Friday, May 7th, 2021 Login Here
रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित, चार महिने में नहीं बन पाया सवा दो सौ मीटर का नाला दूकान का शटर बंद लेकिन अंदर मिले ग्राहक हर दिन आॅक्सीजन आने का दावा लेकिन खत्म नहीं हो रहीं मारा-मारी *रजिस्ट्री की गाइड लाइन 30 जून तक यथावत* MP में 1 मई से शुरू नहीं होगा वैक्सीनेशन पार्ट-3:2.5 लाख डोज की पहली खेप 3 मई तक मिली तो 18+ लोगों को 5 मई से लगेगा टीका, 19 हजार लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन सोमली नदी को पार कर मंदसौर की तरफ आगे बढा चंबल का पानी

मंदसौर निप्र ।  मंदसौर जिला स्टेडियम में कॉम्पलेक्स भवन एवं टेनिस कोर्ट निर्माण सहित स्टेडियम परिसर में पेवर ब्लाक लगाने, कुआं खुदाई बंधाई एवं आर.सी.सी.वाल के कार्य सहित विभिन्न सामग्री क्रय करने में स्टेडियम कमेटी के द्वारा सक्षम तकनीकी स्वीकृति नहीं लेने तथा नियमानुसार निविदा आमंत्रित नहीं कर मध्यप्रदेश क्रय नियमों का उल्लंघन कर कोटेशन पर बाजार दर से अधिक दर में कार्य करने एवं सामग्री क्रय करने के संबंध में गरोठ के सामाजिक कार्यकर्ता जगदीश अग्रवाल ने आयुक्त उज्जैन संभाग को शिकायत की थी।
शिकायत की जांच हेतु आयुक्त अपर आयुक्त की अध्यक्षता में अधीक्षण यंत्री लोक निर्माण विभाग उज्जैन,अधीक्षण यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा उज्जैन एवं कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग(वि/यां) उज्जैन को सदस्य रखते हुए जांच समिति गठित कर जांच के आदेश दिये गये थे।जांच समिति ने जांच में शिकायत को प्रमाणित पाते हुए  अपना जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत किया था।जांच प्रतिवेदन के आधार पर आयुक्त उज्जैन ने दिनांक 13.11.17 को कलेक्टर मंदसौर को जांच प्रतिवेदन की प्रति भेजते हुए निर्माण कार्य करवाने एवं सामग्री क्रय करने में निर्धारित दर या बाजार दर से कितना अधिक भुगतान किया गया उसको आंकलित करने तथा स्टेडियम कमेटी के तत्कालिन अध्यक्ष, तत्कालिन सचिव जिला शिक्षा अधिकारी एवं तत्कालिन कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग को जांच प्रतिवेदन में उल्लेखानुसार स्पष्टीकरण लेकर स्पष्ट अभिमत सहित यथाशीघ्र प्रतिवेदन देने हेतु लिखा गया था।
एक वर्ष से अधिक की समयावधि हो जाने के बाद भी कलेक्टर मंदसौर ने आयुक्त उज्जैन के पत्र में दिये निर्देशानुसार कोई कार्यवाही नहीं की है।तत्कालिन कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव ने जांच में दोषी अधिकारियों को बचाने के प्रयास में आयुक्त उज्जैन के निर्देश के विपरीत जांच समिति के अधिकारियों से कनिष्ठ अधिकारी कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग मंदसौर से जांच प्रतिवेदन के आपत्ति के बिन्दुओं पर उसके निवारण की तथ्यात्मक टीप तलब की गई जो अनुचित कार्यवाही है। कार्यपालन यंत्री स्वंय जांच में दोषी है उससे स्पष्टीकरण लेने के आयुक्त उज्जैन निर्देश दिये है तथा जांच उनसे वरिष्ठ अधिकारियों है तो उनसे टीप लेना है दोषियों को बचाने का प्रयास है।आयुक्त उज्जैन के निर्देशानुसार कार्यवाही नहीं किये जाने के साथ ही एक वर्ष से अधिक समय से जांच प्रतिवेदन पर  दोषियों पर कार्यवाही नहीं किये जाने को लेकर पत्रकार जगदीश अग्रवाल ने आयुक्त उज्जैन संभाग को अवगत कराकर पत्र लिखते हुए शीघ्रता से कार्यवाही करने का अनुरोध करने पर आयुक्त उज्जैन ने दिनांक 05 मार्च को पुन:कलेक्टर जिला मंदसौर को जांच प्रतिवेदन के आधार पर दिये निर्देशानुसार बिन्दुओं पर प्राथमिकता के आधार पर कार्यवाही कर वांछित जानकारी भेजने के निर्देश दिये गये है।  

Chania