर्मा ने किया तथा आभार अध्यक्ष नरेन्द्र त्रिवेदी ने माना।

इन्होंने कहा जीवन मे एक नई ऊर्जा का संचार हो गया

सात दिवसीय शिविर का लाभ लेने के बाद सर्वश्री नन्दकिशोर अग्रवाल, नाहरू भाई, दिनेश गर्ग, श्रीमती कल्पना गर्ग, कैलाश कुमावत, दिनेश बाबानी, राजेन्द्र मित्तल, संदीप गर्ग, रामानंदी, सुरज माहेश्वरी, मांगीबाई, मन्नालाल सोमानी एवं मांगीलाल अहिर ने कहा कि वास्तव ऐसा अनूठा उपचार बहुत लंबे अर्से बाद साक्षात देखने को ही नही मिला बल्कि स्वयं को भी अपने हाथों से करने का अवसर मिला । उपचार का उपचार ओर व्यायाम का व्यायाम भी हो रहा है।हम सभी प्रतिदिन यहां प्राकृतिक चिकित्सा पद्दति  का लाभ लेने आयेगे ओर दुसरो को भी प्रेरित करेंगे। वास्तव में यू कहे कि आज इस पद्दति से जीवन मे एक नई ऊर्जा का संचार हो गया तो कोई अतिश्योक्ति नही है।
Chania