Monday, May 17th, 2021 Login Here
कोरोना के गंभीर रोगियों का उपचार सर्वसुविधायुक्त बड़े अस्पतालों में होना जरूरी पुलिस और डाक्टर की पकड़ में कोरोना से सुरक्षित आम आदमी लेकिन लापरवाह लोग बन रहे मुश्किल मंदसौर के मनोज ने कर दिया 200 रूपऐ में आॅक्सी फ्लो मीटर का निर्माण वायरल विडियों ने मंदसौर की दादी को बना दिया स्टाॅर मंदसौर जिला चिकित्सालय में अक्षय तृतीया से सीटी स्कैन मशीन से जांच होना हुई प्रारंभ वित्त मंत्री श्री देवड़ा के निर्देश पर गृह मंत्रालय ने मल्हारगढ़ ब्लॉक कोविड-19 आपदा प्रबंधक मैनेजमेंट कमेटी का गठन कलेक्टर द्वारा किया गया *शामगढ़ में 85 वर्ष के बूढे व्यक्ति का घर से मृत अवस्था मे मिला शव* खुशियों की दास्तां /मल्हारगढ़ कोविड केयर सेंटर से आज 3 व्यक्ति स्वस्थ होकर घर गए प्रशासन ने मीटिंग बुलाकर ईद घर पर ही मनाने हेतु समझाइश दी । अपने अपने मोहल्ले मैं सख्ती से कर्फ्यू का पालन करवाना और दवाई वितरण करवाना हम सबकी जवाबदेही है: श्री पँवार *जिले में रक्त स्त्रोतम संस्थान द्वारा कराया गया पहला प्लाज्मा डोनेशन जनसारंगी --प्रसंगवश./ सर्वसमावेशी समाज के संस्थापक भगवान परशुराम. दो लाख खर्च होने के बाद भी नहीं बनी खाद, पिट बन गऐ डस्टबिन हॉटस्पॉट में बेखौफ चल रहीं सब्जी मंडी, लोगों की जमा हो रहीं भीड़ महामारी से निपटने आर्थिक सहयोग में आगे आ रहे नागरिक

प्रधानमंत्री मोदी गुरुवार को तुमकुर के श्री सिद्धगंगा मठ पहुंचे। प्रधानमंत्री मोदी गुरुवार को तुमकुर के श्री सिद्धगंगा मठ पहुंचे।
बेंगलुरु (कर्नाटक). प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को तुमकुर के श्री सिद्धगंगा मठ में कहा कि कांग्रेस और उसके सहयोगी दल पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की स्थिति पर कुछ नहीं बोल रहे, बल्कि वे शरणर्थियों के खिलाफ रैलियां कर रहे हैं। उन्होंने कहा, “अगर आपको नारे लगाने ही हैं तो पाकिस्तान में जिस तरह अल्पसंख्यकों पर अत्याचार हो रहा है, उससे जुड़े नारे लगाइए। अगर आपको जुलूस निकालना ही तो पाकिस्तान से आए हिंदू-दलित-पीड़ित-शोषितों के समर्थन में जुलूस निकालिए।” उन्होंने कहा, “यह संयोग है कि मैंने 2020 की शुरुआत एक महान भूमि से की है। मैं शुभकामनाएं देता हूं कि श्री सिद्धगंगा मठ की पवित्र उर्जा से देश के लोगों का कल्याण होगा।” प्रधानमंत्री मोदी दो दिवसीय कर्नाटक दौरे के अंतर्गत तुमकुर के श्री सिद्धगंगा मठ पहुंचे।
इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने पीएम किसान सम्मान निधि की तीसरी किश्त जारी की। उन्होंने किसानों को कृषि सम्मान अवॉर्ड वितरित किए। दिसंबर 2019 से मार्च 2020 के लिए इस योजना से 6 करोड़ लाभार्थियों को फायदा मिलेगा। पहली दो किश्त में देशभर के एक करोड़ से अधिक किसानों के लिए करीब 2 हजार करोड़ रु. जारी किए गए थे। इस योजना में हर चार महीने में प्रत्येक लाभार्थी को 2000 रुपए बैंक खाते में ट्रांसफर किए जाते हैं। प्रधानमंत्री 8 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लाभार्थियों को इसका प्रमाण पत्र सौंपा।
पाकिस्तान के कारनामों के खिलाफ आंदोलन कीजिए: मोदी
    “देश में एक वो दौर भी था जब देश में गरीब के लिए एक रुपए भेजा जाता था तो सिर्फ 15 पैसे पहुंचते थे। बाकी के 85 पैसे बिचौलिए मार जाते थे। आज पीएम किसान योजना के तहत एक साथ देश के 6 करोड़ किसान परिवारों के खाते में 12 हजार करोड़ रुपए जमा करवाए गए हैं।”
    “कृषि कर्मण अवार्ड के साथ ही, आज कर्नाटक की यह धरती एक और ऐतिहासिक उपलब्धि की गवाह बनी है। आज प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत 8 करोड़वें किसान साथी के खाते में पैसा जमा किया गया है।”
    “हमारे सरकार के प्रयासों के कारण भारत द्वारा मसालों के उत्पादन और निर्यात दोनों में बढ़ोतरी हुई है। भारत में मसाला उत्पादन 25 लाख टन से अधिक बढ़ा है तो निर्यात भी करीब 15 हजार करोड़ से बढ़कर लगभग 19 हजार करोड़ रुपए तक पहुंच चुका है।”
    “आज जो भी भारत की संसद के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं, मैं कहना चाहता हूं कि आज अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान की गतिविधियों का पर्दाफाश करने की जरूरत है। अगर आपको आंदोलन करना है, तो पिछले 70 वर्षों के पाकिस्तान के कारनामों के खिलाफ कीजिए।”
प्रधानमंत्री ने किसानों को कृषि कर्मण अवॉर्ड प्रदान किए
    प्रधानमंत्री ने उत्कृष्ट किसानों को कृषि कर्मण अवॉर्ड और प्रशस्ति पत्र प्रदान किए। इसके अलावा, मोदी ने तमिलनाडु के चयनित किसानों को गहरे समुद्र में मछली पकड़ने वाली नौकाओं और ट्रांसपोर्डर्स की चाबी सौंपी। उन्होंने कर्नाटक के चुनिंदे किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड भी वितरित किया।
    मोदी मठ में प्रार्थना और पूजा-अर्चना की और पौधे लगाए।। उनके साथ मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा और मठाधीश सिद्धलिंगेश्वर स्वामी सहित कई हस्तियां मौजूद रहे। मोदी तुमकुर के श्रीसिद्धगंगा मठ में श्री श्री शिवकुमार स्वामीजी के स्मारक संग्रहालय की आधारशिला रखेंगे।
    मोदी शुक्रवार को बेंगलुरु में यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चरल साइंसेज के गांधी कृषि विज्ञान केंद्र परिसर में 107वें इंडियन साइंस कॉन्ग्रेस का उद्घाटन करेंगे। समारोह में देशभर के प्रसिद्ध वैज्ञानिक, शोधकर्ता और विज्ञान के प्रशंसक पहुंचते हैं।
पिछले साल पीएम-किसान योजना को मंजूरी मिली
पिछले साल फरवरी में केंद्रीय कैबिनेट ने पीएम-किसान योजना की मंजूरी दी थी। इसके तहत छोटे और मध्यम किसानों को आर्थिक मदद दी जाती है। जिन किसानों के पास दो हेक्टेयर से कम जमीन होती है उन्हें सालाना 6 हजार रुपए प्रदान किए जाते हैं।

Chania