Friday, May 7th, 2021 Login Here
रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित, चार महिने में नहीं बन पाया सवा दो सौ मीटर का नाला दूकान का शटर बंद लेकिन अंदर मिले ग्राहक हर दिन आॅक्सीजन आने का दावा लेकिन खत्म नहीं हो रहीं मारा-मारी *रजिस्ट्री की गाइड लाइन 30 जून तक यथावत* MP में 1 मई से शुरू नहीं होगा वैक्सीनेशन पार्ट-3:2.5 लाख डोज की पहली खेप 3 मई तक मिली तो 18+ लोगों को 5 मई से लगेगा टीका, 19 हजार लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन सोमली नदी को पार कर मंदसौर की तरफ आगे बढा चंबल का पानी
*टकरावद(पंकज जैन)*;- सरकार कितनी ही योजनाओं चलाये लेकिन उनका क्रियान्वयन करने वाले लापरवाह हो तो फिर जनता की उन योजनाओं का लाभ नही मिल पाता है मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा गरीब परिवारों के लिए मुख्यमंत्री संबल योजना चलाई गई थी जिसमें पंजिकृत परिवार के सदस्य की मृत्यु होने पर उनके परिवारजनों को 200000 की आर्थिक सहायता दी जाती है लेकिन कमलनाथ सरकार बनते है संबल योजना के पात्र परिवारों का भौतिक सत्यापन कराया गया था लेकिन संबल योजना में गलत भौतिक सत्यापन करने के कारण श्रमिक परिवार को शासन की योजना का लाभ नहीं मिल पाया जनपद पंचायत मल्हारगढ़ की ग्राम पंचायत गोपाल पूरा में मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना के श्रमिक पवनदास बैरागी पिता प्रकाशदास का पंजीकरण किया गया था लेकिन सहायक सचिव छगनलाल द्वारा भौतिक सत्यापन के दौरान पवनदास को 3 सितंबर 19 को यह लिख कर अपात्र कर दिया कि पवनदास की उम्र 18 वर्ष से कम है जबकि पवनदास की आयु 12-3-98 है जो अंकसूची व श्रमिक पंजीयन में भी दर्ज है पवनदास की 23 -7-2020 को एक हादसे में मौत हो गई लेकिन श्रमिक पंजीयन में अपात्र होने के कारण उसके परिजनों को आर्थिक सहायता नही मिल रही है जिसकी शिकायत पवनदास के परिजनों ने जिला कलेक्टर से उक्त मामले की जांच करवाकर लापरवाही करने वालो के खिलाफ करवाही की मांग की इनका कहना;-श्रमिक पँजियनो का भौतिक सत्यापन आधार कार्डो के आधार पर किया गया था आधार कार्ड नही होने से मुझ से चूक हो गई है छगनलाल चोहान सहायक सचिव ग्राम पंचायत गोपालपूरा
Chania