Friday, May 7th, 2021 Login Here
रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित, चार महिने में नहीं बन पाया सवा दो सौ मीटर का नाला दूकान का शटर बंद लेकिन अंदर मिले ग्राहक हर दिन आॅक्सीजन आने का दावा लेकिन खत्म नहीं हो रहीं मारा-मारी *रजिस्ट्री की गाइड लाइन 30 जून तक यथावत* MP में 1 मई से शुरू नहीं होगा वैक्सीनेशन पार्ट-3:2.5 लाख डोज की पहली खेप 3 मई तक मिली तो 18+ लोगों को 5 मई से लगेगा टीका, 19 हजार लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन सोमली नदी को पार कर मंदसौर की तरफ आगे बढा चंबल का पानी

शहर की पहली कोरोना पॉजिटिव युवती को कल होंगे 14 दिन पूरे, जांच के लिए जाएगा सेम्पल,रिपोर्ट नेगेटिव आई तो 24 घंटे में दोबारा होगी जांच

 मन्दसौर निप्र। कोरोना पॉजिटिव आने के बाद से ही कोविड-19 सेंटर में सात जिंदगिया उम्मीद की खिड़कियों से झांक रही है। शहर की पहली कोरोना संक्रमित यूवती को कल 14 दिन पूरे होने जा रहे हैं। लेकिन उसने अभी तक बाहर की आबो-हवा नहीं ली है। उसके बाद भर्ती हुए  और लोग भी बाहर झांक भी नहीं पाए हैं। इन सभी को इंतजार है कोरोना से जंग जीतने का ताकि यह फिर से खुली हवा में निकल पाए इन्हें इंतजार है इनकी कोरोना रिपोर्ट के आने का ताकि ये फिर से अपने घर जा सके, अपने परिवार के साथ रह सकें। रात इस उम्मीद से गुजर रही है कि नई सुबह कोई अच्छी खबर लेकर आएगी।कोविड सेंटर में भर्ती 6 हो लोगों की किसी तरह की दिक्कत नहीं है, एक महिला इंदौर के अरविंदो अस्पताल में भर्ती हैं उसकी भी तबियत बेहतर है। इसके अलावा पूरे जिले की हालत भी बेहतर होती जा रही है कोरेन्टीन सेंटर खाली हो रहे हैं, 7 दिनों से नया कोई भी संदिग्ध सामने नहीं आया है ।यह पूरे जिले के लोगों के लिए एक राहत भरी खबर है।

मन्दसौर जिला घरों में बंद है, उसमे भी कंटेन्मेंट एरिया के हालात अलहदा हैं, ईंन क्षेत्रो में पॉजिटिव मरीज के सामने आते ही पूरी तरह से घरों में ही कैद है। उनके गली, मोहल्लों से निकलने का कोई रास्ता ही नही है ।प्रशासन ने भी यहां लक्ष्मण रेखा खींच दी है ,जिसके कारण बेपरवाह लोग भी घर से बाहर नहीं निकल पा रहे। इन दिनों जो घरों में दिन गुजार रहे है, वे यहां की स्थिति जानकर खुद को खुशनसीब भी समझेंगे की उनके मोहल्ले या गली में और कोई पॉजिटिव नही मिला। पूरा कंटेन्मेंट झोंन वीरान है, सड़क पर केवल पुलिस के जवान और प्रशासनिक अमला ही नजर आता है। यहां हर घर में आवश्यक सामग्री पहुंचाने का दावा प्रशासन कर रहा है। जिले में अब तक 8 को कोरोना पॉजिटिव मिले हैंं इसमें से एक महिला की मौत हो चुकी है ।7 मरीजो  का ईलाज मंदसौर के सिद्धिविनायक स्थित कोविड-19 में भर्ती है, एक महिला का उपचार  इंदौर के अरविंदो अस्पताल में चल रहा है।  लेकिन इतना होने के बाद  भी सबसे बड़ी राहत यह है कि पिछले 1 हफ्ते से मंदसौर में कोई भी पॉजिटिव केस नहीं आया है । संदिग्धों की संख्या में भी तेजी से कमी हो रही है मंदसौर के कोरोना सेंटर के प्रभारी डॉ डी.के. शर्मा की माने तो कोरेन्टीन सेंटर में अब केवल 15 ही मरीज भर्ती है और वह भी पूरी तरह ठीक- ठाक है। कोविड-19 6 मरीजों को अपने घर जाने का इंतजार है लेकिन नियमानुसार पॉजिटिव आने के बाद 14 दिन वे उनका सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा जाएगा। यदि वह नेगेटिव आया तो 24 घंटे के भीतर एक बार फिर से सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा जाएगा यदि वह भी नेगेटिव आया तो फिर उन्हें घर जाने की अनुमति मिल जाएगी। ऐसे में मंदसौर शहर की पहली कोरोना पॉजिटिव यूवती को कल यानी 24 अप्रैल को 14 दिन पूरे हो रहे हैं कल उसका सैंपल लेकर जांच के लिए लैबोरेट्री भेजा जाएगा वहां से रिपोर्ट यदि नेगेटिव आ गई तो उसके 24 घंटे में दोबारा सैंपल लिया जाएगा और यदि वह भी नेगेटिव आया तो युवती को घर भेज दिया जाएगा। इसी तरह खिलचीपुरा की महिला को 4 दिन बाद  28 अप्रेल को 14 दिन पूरे होंगे,उसके 1 दिन बाद 29 अप्रैल को मंदसौर के 2,पिपलिया पंथ के 1 और भैसोदा के एक व्यक्ति का सैंपल लिया जाएगा और इसके बाद 30 अप्रैल को बोलिया के युवक का सैंपल लेकर भेजा जाएगा सभी की दो रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद इन्हें घर भेजा जाएगा।
मरीजों के परिजनों को भेजा घर
पॉजिटिव मरीजों के मिलने के बाद इनके परिजनों और संपर्क में आने वाले हर व्यक्ति को स्वास्थ्य विभाग ने कोरेन्टीन  कर इनके सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। लेकिन सभी के सैंपल जांच में नेगेटिव पाए गए इसके बाद सभी पॉजिटिव मरीजों के परिजनों और इनके संपर्क में आने वाले लोगों को घर भेज दिया गया है। युवती के सभी परिजन घर जा चुके हैं, महाजन मोहल्ले के युवक के सभी परिजन घर जा चुके हैं, इसके अलावा खिलचीपुरा की महिला के संपर्क में आने वाले लोगों को घर भेज दिया गया है। परिजनों को भी घर भेजने की तैयारी है,साथ ही भैसोदा युवक के संपर्क में आए लोग भी घर जा चुके हैं, पिपलिया पंथ और बोलियां की भी यही स्थिति है।
रिपोर्ट आने के बाद खुलेंगे कंटेंटमेंट जोन 
बताया जा रहा है कि जिन क्षेत्रों से पॉजिटिव मरीज सामने आए हैं उन सभी को कंटेनमेंट झोंन घोषित कर आवाजाही पूरी तरह से प्रतिबंधित कर रखी है। किसी को भी लक्ष्मण रेखा पार करने की इजाजत नहीं है। प्रशासन यहां सारी जरूरी चीजें दूध, सब्जी इत्यादि मुहैया करा रहा है। लेकिन जब तक पॉजिटिव मरीजों की रिपोर्ट नेगेटिव नहीं आ जाती तब तक यह कंटेनमेंट झोंन बने रहेंगे और तब तक यहां किसी की भी आवाजाही नहीं हो पाएगी। रिपोर्ट आने के बाद ही इन क्षेत्रों को कंटेनमेंट झोंन से मुक्त किया जाएगा।
 14 लाख घरों का घर-घर सर्वे 
 कलेक्टर मनोज पुष्प ने बताया कि कोरोना के पॉजिटिव मरीज सामने आने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम के माध्यम से पूरे जिले भर के करीब 14 लाख घरों का डोर टू डोर सर्वे कराया है। इसके तीन चरण पूरे हो रहे हैं सर्वे के तहत स्वास्थ्य विभाग की टीम घर-घर जा रही है और पता कर रही है कि घर में कोई बीमार तो नहीं है। सर्दी, खांसी,,, बुखार के मरीज तो नहीं है।दूसरे चरण में ऐसे मरीजों के यहां डॉक्टर जाते हैं और उपचार करते हैं तथा कंट्रोल रूम भी इनकी पूरी जानकारी रखता है। प्रशासन ने स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से पूरे डाटा को एकत्र कराया है ताकि पूरी जिलेभर की स्थिति सामने आ सके।
  यह टेबल बनाना है
 किसके कब पूरे होंगे 14 दिन
कहा के है मरीज  पॉजिटिव आने की दिनांक  कब जाएगा सेम्पल

गोल चौराहा की यूवती।  10 अप्रेल।     24 अप्रेल
खिलचिपुरा की महिला। 14 अप्रेल।      28 अप्रेल
महाजन मोहल्ले का युवक। 15 अप्रेल। 29 अप्रेल  
आश्रम की महिला।         15 अप्रेल।    29 अप्रेल
पिपलिया पंथ का युवक।  15 अप्रेल।   29 अप्रेल
भैसोदा का युवक।          15 अप्रेल।    29 अप्रेल
बोलिया का युवक।         16अप्रेल।      30 अप्रेल 

Chania