Friday, May 7th, 2021 Login Here
रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित, चार महिने में नहीं बन पाया सवा दो सौ मीटर का नाला दूकान का शटर बंद लेकिन अंदर मिले ग्राहक हर दिन आॅक्सीजन आने का दावा लेकिन खत्म नहीं हो रहीं मारा-मारी *रजिस्ट्री की गाइड लाइन 30 जून तक यथावत* MP में 1 मई से शुरू नहीं होगा वैक्सीनेशन पार्ट-3:2.5 लाख डोज की पहली खेप 3 मई तक मिली तो 18+ लोगों को 5 मई से लगेगा टीका, 19 हजार लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन सोमली नदी को पार कर मंदसौर की तरफ आगे बढा चंबल का पानी

पुलिस ने छापामार कार्रवाहीं कर उत्तरप्रदेश से युवतियों को मुक्त कराकर एक आरोपी को किया गिरफ्तार
मंदसौर जनसारंगी।
मंदसौर जिले के सुवासरा में शिवराज सरकार के लव जिहाद के खिलाफ बनाऐ गए धार्मिक स्वतंत्रता अध्यादेश 2020 लागू होने के बाद पहली कार्रवाहीं हुई है। आरोप है कि दो युवकों ने अपनी धार्मिक पहचान छुपाकर जिले की दो नाबालिक युवतियों को प्रेम जाल में फांसा और शादी का झांसा देकर उत्तप्रदेश के चांदपुर बुलाया और वहां युवतियों से विवाह करने के बजाय उनका शारीरिक शोषण किया। पुलिस ने कार्रवाहीं करते हुए दोनो नाबालिक बालिकाओं को आरोपियों के कब्जे से मुक्त कराकर एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया तथा दूसरे की तलाश की जा रहीं है।
जानकारी के अनुसार सुवासरा थाना क्षेत्र की नाबालिक युवतियों के पिता ने 1 फरवरी को दोो युवतियों के गुम होने की सूचना दी थी जिसके बाद पुलिस ने जांच शुरू की और पुलिस के मुखबिर तंत्र को भी सक्रिय किया इसी दौरान पुलिस को मुखबिर से महत्वपूर्ण सूचना मिली जिसके आधार पर पुलिस की टभ्म दिल्ली पहुंची लेकिन वहां दोनो युवतियां नहीं मिली लेकिन इसी दौरान पुलिस को एक और सूचना मिली जिसके आधार पर पुलिस टीम अलग -अलग ठिकानों पर दबीष देते हुए गाँव चाँदपुर जिला बिजनोर उ.प्र. पहुँची जहाँ पुलिस को सूचना मिली कि उक्त दोनों लडकियों को एक घर में बंद करके रखा हुआ है। पुलिस टीम द्वारा दोनों नावालिक लडकियों को मौके से छापामार कार्रवाही कर मुक्त करा लिया। पुछताछ के दौरान दोनों नाबालिक लडकियों ने पुलिस को बताया कि उनकी फोन पर राँग नम्बर लगाने के साथ ही बातचीत शुरू हुई थी इसके बाद एक लडके से दोस्ती हुई जिसने शादी करने का झांसा दिया और बहला -फुसला कर दोनों लडकियों को अपने साथ चाँदपुर ले गया। इससे पहले आरोपी साहिल ने विकास बनकर बात की एवम् आरोपी इरफान ने आकाश बनकर बात की । इस तरह दोनों लडकियों को शादी करने के लिये आरोपियों ने गलत नाम एवम् गलत धर्म बताकर बहला फुसला कर झाँसा दिया। पुलिस ने बताया कि त्वरित कार्यवाही करते हुए दोनों लडकियों को आरोपीगणों साहिल व इरफान के कब्जे से बचाकर मुक्त कराया तथा एक आरोपी साहिल को मौके से गिरफ्तार किया एवं एक अन्य आरोपी इरफान फरार है जिसकी तलाश जारी है। उक्त घटना मे दोनों आरोपियों के विरूद्ध थाना सुवासरा पर अपराध क्रमांक 40/21 धारा 363,366,376(2)एन,376(3) भादवि 2,4(2),17 पाक्सो एक्ट, 3,2(ट)3 एससी एसटी एक्ट एवं मध्यप्रदेश धार्मिक स्वतंत्रता अध्यादेश 2020 के अंतर्गत पंजीबद्ध का विवेचना में लिया गया।उक्त  कार्यवाही में  राकेश चैधरी, थाना प्रभारी सुवासरा, उनि रितेश डामोंर, सउनि हेमन्त शर्मा, आर 518 महेन्द्र झाला व सायवर सेल आरक्षक 639 आशीष बैरागी का विशेष योगदान रहा।

Chania