Friday, May 7th, 2021 Login Here
रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित, चार महिने में नहीं बन पाया सवा दो सौ मीटर का नाला दूकान का शटर बंद लेकिन अंदर मिले ग्राहक हर दिन आॅक्सीजन आने का दावा लेकिन खत्म नहीं हो रहीं मारा-मारी *रजिस्ट्री की गाइड लाइन 30 जून तक यथावत* MP में 1 मई से शुरू नहीं होगा वैक्सीनेशन पार्ट-3:2.5 लाख डोज की पहली खेप 3 मई तक मिली तो 18+ लोगों को 5 मई से लगेगा टीका, 19 हजार लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन सोमली नदी को पार कर मंदसौर की तरफ आगे बढा चंबल का पानी

जलकल बढ़ोतरी के खिलाफ सभी पार्षद हुए लामबद्ध, अलावदाखेड़ी सीसी पर भी जमकर बहस
मंदसौर जनसारंगी।
 नगरपालिका परिषद की बैठक में रखे गए बारह प्रकरणों में से ग्यारह पर बहुमत के आधार पर हरी झंडी मिल गई। जलकल में बढ़ोतरी के प्रकरण पर दोनों ही दलों के पार्षदों ने आपत्ति जताई। जिसके बाद इस प्रकरण को निरस्त कर दिया गया। इसके अलावा वैसे तो लगभग सभी प्रकरणों में कोई खास आपत्ति पार्षदो ने दर्ज नहीं कराई लेकिन अलावदाखेडी क्षेत्र में बनने वाली सीसी रोड को लेकर कांग्रेस पार्षदों ने जमकर विरोध दर्ज कराया। इसको लेकर खासी बहस भी हुई, लेकिन बहुमत के आधार पर इस प्रकरण को भी हरी झंडी दे दी गई। इस दौरान कांग्रेस पार्षदों ने उन पर भू माफियाओं को लाभ पहुंचाने के आरोप भी लगाए  और कहा कि  मिड इंडिया रेलवे फाटक हेतु शेष राशि जारी करने की वजह नपा अध्यक्ष जमीन कारोबारियों का हित साधने में लगे हैं। अंडरब्रिज के लिए राशि देने की बजाय रसूखदार कॉलोनाइजर को लाभ पहुंचाया जा रहा है।
वर्तमान परिषद की अंतिम बैठक नगरपालिका सभाकक्ष में आहुत हुई। जिसमें बारह प्रकरण रखे गए थे। शमशान घाट के पास कांजी हाउस रोड अलावदाखेडी नाले तक सीसीरोड निर्माण का प्रस्ताव भी परिषद की बैठक में रखा गया। जिसका कांग्रेस पार्षदों ने जमकर विरोध किया। कांगे्रस पार्षदों का कहना था कि कॉलोनाईनजर को लाभ पहुंचाने के लिए इस रोड का निर्माण किया जा रहा है। इसको लेकर सभी कांग्रेस पार्षदों ने हाथ खडे करके विरोध किया। इसके अलावा खासी बहस भी इसमें हुई। आरोप प्रत्यारोप का दौर भी चला। हालंाकि भाजपा पार्षदों के समर्थन के साथ ही बहुमत के आधार पर यह प्रस्ताव पास कर दिया गया। इसके अलावा ठोस अपशिष्ट प्रबंधन ओर जलप्रदाय में होने वाले व्यय की शत प्रतिशत प्रतिपूर्ति हेतु उपभोक्ता शुल्क की प्रचलित दरों में बढ़ोतरी का प्रकरण भी परिषद की बैठक में रखा गया। इसको लेकर न सिर्फ कांग्रेस पार्षदों ने विरोध किया, बल्कि भाजपा पार्षदों ने भी एकजुट होकर इस प्रकरण का विरोध किया। जिसके बाद इसे निरस्त कर दिया गया। इस तरह से ग्यारह प्रकरण बैठक में बहुमत के आधार पर पास कर दिए गए।
इस बैठक में नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष एवं कांग्रेस नेता मोहम्मद हनीफ शेख ने पूर्व परिषद की बैठक मैं 62 प्रस्ताव के बाद किसी भी प्रस्ताव पर चर्चा और हरी झंडी नहीं देने के मुद्दे पर श्री कोटवानी को जमकर घेरने की कोशिश की। इस आरोप का जवाब देने के बजाय श्री कोटवानी ने कांग्रेस पार्षदों से हाथ खड़े करवाकर एजेंडे में विरोध दर्ज करवाया। श्री शेख का आरोप यह भी था कि मिड इंडिया अंडर ब्रिज कि शेष बकाया राशि तो जमा नहीं करवाई जा रही है और रसूखदार कॉलोनाइजरों को लाभ पहुंचाने का उद्देश्य है। 1 करोड़ 12 लाख की लागत से अलावड़ाखेड़ी सड़क और डिवाइडर का निर्माण किया जा रहा है। यह नगर की जनता के टैक्स जमा गाढ़ी कमाई का दुरुपयोग है। इसके साथ ही कांग्रेस की पार्षद रूपल संचेती ने भी नगर से निकलने वाले महू नीमच मार्ग के डिवाइडर निर्माण को लेकर जमकर नपा अध्यक्ष को कोसने में कोई कसर बाकी नहीं रखी। उन्होंने कहा कि रोड पर बना डिवाइडर तो लोक निर्माण विभाग का है और अब नगर पालिका 3 करोड की राशि व्यय कर डिवाइडर का निर्माण करने जा रही थी। इस डिवाइडर निर्माण का क्षेत्र के विधायक यशपालसिंह सिसोदिया और नगरपालिका उपाध्यक्ष सुनील जैन महाबली विरोध नहीं करते तो अभी तक तो रोड पर डिवाइडर का निर्माण हो जाता, जबकि यह रोड लोक निर्माण विभाग का है। अध्यक्ष और नगर पालिका के अधिकारियों को न तो लोकायुक्त का भय और न हीं जेल जाने का डर है। इसी कारण आंख मीच कर फाइलों पर हस्ताक्षर करते जा रहे हैं। कल तक तो राम कोटवानी डिवाइडर निर्माण का विरोध कर रहे थे लेकिन अब ऐसा क्या हो गया कि वह डिवाइडर निर्माण के पक्षधर हो गए। रूपल संचेती ने आरोप लगाया कि नगर पालिका अध्यक्ष श्री कोटवानी ने शिवना शुद्धिकरण के लिए पार्षदों से सुझाव मांगे थे परंतु शिवना शुद्धिकरण की दिशा में नगर पालिका की ओर से कोई पहल आज तक नहीं की गई है। कांग्रेस पार्षद शाकेरा खेड़ीवाला ने कहा कि परिषद की अंतिम बैठक है। बैठक के प्रस्तावों में भ्रष्टाचार जैसी कोई बात नहीं हो तो सबको एकमत होकर उन प्रस्तावों को मंजूरी देनी चाहिए। जलकल समिति सभापति दीपिका नीलेश जैन ने उनके वार्ड में विकास कार्यों को अमलीजामा पहनाने पर धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि इन दिनों देश में कोरोना की महामारी का दौर चल रहा है। इस कारण परिषद की बैठक में जलकर की वृद्धि नहीं की जाना चाहिए। भाजपा पार्षद लिखिता आशीष गौड़ ने उनके वार्ड में 5 वर्षों के अंतराल में हुए विकास कार्यों के लिए परिषद को धन्यवाद ज्ञापित किया है। नगरपालिका उपाध्यक्ष सुनील जैन महाबली ने कहा कि मिड इंडिया अंडर ब्रिज के लिए शेष राशि की व्यवस्था क्षेत्र के सांसद और विधायक के माध्यम से प्रदेश की सरकार से लाने के प्रयास किए जाएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि जलकर वृद्धि नहीं होना चाहिए। भाजपा पार्षद एवं सभापति संध्या अरुण शर्मा ने भी उनके वार्ड में हुए विकास कार्यों के लिए परिषद को धन्यवाद दिया।
बैठक में यह थे उपस्थित
परिषद की अंतिम बैठक में मुख्य नगरपालिका अधिकारी पीके सुमन के साथ ही पार्षद मुकेश खमेसरा, यशवंत भावसार, निशांत बग्गा, संगीता नरेंद्र शर्मा, नरेंद्र बारिया, विनोद डगवार, रंजना पाटिल, इस्माइल खान मेव, अंगुरबाला करर्नावट, रुखसार गोरी, संगीता गोस्वामी, अनिल मालवीय, डिकपालसिंह भाटी, विद्या पुखराज दशोरा, सुनीता बाहेती, रश्मि राठौर, श्रवण रजवानियां, पुलकित पटवा, जितेंद्र सोपरा, अनिता भांबी, दीपिका खींची, नारायण कुरारिया, शबीना बी, रेखा राजेश सोनी, सरस्वती ग्वाला, मुमताज खां तथा विधायक प्रतिनिधि प्रहलाद डगवार की उपस्थिति रही है।
इनका कहना
मैने शहर की जनता के 2 हजार नामातंरण किए है और अभिनंदन नगर सहित पूरे शहर का विकास किए लेकिन कांग्रेस के लोगों को यह रास नहीं आ रहा है। इसी के चलते कांग्रेस ने इन प्रस्तावों का विरोध किया है । 2 हजार नामातंरण प्रकरण और विकास मेरे घर का नहीं हुआ है लेकिन कांग्रेस के लोग इस विकास को पचा नहीं पा रहे है। विकास कार्य होते रहेगें, मेरा लक्ष्य शहर की जनता के काम करना है । आने वाले दो-तीन दिनों बाकी के लंबित मामलों को भी निपटा लेगें।
राम कोटवानी
अध्यक्ष नपा
परिषद की बैठक में शमशान से अलावदाखेड़ी तक के रोड़ की फाईल तेजी से चली है लेकिन मंदसौर में ऐसे कई मार्ग है जहां डिवाईडर की आवश्यकता है वहां नहीं बन रहीं है और ऐसी सड़क जो प्रधानमंत्री सड़क में आती है उसकी एनओसी नहीं मिली है बावजूद एक करोड़ 20 करोड की राशि भूमाफियाओं को लाभ देने के लिए खर्च की जा रहीं है। मिड इंडिया ब्रिज का काम जल्दी होना चाहिऐ था लेकिन उस पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है। अलावदाखेड़ी नपा की सीमा में ही नहीं है उसका विकास कराया जा रहा है। इस पर भाजपा पार्षदों ने भी विरोध जताया लेकिन फिर भी इसे पास कर दिया गया। एनजीटी पर बैठक में चर्चा नहीं की गई। चंबल योजना के नाम पर तीन बार जलकर वृद्धि हो चूकी है लेकिन आज तक पानी नहीं आया है लेकिन फिर से राशि बढाने का प्रस्ताव लाया गया इसका विरोध कांग्रेस ने किया है।
हनिफ शेख, पूर्व नपाध्यक्ष
इन प्रकरणों को मिली हरी झंडी
1-वार्ड दस शुक्ला कॉलोनी मुख्य सडक की नालिया एवं गली की नालिया निर्माण कार्य।
2-वार्ड चालिस की विभिन्न गलियों में सीसी रोड एवं नाली निर्माण।
3-वार्ड चालिस कैलाश नगर किटीयानी में मांगलिक भवन निर्माण।
4-वार्ड नौ की समस्त गलियों एवं मार्गों पर डामरीकरण निर्माण।
5-वार्ड पांच अभिनंदन मेन में नाली निर्माण।
6-वार्ड उनचालिस में सीसी रोड निर्माण।
7-पदमावती रिसोर्ट से रोड चैडीकरण एवं डिवाईडर सेंटर लाकिंग निर्माण।
9-वार्ड दस के मुख्य मार्गों एवं विभिन्न गलियों में सीसी रोड एवं नाली निर्माण।
10-वार्ड पांच, ग्यारह और बारह के मध्य शमशान घाट के पास से कांजी हाउस रोड अलावदाखेडी नाले तक सीसी रोड निर्माण।
11-वार्ड उनतीस बुगलिया नाला खानपुरा पंप हाउस निर्माण।
12-एनजीटी के आदेश के पालन करने संबंधित चर्चा।
Chania