Friday, May 7th, 2021 Login Here
रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित, चार महिने में नहीं बन पाया सवा दो सौ मीटर का नाला दूकान का शटर बंद लेकिन अंदर मिले ग्राहक हर दिन आॅक्सीजन आने का दावा लेकिन खत्म नहीं हो रहीं मारा-मारी *रजिस्ट्री की गाइड लाइन 30 जून तक यथावत* MP में 1 मई से शुरू नहीं होगा वैक्सीनेशन पार्ट-3:2.5 लाख डोज की पहली खेप 3 मई तक मिली तो 18+ लोगों को 5 मई से लगेगा टीका, 19 हजार लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन सोमली नदी को पार कर मंदसौर की तरफ आगे बढा चंबल का पानी


    16वीं लोकसभा का कार्यकाल 3 जून को खत्म हो रहा है
    पहले चरण के लिए अधिसूचना आखिर मार्च तक जारी हो सकती है
    जम्मू-कश्मीर में पार्टियां लोकसभा के साथ विधानसभा चुनाव कराने के पक्ष में, राज्यपाल मलिक ने इसका विरोध किया


नई दिल्ली. चुनाव आयोग जल्द ही लोकसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान कर सकता है। लोकसभा चुनाव अप्रैल-मई के बीच 7-8 चरणों में होने की संभावना है। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, आयोग चुनावी तैयारियों को पूरा करने के आखिरी चरण में है और इसका ऐलान इस हफ्ते के आखिरी में या अगले हफ्ते में कर सकता है। 16वीं लोकसभा का कार्यकाल 3 जून को खत्म हो रहा है।
मंगलवार तक संभव है तारीखों का ऐलान- सूत्र

    एक ओर जहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा एक बार फिर सत्ता में लौटने के प्रयास में हैं। वहीं, एनडीए को रोकने के लिए विपक्ष भाजपा के खिलाफ एकजुट होने की कोशिश में है।

    चुनाव आयोग के सीनियर अफसर ने बताया कि चुनाव समिति तारीखों का ऐलान करने के लिए तैयार है। कभी भी इसकी घोषणा हो सकती है, चाहे वह इस हफ्ते के आखिरी में हो या मंगलवार तक।

    अफसर के मुताबिक, पहले चरण के लिए आखिर मार्च तक अधिसूचना जारी हो सकती है और इसके लिए वोटिंग शुरुआती अप्रैल में होगी। माना जा रहा है कि आयोग लोकसभा के साथ आंध्रप्रदेश, ओडिशा, सिक्किम और अरुणाचल में विधानसभा चुनाव करा सकता है।

    जम्मू-कश्मीर में विधानसभा भंग होने के बाद चुनाव आयोग के पास चुनाव कराने के लिए 6 महीने का वक्त है, जो आखिर मई में खत्म हो रहा है। इसलिए कहा जा सकता है कि यहां विधानसभा चुनाव लोकसभा के साथ ही कराए जा सकते हैं। लेकिन यह राज्य की सुरक्षा व्यवस्था पर निर्भर करता है।

    पिछले हफ्ते चुनाव आयोग के साथ हुई बैठक में राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने लोकसभा और विधानसभा चुनाव साथ कराने का विरोध किया था। वहीं, राज्य की पार्टियां दोनों चुनाव साथ में कराने के पक्ष में हैं।

    जम्मू-कश्मीर विधानसभा का 6 साल का कार्यकाल 16 मार्च 2021 को खत्म होना था। लेकिन भाजपा के पीडीपी से समर्थन वापस लेने के कुछ वक्त बाद राज्यपाल ने इसे भंग कर दिया था।

    सिक्किम में 27 मई, अरुणाचल में 1 जून, ओडिशा में 11 जून और आंध्र में 18 जून को विधानसभा का कार्यकाल खत्म हो रहा है। चुनाव आयोग ने प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए पिछले हफ्ते पूरे देश में बैठकें की हैं।

    543 लोकसभा सीटों में मतदान के लिए करीब 10 लाख पोलिंग स्टेशन बनाए जाएंगे। माना जा रहा है कि चुनाव 7-8 चरणों में होंगे।








Chania