Saturday, May 8th, 2021 Login Here
भोईवाडा की घटना के बाद मंदसौर में पुलिस का फ्लेग मार्च जावरा विधायक से पंगा और मंदसौर के हिस्सें की आॅक्सीजन रोकना भरी पड़ा कलेक्टर को, विधायक सिसोदिया की सीएम के समक्ष कड़ी आपत्ति के बाद विवाह की खुशी में भूल गए लाॅकडाउन के आदेश/ शादि में मेंहमान बन कर पहुंच गऐ एसडीएम और टीआई बीस दिन लाॅकडाउन के बाद भी कोरोना काबू नहीं हुआ तो अब सीएम के निर्देश के बाद मंदसौर में भी शुरु हुआ सख्ती वाला लॉक डाउन कोरोना के तांडव की हकीकत बयां करती मंदसौर के शमशान की सच्चाई ! कोरोना से जंग में भारतीय जैन संघठना ने नृत्य नाटिका के माध्यम से दिया सकारात्मकता का सन्देश रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित,
देर रात 12.30बजे आई रिपोर्ट, पूरे परिवार को किया कोरेण्टाइन,पूरा क्षेत्र सील

मंदसौर निप्र । सोमवार की देर रात करीब 12:30 बजे मंदसौर के खिलचीपुरा में एक 40 वर्षीय महिला कोरोना पॉजिटिव पाई गई महिला का घर घर जांच करने वाली टीम ने डा श्वेता की अगुवाई वाली टीम ने परीक्षण किया था और संदिग्ध पाए जाने पर सैंपल जांच के लिए भेजा था जहां से उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई रिपोर्ट पॉजिटिव आते ही प्रशासन हरकत में आया और तत्काल महिला को सिद्धिविनायक हॉस्पिटल स्थित कोविड सेंटर पर भर्ती कराया गया इसके साथ ही उसके परिवार के पांच सदस्यों को भी करंट टाइम किया गया तथा पूरा क्षेत्र सील कर सघन जांच की जाएगी। महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद मंदसौर में अब मरीजों की संख्या 2 हो गई है। 
यह जानकारी देते हुए कलेक्टर मनोज पुष्प ने बताया कि 88 सैंपल की रिपोर्ट अभी एक साथ आई है उसमें से खिलचीपुरा की महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है महिला पहले से ही होम आइसोलेशन में थी रिपोर्ट आने के बाद प्रशासन ने पूरे क्षेत्र को सील कर दिया है और सभी का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है।
 कोरोना प्रभारी एवं मेडिकल ऑफिसर डॉ डी.के शर्मा ने बताया कि  खिलचिपुरा की महिला से पहले कोरोना पॉजिटिव पाई गई युवती के पिता को छोड़कर सभी परिजनों की जांच रिपार्ट नेगेटिव आ चुकी है लेकिन इन सभी की एक बार फिर से जांच कराने के लिये 15 ही लोगो के  सेंपल दोबारा भोपाल लेबोरेटरी भेजे गये । इससे पहले पॉजिटिव आई युवती का सेंपल भी दोबारा जांच के लिये भेजा जा चुका है । पिताजी का भी सेंपल दोबारा गया था क्योंकि पहले भेजे गये सेंपल से उनकी जांच ठिक से नही हो पाई । इसके साथ ही युवती के संपर्क में आने की संभावना के चलते लदूना की महिला के  आठ परिजनों, उसके घर आने वाले दो लोगो  व  ससुराल के पॉच सदस्यों के सेंपल भी पहले ही जांच के लिये भेजे जा चुके है । स्वास्थ्य विभाग को युवती से जुड़े 32 लोगो की जांच रिपोर्ट का इंतजार है । युवती और उसके किसी भी परिजन को कोरोना जैसे कोई लक्षण दिखाई नही दे रहे है लेकिन फिर भी चिकित्सकीय परामर्श के तहत सभी की जांच दोबारा कराई जा रही है ।  पहले सभी की जांच इंदौर लेबोरेटरी पर हुई थी, दोबारा जांच के लिये सेंपल भोपाल लेबोरेटरी भेजे गयेहै । इसके अलावा कोरोना सेंटर पर आज दो और मरीज भर्ती किये गये । संजीत क्षेत्र के इन लोगो को सर्दी खांसी की शिकायत थी । संजीत क्षेत्र की टीम ने इनका परिक्षण किया और कोरोना सेंटर पर भर्ती करने के लिये भेज दिया । इसके अलावा गंभीर मरीजों के उपचार हेतु कोरोना सेंटर पर ही 7 बिस्तर के सुसज्ज्ाित आईसीयू का निर्माण भी तेजी से चल रहा है जिसमें वेंटिलेटर भी होगे, इससे पहले चार बिस्तर का आईसीयू तैयार हो चुका है । नये आईसीयू का निर्माण भी  संभवतः दो तीन दिन में पूरा हो जायेगा । साथ ही कोरोना पॉजिटिव मरीज मिलने के बाद से ही कोरोना के उपचार में जुटे चिकित्सक सहित लेबोरेटरी और अन्य पूरा स्टाफ इन दिनों कोरोना सेंटर पर ही रहने को मजबूर है । हालांकि इनके रहने के लिये प्रशासन ने होटलो को अधिग्रहण करने की तैयारी कर ली थी । नियमानुसार जो स्टाफ और चिकित्सक कोरोना मरीजों का उपचार कर रहे है यदि उसमें  से कोई पॉजिटिव आता है तो किसी को भी घर जाने की अनुमति नही होती है ऐसे में चिकित्सक सहित 22 लोगो का स्टाफ कोरोना सेंटर पर ही रहने को मजबूर हो रहा है । इन्हें अभी तक किसी भी होटल या अन्य जगह शिफ्ट नही किया गया है । संभावना है कि एक दो दिन में इन्हें भी कहीं शिफ्ट कर दिया जायेगा । कोरोना प्रभारी डॉ डीके शर्मा ने बताया कि ऐहतियातन युवती के सभी परिजनों के जांच सेंपल दोबारा जांच के लिये भोपाल भेजे गये है । इसके अलावा संजीत क्षेत्र के दो लोगो को और उपचार के लिये सेंटर पर भर्ती किया गया है । सेंटर पर सुसज्ज्ाित आईसीयू का निर्माण युध्द स्तर पर चल रहा है ।

 जिले में 183 सेम्पल की रिपोर्ट प्राप्त होना शेष

  जिले में 9691 आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई है जिनमें से कुल 8987 यात्रियों को होम एवं कोरेन्टाईन सेन्टर में 14 दिनों के लिये कोरेन्टाईन किया गया है, जिसमें से होम कोरेन्टाईन 4133 एवं कोरेन्टाईन सेन्टर 31 व्यक्तियों को कोरेन्टाईन किया गया। जिसमें से 4823 यात्रियों का कोरेन्टाईन पूर्ण हो चुका है। 232 व्यक्तियों के सेम्पल लिये गये है, जिसमें से 49 की रिपोर्ट प्राप्त हो चुकी है, जिसमें 1 पोजिटीव एवं 48 नेगिटिव पाये गये है। 183 सेम्पल की रिपोर्ट प्राप्त होना शेष है।

 कोविड-19 कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम, बचाव एवं उपचार हेतु द्वितीय चरण में माईक्रोप्लान के अनुसार राजस्थान की सीमा एवं अन्य जिलों से लगे हुए ग्रामों में बाहर से आने वाले व्यक्तियों को कोरोना वायरस के बचाव हेतु सर्वेक्षण एवं सर्दी खांसी के पाये गये मरीजों की जॉच की गई । चिकित्सकीय दल 18 बनाये गये । ब्लाक ब्लाक सीतामउ में 5, ब्लाक संधारा में 2 मेलखेडा 11 इनके द्वारा 46 ग्रामों का भ्रमण किया गया । जिसमें चिकित्सकीय दल एवं पेरामेडिकल, आशाकार्यकर्ता द्वारा सीतामउ में 14, संधारा में 5, मेलखेडा 27 ग्रामों में भ्रमण किया गया है। दलों द्वारा दिनांक 13.04.2020 को जिले में 46 ग्रामों में हाथ धुलाई एवं ब्लीचिंग बनाने की विधि बतायी गयी, जिसमें ब्लाक सीतामउ 14, संधारा में 5, मेलखेडा 27 में बतायी गयी। इसके साथ-साथ लोगों में जागरूकता के उददेश्य के पेम्पलेट वितरण का कार्य किया गया, जिसका उददेश्य लोगों में सोशल डिस्टेंस, मास्क पहनने की विधि, सेनेटाईजर करना अनिवार्य है तथा घरो से बाहर ना निकले, इस संबंध में जानकारी दी गई। इसमें 220 व्यक्तियों की उपस्थित रही। भ्रमण के दौरान सामान्य सर्दी खांसी के 18 मरीज मिले जिनका उपचार किया गया। 19 ग्रामों में ःलोरिन साल्यूशन से स्प्रे का कार्य भी किया गया। सीतामउ में 14 ग्राम, संधारा में 5 ग्रामों में ःलोरिन सोल्यूशन से स्प्रे का कार्य किया गया ।
Chania