Friday, May 7th, 2021 Login Here
रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित, चार महिने में नहीं बन पाया सवा दो सौ मीटर का नाला दूकान का शटर बंद लेकिन अंदर मिले ग्राहक हर दिन आॅक्सीजन आने का दावा लेकिन खत्म नहीं हो रहीं मारा-मारी *रजिस्ट्री की गाइड लाइन 30 जून तक यथावत* MP में 1 मई से शुरू नहीं होगा वैक्सीनेशन पार्ट-3:2.5 लाख डोज की पहली खेप 3 मई तक मिली तो 18+ लोगों को 5 मई से लगेगा टीका, 19 हजार लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन सोमली नदी को पार कर मंदसौर की तरफ आगे बढा चंबल का पानी

भारी भीड़ मौके पर जूटी, एसपी ने दिया आश्वासन
मंदसौर जनसारंगी।

शनिवार की रात करीब 9 बजे भागवताचार्य पं दशरथ भाईजी के साथ वाहन चैकिंग के बहाने दशरथ नगर के निकट नई आबादी थाने के सहायक उपनिरीक्षक लालसिंह डोडिया द्वारा अभद्रता किए जाने के बाद हिन्दु संगठनों में आक्रोश छा गया, मौके पर हिन्दु संगठनों के साथ ही आम लोगों की भारी भीड़ जमा हो गई। लोगों ने रोष व्यक्त करते हुए पुलिस कर्मी पर कार्रवाहीं की मांग की। इस दौरान शहर कोतवाली टीआई गोपाल सूर्यवंशी दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे और आक्रोशित लोगों को समझाने की कोशिश की लेकिन लोगों का आक्रोश कम नहीं हुआ बाद में भीड़ पुलिस कप्तान के निवास पर पहुंची जहां पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ चैधरी से चर्चा कर कार्रवाहीं की मांग की इस दौरान पुलिस कप्तान ने जांच का आश्वासन देकर सभी को शांत किया। उधर पूरे घटनाक्रम को लेकर सांसद सुधीर गुप्ता ने भी दुरभाष पर पुलिस अधीक्षक श्री चैधरी से चर्चा की कार्रवाही करने के लिए कहा।
जानकारी के अनुसार पं दशरथ भाईजी अपने निजी वाहन से अपने निवास संजीत मार्ग की और जा रहे थे इसी दौरान पुलिस की गाडी ने ओव्हरटेक कर दशरथ नगर में सांई मंदिर के निकट रोक लिया। जहां नई आबादी थाने के सहायक उपनिरीक्षक लालसिंह डोडिया ने भाईजी के साथ अभद्रता करते हुए उन्हें थाने ले जाने लगे तभी मौके पर आसपास के कई लोग जमा हो गए। खबर आग की तरह शहर में पहुंची और हिन्दु संगठनों के भी सैकड़ों लोग मौके पर जमा हो गए। आम जनता और हिन्दु संगठनों के बडते आक्रोश के बीच शहर कोतवाली टीआई गोपाल सूर्यवंशी भी दल-बल के साथ मौके पर पहुंचे जहां हिन्दु संगठन के कार्यकर्ताओं ने घटना पर रोष जताते हुए उपनिरीक्षक पर कार्रवाहीं की मांग की। इस दौरान अभद्रता करने वाले सहायक उपनिरीक्षक डोडिया को भी कोतवाली भेजा गया। बाद में आक्रोशित कार्यकर्ता पुलिस अधीक्षक के निवास पर पहुंचे और पूरी घटना को लेकर चर्चा की। इस दौरान पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ चैधरी ने कहा कि वे पूरे मामलें की जांच कराऐगें जो भी दोषी पाया जाएगा कार्रवाहीं की जाऐगी।  


इस सम्बंध में पं दशरथ भाई जी का कहना है कि वे अपने वाहन से आ रहै थे पुलिस ने मुझे रूकने के लिए इशारा किया तो मैने गाड़ी धीमी कर उनसे चर्चा की पुलिस ने इशारा कर जाने का संकेत दिया  तो मुझे लगा कि पुलिस संतुष्ट हो गई। इसी के चलते मै अपने घर की और जाने के लिए निकल गया था। आगे आकर पुलिस ने मेरी गाड़ी ओवरटेक कर मुझे रोका ओर उचित बातचीत नही की ।

 शहर कोतवाली टीआई गोपाल सूर्यवंशी ने कहा कि नई आबादी थाने के सहायक उपनिरीक्षक लालसिंह डोडिया मोबाईल ड्यूटी पर थे इस दौरान खिड़की माता मंदिर के यहां एक गाडी दिखाई दी जिसे रोकने की कोशिश की तो गाड़ी को तेज रफ्तार से निकलने पर संदेह हुआं । ऐसे में एएसआई ने पीछा कर गाडी को रोका, बाद में पता लगा कि उसमें संतगण थे। मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई थी,। सारे घटनाक्रम से वरिष्ठ अधिकारी अवगत है।  जांच मे दोषी पाया जाने पर कार्रवाहीं की जाऐगी।
Chania