Monday, May 10th, 2021 Login Here
निजी क्लिनिक को दोबारा सील करने के विरोध में उतरे नागरिक आपदा में सहारा बन रहे मंदसौर के सेवाभावी व्यक्तित्व जनसारंगी ने किया था आगाह, पुलिस कार्रवाहीं ने लगाई खबर पर मोहर/ अस्पताल से सांसे चुराकर कालाबाजारी में बेच रहे युवक पर रासुका महामृत्युंजय जाप के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे ओर कोरोना महामारी होगी खत्म आपदा में अंतिम सफर के संस्कार का इंतजाम करने आगे आऐ भामाशाह कोरोना का कहर/ आठ दिन में शहर से ढाई गुना मौते ग्रामीण अंचल में हुई ! कोरोना का कहर/ आठ दिन में शहर से ढाई गुना मौते ग्रामीण अंचल में हुई ! भोईवाडा की घटना के बाद मंदसौर में पुलिस का फ्लेग मार्च जावरा विधायक से पंगा और मंदसौर के हिस्सें की आॅक्सीजन रोकना भरी पड़ा कलेक्टर को, विधायक सिसोदिया की सीएम के समक्ष कड़ी आपत्ति के बाद विवाह की खुशी में भूल गए लाॅकडाउन के आदेश/ शादि में मेंहमान बन कर पहुंच गऐ एसडीएम और टीआई बीस दिन लाॅकडाउन के बाद भी कोरोना काबू नहीं हुआ तो अब सीएम के निर्देश के बाद मंदसौर में भी शुरु हुआ सख्ती वाला लॉक डाउन कोरोना के तांडव की हकीकत बयां करती मंदसौर के शमशान की सच्चाई ! कोरोना से जंग में भारतीय जैन संघठना ने नृत्य नाटिका के माध्यम से दिया सकारात्मकता का सन्देश रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर
श्री सिसोदिया की मांग पर शासन ने दिए आदेश
मंदसौर  जनसारंगी।
मिड इंडिया फाटक पर बन रहे अंडरब्रिज को लेकर फाटक पार की 30 हजार से अधिक आबादी का इंतजार अब विधायक यशपालसिंह सिसोदिया के प्रयासों से शीघ्र ही खत्म होने वाला है। भूगतान के अभाव में काम पूरा होने में देरी को लेकर उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान को 25 दिसम्बर को पत्र लिखा था और विधानसभा में भी इसकों लेकर प्रश्न लगाते हुए आग्रह किया था कि नगर पालिका की संचित निधि में से मिड इंडिया ब्रिज के लिए राशि दिए जाने का आग्रह किया था जिसे सोमवार को प्रदेश सरकार के नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग ने स्वीकार कर लिया और 1 करोड़ 79 लाख रूपऐ की राशि संचित निधि से आहरित कर उसे खर्च किए जाने की स्वीकृति प्रदान कर दी।
मिड इंडिया अंडरब्रिज को लेकर क्षेत्रवासियों की लंबे समय से मांग थी जिस पर स्वीकृति के बाद  24 फरवरी से देवसी गोविंदजी परमार, गांधीधाम गुजरात निर्माण एजेंसी ने अण्डरब्रिज का निर्माण प्रारम्भ किया लेकिन 22 मार्च में लाॅकडाउन के कारण दो महिनों तक काम नहीं हो पाया इसके बाद काम शुरू हुआ तो जुलाई में ठेकेदार ने भुगतान नहीं होने के कारण काम बंद कर दिया। करीब 15 दिन तक काम बंद रहा। इसके बाद भुगतान मिलने पर काम शुरू हुआ। ठेकदार ने फाटक के दूसरी तरफ अफीम गोदाम रोड की तरफ खोदाई की। आठ माह में दोनों तरफ की खोदाई को पूरा किया और इसके तत्काल बाद पिलर बनाने का काम शुरू ही हुआ था कि इसी बीच फिर से काम बंद हो गया था यहां काम कर रहे ठेकेदार के कर्मचारियों ने इस बार भुगतान नहीं मिलने एवं विद्युत कनेक्शन में दिक्कत बताई थी । ऐसे में विघुत समस्या की बाधा को दूर करते हुए काम को तो फिर से  शुरू करा दिया गया लेकिन राशि के अभाव में काम गति नहीं पकड़ पा रहा है। ऐसे में मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान को 25 दिसम्बर 2020 को पत्र क्रमांक 69 के माध्यम से विधायक यशपालसिंह सिसोदिया ने मिड इंडिया अंडर ब्रिज के लिए शासन से अनुदान प्राप्त होने की अपेक्षा के संदर्भ में नगर पालिका की संचित निधि से अस्थाई रूप से उपयोग किए जाने का आग्रह किया था । श्री सिसोदिया ने इस मांग को प्रश्न के माध्यम से भी विधानसभा में लगाया जिसके बाद आज मप्र शासन के नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग ने मुख्य नगर पालिका अधिकारी को पत्र जारी कर कहा कि मध्यप्रदेश नगर पालिका बजट अनुभ्मान नियम 1962 के उप नियम 4/बी के प्रथम परंतुक के अनुसार नगर पालिका परिषद मंदसौर को परिषद की संचित निधि में से मिड इंडिया रेलवे अंडरब्रिज निर्माण हेतु 1 करोड़ 79 लाख रूप्ऐ  आहरित कर व्यय करने की स्वीकृति इस शर्त के साथ प्रदान करती है कि निकाय नियमित जमा की जाने वाली राशि के अतिरिक्त स्वीकृति उपरांत आहरित की जाने वाली राशि को 36 किश्तों में पुनः नियमित रूप से जमा करेगी।
जनता को रहीं है रोज  दिक्कत
मिड इंडिया अंडरब्रिज का निर्माण पूरा नहीं हो पाया है और दूसरी तरफ संजीत मार्ग पर भी ओव्हरब्रिज का काम शुरू होने के कारण फाटक को बंद कर दिया गया है । ऐसे में फाटक पार के हजारों लोगों के आवागमन का एक ही मुख्य मार्ग गीता भवन अंडरब्रिज बन गया है जिसके कारण हर दिन वहां जाम की स्थिति बन रहीं है और लोगों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में हर व्यक्ति की जुबां पर मिड इंडिया अंडर ब्रिज के काम को शीघ्र पूरा किए जाने की मांग है ताकी लोगों को दिक्कतों से राहत मिल सके।
फैक्ट फाइल-----
कार्य का नाम-मिड इंडिया अंडरब्रिज
-लागत-7.65 करोड़
-अंडरब्रिज की लंबाई-170 मीटर
-ब्लॉक-44 मीटर
-दोनो तरफ ओपन-60-60 मीटर
-अंडरब्रिज की ऊंचाई -3.2 मीटर
-अंडरब्रिज में सडक तक-5-5 मीटर की अपडाउन सड़क कार्य अवधि- एक वर्ष
-निर्माण एजेंसी-देवसी गोविंदजी परमार, गांधीधाम, गुजरात


Chania