Saturday, May 8th, 2021 Login Here
भोईवाडा की घटना के बाद मंदसौर में पुलिस का फ्लेग मार्च जावरा विधायक से पंगा और मंदसौर के हिस्सें की आॅक्सीजन रोकना भरी पड़ा कलेक्टर को, विधायक सिसोदिया की सीएम के समक्ष कड़ी आपत्ति के बाद विवाह की खुशी में भूल गए लाॅकडाउन के आदेश/ शादि में मेंहमान बन कर पहुंच गऐ एसडीएम और टीआई बीस दिन लाॅकडाउन के बाद भी कोरोना काबू नहीं हुआ तो अब सीएम के निर्देश के बाद मंदसौर में भी शुरु हुआ सख्ती वाला लॉक डाउन कोरोना के तांडव की हकीकत बयां करती मंदसौर के शमशान की सच्चाई ! कोरोना से जंग में भारतीय जैन संघठना ने नृत्य नाटिका के माध्यम से दिया सकारात्मकता का सन्देश रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित,

मंदसौर निप्र। सरकारी अनुदान दिलाने के लिए 12 हजार रू. की रिश्वत लेते हुए ग्राम विस्तार अधिकारी को लोकायुक्त ने रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया । ग्राम उद्योग विस्तार अधिकारी जगदीश शर्मा सरकारी योजना में हितग्राही को मिलने वाले अनुदान की राशि जारी करने के लिए रिश्वत मांग रहा था ।
जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अंतर्गत संचालित जिला हाथकरघा विभाग में ग्रामों उद्योग विस्तार अधिकारी जगदीश शर्मा ने सेमली के आसीफ से लोन स्वीकृत होने पर मिलने वाली 1 लाख 59 हजार रू. के अनुदान को खाते में ट­ांसफर करने के नाम पर 20 हजार रू. की रिश्वत मांगी थी जिसमें से 5 हजार रू. आसीफ दे भी चुका था 15 हजार रू. और देना थे लेकिन बाद में 12 हजार रू. में सेटलमेन्ट हो गया था, मंगलवार को 12 हजार रू. की यह राशि आसीफ उसे देने के लिए आया लेकिन राशि देने से पहले उसने लोकायुक्त को शिकायत कर पूरे मामलें से अवगत करा दिया था जिसके चलते मौके पर लोकायुक्त की टीम भी घात लगाकर बेैठी थी जैसे ही आसीफ ने रिश्वत की राशि दी लोकायुक्त ने उसे धरदबोच लिया उसके हाथ धुलवाएें तो पानी रंगीन हो गया और पहनी हुई शर्ट की जेब में 500-500 के नोट रखे थे, शर्ट भी रंगीन हो गई जिसे लोकायुक्त की टीम ने जप्त किया । करीब दो घंटे की कार्यवाही के दौरान लोकायुक्त की टीम ने बॉण्ड  भरवाकर जगदीश शर्मा को छोड़ दिया । उधर आरोपी जगदीश शर्मा का कहना था कि आसीफ के परिवार के तीन प्रकरण थे जिसमें से शब्बीर को राशि जारी हो गई थी लेकिन आसीफ व सद्दाम की राशि बजट के अभाव में जारी नही हो पाई उसे गलत फंसाया गया है । उधर शिकायतकर्ता आसीफ का कहना था कि सेन्टींग लगाने के तरापे खरीदने के लिए मैने कर्ज लिया था लेकिन अनुदान राशि देने के लिए बेवजह देर की जा रही थी इससे परेशान होकर शिकायत की थी ।
 सरकारी योजना में अनुदान राशि देने के नाम पर रिश्वत मांगने की शिकायत आसीफ ने 19 मार्च को की थी जिस पर कार्यवाही कर ग्राम उद्योग विस्तार अधिकारी को रंगे हाथ पकड़ा है उसके हाथ व शर्ट रंगीन हो गए, लोकायुक्त ने बॉण्ड भरवाकर उसे छोड़ दिया ।
वेदांत शर्मा, डीएसपी लोकायुक्त
Chania