Monday, May 17th, 2021 Login Here
कोरोना के गंभीर रोगियों का उपचार सर्वसुविधायुक्त बड़े अस्पतालों में होना जरूरी पुलिस और डाक्टर की पकड़ में कोरोना से सुरक्षित आम आदमी लेकिन लापरवाह लोग बन रहे मुश्किल मंदसौर के मनोज ने कर दिया 200 रूपऐ में आॅक्सी फ्लो मीटर का निर्माण वायरल विडियों ने मंदसौर की दादी को बना दिया स्टाॅर मंदसौर जिला चिकित्सालय में अक्षय तृतीया से सीटी स्कैन मशीन से जांच होना हुई प्रारंभ वित्त मंत्री श्री देवड़ा के निर्देश पर गृह मंत्रालय ने मल्हारगढ़ ब्लॉक कोविड-19 आपदा प्रबंधक मैनेजमेंट कमेटी का गठन कलेक्टर द्वारा किया गया *शामगढ़ में 85 वर्ष के बूढे व्यक्ति का घर से मृत अवस्था मे मिला शव* खुशियों की दास्तां /मल्हारगढ़ कोविड केयर सेंटर से आज 3 व्यक्ति स्वस्थ होकर घर गए प्रशासन ने मीटिंग बुलाकर ईद घर पर ही मनाने हेतु समझाइश दी । अपने अपने मोहल्ले मैं सख्ती से कर्फ्यू का पालन करवाना और दवाई वितरण करवाना हम सबकी जवाबदेही है: श्री पँवार *जिले में रक्त स्त्रोतम संस्थान द्वारा कराया गया पहला प्लाज्मा डोनेशन जनसारंगी --प्रसंगवश./ सर्वसमावेशी समाज के संस्थापक भगवान परशुराम. दो लाख खर्च होने के बाद भी नहीं बनी खाद, पिट बन गऐ डस्टबिन हॉटस्पॉट में बेखौफ चल रहीं सब्जी मंडी, लोगों की जमा हो रहीं भीड़ महामारी से निपटने आर्थिक सहयोग में आगे आ रहे नागरिक
    पुलवामा हमले के घटनास्थल से 4 किलोमीटर दूर फिर आईईडी विस्फोट हुआ
श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकियों ने फिर से सुरक्षा बलों को निशाना बनाने की कोशिश की। पुलिस के मुताबिक, अवंतिपोरा में हुए विस्फोट में कोई हताहत नहीं हुआ, लेकिन धमाका इतना तेज था कि आसपास के तीन मकान ध्वस्त हो गए। यहीं से 4 किलोमीटर दूर जैश-ए-मोहम्मद के फिदायीन ने 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हमला किया था। इसमें 40 जवान शहीद हो गए थे।
तीन मकान बुरी तरह क्षतिग्रस्त हुए
    पुलिस के मुताबिक, आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर हमले के लिए आईईडी बिछाया था। धमाका शनिवार रात 3 बजे के आसपास हुआ। इसमें क्षतिग्रस्त हुए घरों में कोई व्यक्ति मौजूद नहीं था। सुरक्षा बलों और पुलिस अधिकारियों ने घटनास्थल पर पहुंचकर जांच अहम सबूत जुटाए हैं।     14 फरवरी को सीआरपीएफ के 78 वाहनों का काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था और इसमें 2500 से ज्यादा जवान शामिल थे। जैश के आतंकी ने कार में 80 किलो हाईग्रेड आरडीएक्स रखकर काफिले की 5वीं बस को निशाना बनाया था। इसके बाद सुरक्षा बल हमले के मास्टरमाइंड गाजी समेत जैश-ए-मोहम्मद के कई आतंकियों को मुठभेड़ में ढेर कर चुके हैं।

Chania