Monday, May 17th, 2021 Login Here
कोरोना के गंभीर रोगियों का उपचार सर्वसुविधायुक्त बड़े अस्पतालों में होना जरूरी पुलिस और डाक्टर की पकड़ में कोरोना से सुरक्षित आम आदमी लेकिन लापरवाह लोग बन रहे मुश्किल मंदसौर के मनोज ने कर दिया 200 रूपऐ में आॅक्सी फ्लो मीटर का निर्माण वायरल विडियों ने मंदसौर की दादी को बना दिया स्टाॅर मंदसौर जिला चिकित्सालय में अक्षय तृतीया से सीटी स्कैन मशीन से जांच होना हुई प्रारंभ वित्त मंत्री श्री देवड़ा के निर्देश पर गृह मंत्रालय ने मल्हारगढ़ ब्लॉक कोविड-19 आपदा प्रबंधक मैनेजमेंट कमेटी का गठन कलेक्टर द्वारा किया गया *शामगढ़ में 85 वर्ष के बूढे व्यक्ति का घर से मृत अवस्था मे मिला शव* खुशियों की दास्तां /मल्हारगढ़ कोविड केयर सेंटर से आज 3 व्यक्ति स्वस्थ होकर घर गए प्रशासन ने मीटिंग बुलाकर ईद घर पर ही मनाने हेतु समझाइश दी । अपने अपने मोहल्ले मैं सख्ती से कर्फ्यू का पालन करवाना और दवाई वितरण करवाना हम सबकी जवाबदेही है: श्री पँवार *जिले में रक्त स्त्रोतम संस्थान द्वारा कराया गया पहला प्लाज्मा डोनेशन जनसारंगी --प्रसंगवश./ सर्वसमावेशी समाज के संस्थापक भगवान परशुराम. दो लाख खर्च होने के बाद भी नहीं बनी खाद, पिट बन गऐ डस्टबिन हॉटस्पॉट में बेखौफ चल रहीं सब्जी मंडी, लोगों की जमा हो रहीं भीड़ महामारी से निपटने आर्थिक सहयोग में आगे आ रहे नागरिक
मंदसौर। कोरोना संक्रमण के चलते पर्वों का उत्साह कम नहीं हो रहा है पूरी सावधानी के साथ अग्रवाल समाज की मातृशक्ति एवं युवतियों ने गणगौर की झेल  आज बुधवार को गोधूली बेला में ढोल धमाकों के साथ दशपुर कुंज उद्यान से  नगर में निकाली । कोरोना प्रोटोकाल के तहत महिलाओं व युवतियों ने मुंह पर मास्क  लगा रखे थे झेल में दूल्हा दुल्हन  बनने वालों ने भी मुंह पर मास्क लगाकर गणगौर पर्व की शोभा बढ़ाई। महिलाओं व युवतियों  ने दशपुर कुंज में ढोल की थाप पर नृत्य भी किया और गणगौर के झाले भी लिए। गणगौर की झेल में दूल्हा शुभी सिंहल एवं दुल्हन पहल सिंहल बनी।
 इस आशय की जानकारी देते हुए , श्रीमती पिंकी ओम गोयल व श्रीमती रानी अनिल अग्रवाल ने बताया कि गणगौर पर्व का अग्रवाल समाज में विशेष महत्व रहता है 16 दिनों तक गणगोर की पूजा अर्चना गोरी पार्वती के रूप में की जाती है नवविवाहिता  शादी के प्रथम वर्ष इस पूजन के तहत अपने मायके आती है और धुलेंडी के दिन से प्रारंभ होने वाला यह पर्व नवरात्रि की तीज को गणगौर तीज के रूप में समाप्त होता है। वर्ष भर इस पर्व को लेकर महिलाओं में खासा उत्साह रहता है इस बार बढ़ते कोरोना संक्रमण के कारण पर्व तो मनाया जा रहा है लेकिन सावधानी के साथ जनकुपुरा गणपति चौक स्थित भगवान श्री नरसिंह मंदिर में प्रतिदिन महिलाएं एवं युवतियां गणगौर की पूजा अर्चना करती है ओर  संध्या को गोधूलि बेला में अपने अपने घरों पर गणगौर को  साथ ले जाया जाता है ओर उत्साह के साथ प्रतिदिन पर्व मनाया जाता है। आज बुधवार को दशपुर कुंज से गणगौर की झेल  नगर में निकली जो गांधी चौराहा बस स्टैंड,  घंटा घर होते हुए जनकुपुरा पहुंची जहां झेल का समापन हुआ।
गणगौर की झेल में श्रीमती काजल गर्ग, निशू गर्ग, रानी अग्रवाल, पिंकी गोयल,  अर्चना गोयल, संगीता अग्रवाल ,  शुभी अग्रवाल,  स्वाति सिंहल, निलम सिंहल, चीनू सिंहल ,मधु सिंहल , रेखा सिंहल ,मंजू सिंहल ,किरण अग्रवाल, अंजू सिंहल ,आनिष्का गर्ग खुशबू अग्रवाल, कांता सिंहल, मधु अग्रवाल, संगीता अग्रवाल, आयुषी सिंहल, पार्ची गोयल, भक्ति अग्रवाल, एकांशी अग्रवाल, खुशी गोयल,  आयुषी अग्रवाल, निमिषा अग्रवाल, दिशा मित्तल ,अद्विका सिंहल, महक मित्तल दर्शिता गर्ग ,अग्रिमा अग्रवाल अपेक्षा मित्तल सहित बड़ी संख्या में मातृशक्ति व युवतियां उपस्थित थी।
Chania