Saturday, May 8th, 2021 Login Here
भोईवाडा की घटना के बाद मंदसौर में पुलिस का फ्लेग मार्च जावरा विधायक से पंगा और मंदसौर के हिस्सें की आॅक्सीजन रोकना भरी पड़ा कलेक्टर को, विधायक सिसोदिया की सीएम के समक्ष कड़ी आपत्ति के बाद विवाह की खुशी में भूल गए लाॅकडाउन के आदेश/ शादि में मेंहमान बन कर पहुंच गऐ एसडीएम और टीआई बीस दिन लाॅकडाउन के बाद भी कोरोना काबू नहीं हुआ तो अब सीएम के निर्देश के बाद मंदसौर में भी शुरु हुआ सख्ती वाला लॉक डाउन कोरोना के तांडव की हकीकत बयां करती मंदसौर के शमशान की सच्चाई ! कोरोना से जंग में भारतीय जैन संघठना ने नृत्य नाटिका के माध्यम से दिया सकारात्मकता का सन्देश रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित,

    हादसा 2-3 नंबर प्लेटफॉर्म पर हुआ, तब तिरुपति निजामुद्दीन एक्सप्रेस खड़ी हुई थी
    एफओबी से प्लेटफॉर्म जाने वाला रैंप का हिस्सा गिरा, नीचे बैठे कई लोग चपेट में आए
भोपाल.  राजधानी भोपाल में पुराने रेलवे स्टेशन पर गुरुवार को फुटओवर ब्रिज (एफओबी) के रैंप का एक हिस्सा ढह गया। हादसे में 9 लोग घायल हो गए, जिसमें 3 की हालत गंभीर है। दो को हमीदिया अस्पताल और 7 घायलों को चिरायु हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। वहीं, एक यात्री को प्राथमिक उपचार के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया। रेल एडीजी अरुणा मोहन राव ने बताया कि जिस रैंप का हिस्सा गिरा है वह 1992 में बना था।
जानकारी के मुताबिक, हादसा 2-3 नंबर प्लेटफॉर्म पर हुआ। उस वक्त तिरुपति निजामुद्दीन एक्सप्रेस खड़ी हुई थी। फुटओवर ब्रिज के नीचे कुछ स्टॉल भी लगे हुए थे। हादसे के बाद रेलवे प्रशासन ने आम यात्रियों के लिए एफओबी को बंद कर दिया। हादसे के चलते प्लेटफार्म नंबर 2-3 पर आने वाली 18 ट्रेनों को दूसरे प्लेटफार्म पर भेजा गया।
एक परिवार के 5 लोग हादसे में घायल
इस हादसे में जहांगीराबाद में रहने वाले एक परिवार के 5 लोग घायल हुए हैं। परिवार की एक सदस्य आसिमा ने बताया कि हादसे में मरियम गंभीर हैं। हमारा परिवार हैदराबाद से भोपाल आया था। हम प्लेटफार्म नंबर 2 पर ट्रेन से उतरे। फिर रैंप से ऊपर चढ़ने लगे, तभी उसका हिस्सा गिर गया। इसमें मरियम, दब गईं। हमें समझ नहीं आ रहा था कि क्या हुआ। जोर से आवाज हुई और इसके बाद चीख-पुकार मच गई। हमने सामान फेंका और एक-दूसरे को खोजने लगे।
रेलवे को एफओबी की जांच के लिए पत्र लिखेंगे: मंत्री पीसी शर्मा
हादसे की सूचना पर स्टेशन पहुंचे जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा- रेल मंत्री पीयूष गोयल को कमलनाथ जी पत्र लिखेंगे कि भोपाल रेलवे स्टेशन समेत सभी स्टेशनों के एफओबी की जांच कराई जाए। उन्होंने बताया कि सरकार ने गंभीर घायलों को 50 हजार और चोटिलों को 10 हजार की मदद देगी।
रेलवे को दी गई थी एफओबी के जर्जर होने की जानकारी
घटना में रेलवे की लापरवाही सामने आ रही है। कैंटीन संचालक रमेश के मुताबिक, उसने स्टेशन मास्टर से रैंप और ब्रिज के कमजोर होने और उसका हुक निकल जाने की जानकारी दी थी। लेकिन रेलवे ने शिकायत को अनसुना कर दिया। हालांकि रेलवे अधिकारी ने इस बात से इंकार किया है कि उन्हें रैंप जर्जर होने की जानकारी दी गई थी।
Chania