Monday, May 17th, 2021 Login Here
कोरोना के गंभीर रोगियों का उपचार सर्वसुविधायुक्त बड़े अस्पतालों में होना जरूरी पुलिस और डाक्टर की पकड़ में कोरोना से सुरक्षित आम आदमी लेकिन लापरवाह लोग बन रहे मुश्किल मंदसौर के मनोज ने कर दिया 200 रूपऐ में आॅक्सी फ्लो मीटर का निर्माण वायरल विडियों ने मंदसौर की दादी को बना दिया स्टाॅर मंदसौर जिला चिकित्सालय में अक्षय तृतीया से सीटी स्कैन मशीन से जांच होना हुई प्रारंभ वित्त मंत्री श्री देवड़ा के निर्देश पर गृह मंत्रालय ने मल्हारगढ़ ब्लॉक कोविड-19 आपदा प्रबंधक मैनेजमेंट कमेटी का गठन कलेक्टर द्वारा किया गया *शामगढ़ में 85 वर्ष के बूढे व्यक्ति का घर से मृत अवस्था मे मिला शव* खुशियों की दास्तां /मल्हारगढ़ कोविड केयर सेंटर से आज 3 व्यक्ति स्वस्थ होकर घर गए प्रशासन ने मीटिंग बुलाकर ईद घर पर ही मनाने हेतु समझाइश दी । अपने अपने मोहल्ले मैं सख्ती से कर्फ्यू का पालन करवाना और दवाई वितरण करवाना हम सबकी जवाबदेही है: श्री पँवार *जिले में रक्त स्त्रोतम संस्थान द्वारा कराया गया पहला प्लाज्मा डोनेशन जनसारंगी --प्रसंगवश./ सर्वसमावेशी समाज के संस्थापक भगवान परशुराम. दो लाख खर्च होने के बाद भी नहीं बनी खाद, पिट बन गऐ डस्टबिन हॉटस्पॉट में बेखौफ चल रहीं सब्जी मंडी, लोगों की जमा हो रहीं भीड़ महामारी से निपटने आर्थिक सहयोग में आगे आ रहे नागरिक

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने केन्द्र को दिये प्रभावी सुझाव
- नासीर हुसैन
भोपाल । मुख्यमंत्री
कमलनाथ ने केंद्र सरकार को नक्सल प्रभावित इलाकों में आई.आई.टी, पॉलीटेक्निक खोलने का सुझाव दिया है जिससे युवाओं को रोजगार के अवसर प्राप्त हो सकें और वे उग्रवाद की विचारधारा से दूर रहें।
 नक्सल प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों की दिल्ली में आयोजित बैठक में श्री नाथ ने केंद्र से अनुरोध किया कि मंडला और डिंडौरी के अलावा शेष नौ विकास खण्डों में भी एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय खोलने का आग्रह किया। उन्होंने नक्सल प्रभावित इलाकों के लिए इंडिया रिजर्व बटालियन का संख्या बल बढ़ाकर प्रभावित इलाकों में इन अतिरिक्त जवानों की तैनाती की मांग की।  श्री कमल नाथ ने दो जिलों मण्डला और बालाघाट के अलावा अनूपपुर, उमरिया और डिंडौरी जिलों को भी नक्सल प्रभावित जिलों की श्रेणी में शामिल करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि इन तीन जिलों में नक्सली समस्या न उभर पाये, इसके लिए केन्द्र और राज्य सरकार दोनों को मिलकर प्रयास करना चाहिए। उन्होंने अनुरोध किया कि एकीकृत कार्य-योजना की तर्ज पर इन जिलों में भी विकास-कार्यों र्की योजना बनाई जाए। मुख्यमंत्री ने सशक्त संचार माध्यम विकसित करने की आवश्यकता पर जोर देते हुए कहा कि पिछड़े इलाकों में 3 जी, 4जी की सेवाएँ न होने के कारण सूचना तंत्र प्रभावी नहीं है। उन्होंने पिछडे क्षेत्रों में बी.एसएनएल. की सेवा संतोषजनक नहीं होने से निजी टेलीकॉम ऑॅपरेटरों की सेवाएँ लेने की जरूरत बताई, जिससे सूचना तंत्र 3जी और 4जी के माध्यम से प्रभावी हो सके।

Chania