Monday, May 17th, 2021 Login Here
कोरोना के गंभीर रोगियों का उपचार सर्वसुविधायुक्त बड़े अस्पतालों में होना जरूरी पुलिस और डाक्टर की पकड़ में कोरोना से सुरक्षित आम आदमी लेकिन लापरवाह लोग बन रहे मुश्किल मंदसौर के मनोज ने कर दिया 200 रूपऐ में आॅक्सी फ्लो मीटर का निर्माण वायरल विडियों ने मंदसौर की दादी को बना दिया स्टाॅर मंदसौर जिला चिकित्सालय में अक्षय तृतीया से सीटी स्कैन मशीन से जांच होना हुई प्रारंभ वित्त मंत्री श्री देवड़ा के निर्देश पर गृह मंत्रालय ने मल्हारगढ़ ब्लॉक कोविड-19 आपदा प्रबंधक मैनेजमेंट कमेटी का गठन कलेक्टर द्वारा किया गया *शामगढ़ में 85 वर्ष के बूढे व्यक्ति का घर से मृत अवस्था मे मिला शव* खुशियों की दास्तां /मल्हारगढ़ कोविड केयर सेंटर से आज 3 व्यक्ति स्वस्थ होकर घर गए प्रशासन ने मीटिंग बुलाकर ईद घर पर ही मनाने हेतु समझाइश दी । अपने अपने मोहल्ले मैं सख्ती से कर्फ्यू का पालन करवाना और दवाई वितरण करवाना हम सबकी जवाबदेही है: श्री पँवार *जिले में रक्त स्त्रोतम संस्थान द्वारा कराया गया पहला प्लाज्मा डोनेशन जनसारंगी --प्रसंगवश./ सर्वसमावेशी समाज के संस्थापक भगवान परशुराम. दो लाख खर्च होने के बाद भी नहीं बनी खाद, पिट बन गऐ डस्टबिन हॉटस्पॉट में बेखौफ चल रहीं सब्जी मंडी, लोगों की जमा हो रहीं भीड़ महामारी से निपटने आर्थिक सहयोग में आगे आ रहे नागरिक

मंदसौर, मल्हारगढ़ विधानसभा समेत मुख्यालय को भी मिलेगा फायदा

मंदसौर जनसारंगी।
राज्य सरकार प्रदेश में केंद्रीय विद्यालय की तर्ज पर सीएम राईज स्कूल खोलने जा रही है। हिंदी-अंग्रेजी दोनों माध्यम में संचालित होने वाले ये स्कूल विश्वस्तरीय सुविधाओं (स्वीमिंग पूल, बैंकिंग काउंटर, डिजिटल स्टूडियो, कैफेटेरिया, जिम, थिंकिंग एरिया) से लैस होंगे। इनमें प्री-नर्सरी से हायर सेकंडरी की कक्षाएं संचालित होंगी। इन स्कूलों में 15 से 20 किमी की परिधि में रहने वाले बच्चे पढ़ेंगे और उन्हें स्कूल तक लाने व घर छोड़ने के लिए सरकार बस, वैन की सुविधा उपलब्ध कराएगी। सरकार ने इस योजना पर काम शुरू कर दिया है। जिसके तहत मंदसौर विधान सभा के ग्राम साबाखेडा में स्कूल खोले जाने की अनुशंसा विधायक यशपालसिंह सिसोदिया ने आयुक्त लोक शिक्षण संचालनालय को की है। ग्राम साबाखेडा को डाक्टर और इंजीनियर जैसी प्रतिभाएं देश को देने वाला गांव माना जाता है। यहां सीएम राईज योजना में स्कूल खुलने से मंदसौर और मल्हारगढ़ विधानसभा के साथ ही जिला मुख्यालय को भी फायदा होगा।
वरिष्ठ विधायक यशपालसिंह सिसोदिया ने बताया कि मध्यप्रदेश के बच्चे पढ़ाई के मामले में सीबीएसई और आईसीएसई बोर्ड के बच्चों से मुकाबला कर सकें, इसलिए मप्र शासन मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान की सीएम राईज स्कूल की महत्वाकांक्षी योजना आगामी शिक्षण सत्र से प्रारम्भ कर रहा है जिसमे सरकार 20 करोड़ रूपऐ से अधिक खर्च कर सीएम राईज स्कूल प्रारम्भ करने जा रहीं है। ये स्कूल चार स्तर (संकुल से नीचे, संकुल, ब्लॉक और जिला) पर तैयार होंगे। इन स्कूलों में पढ़ाने के लिए शिक्षकों को परीक्षा देनी होगी और उन्हें नियमित शिक्षकों की तुलना में ज्यादा वेतन दिया जाएगा। शिक्षकों को स्कूल परिसर में ही मकान भी मिलेगा, ताकि उनके अप-डाउन में उलझने से बच्चों की पढ़ाई प्रभावित न हो। इन स्कूलों में बच्चों का ड्रेस कोड भी निजी स्कूलों जैसा ही होगा।
 श्री सिसोदिया ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री 
चौहान की महत्वाकांक्षी सीएम राईज योजना के तहत मंदसौर में एक विद्यालय खोला जाना है। जिसके लिए मुझसे भी अनुशंसा चाही गई थी। इसलिए साबाखेडा की अनुशंसा की गई है क्योंकि जिला मुख्यालय पर उत्कृष्ट विद्यालय के अलावा दो अन्य हायर सेकंडरी विद्यालय हैं, उनमें भूमि का अभाव है। जिला मुख्यालय के समीपस्थ ग्राम साबाखेड़ा जो एक आदर्श ग्राम भी है, यहां कि प्रतिभाओं ने पहले भी डॉक्टर और इंजीनियर बन कर गांव और जिले का नाम रोशन किया है। यह जिला मुख्यालय के पास होने के साथ ही मल्हारगढ़ और मंदसौर ऐसी दो विधानसभाओं के गांवों को लाभान्वित करने में सक्षम होगा। विधायक श्री सिसोदिया ने कहा कि इन सभी सकारात्मकता को देखते हुए साबाखेड़ा विद्यालय को सीएम राईज विद्यालय हेतु चयनित किए जाने की अनुशंसा प्रेषित की है। उन्होंने अपना अनुशंसा पत्र आयुक्त लोक शिक्षण संचालनालय को प्रेषित कर दिया है।

क्या मिलेगी सुविधाऐं
सीएम राईज स्कूल में कवर्ड कैंपस, स्मार्ट रूम, स्मार्ट क्लास, आईटीसी लैब (कम्प्यूटर लैब), म्यूजिक रूम, आर्ट एंड क्राफ्ट रूम,बैंकिंग काउंटर, कैफेटेरिया, क्रिएटिव थिंकिंग एरिया, जिम,एनसीसी ,ऑडिटोरियम और शिक्षकों के लिए मकान के साथ स्वीमिंग पूल, डिजिटल स्टूडियो, ट्रेक एंड फील्ड की सुविधा दी जाएगी।

Chania