Saturday, May 8th, 2021 Login Here
भोईवाडा की घटना के बाद मंदसौर में पुलिस का फ्लेग मार्च जावरा विधायक से पंगा और मंदसौर के हिस्सें की आॅक्सीजन रोकना भरी पड़ा कलेक्टर को, विधायक सिसोदिया की सीएम के समक्ष कड़ी आपत्ति के बाद विवाह की खुशी में भूल गए लाॅकडाउन के आदेश/ शादि में मेंहमान बन कर पहुंच गऐ एसडीएम और टीआई बीस दिन लाॅकडाउन के बाद भी कोरोना काबू नहीं हुआ तो अब सीएम के निर्देश के बाद मंदसौर में भी शुरु हुआ सख्ती वाला लॉक डाउन कोरोना के तांडव की हकीकत बयां करती मंदसौर के शमशान की सच्चाई ! कोरोना से जंग में भारतीय जैन संघठना ने नृत्य नाटिका के माध्यम से दिया सकारात्मकता का सन्देश रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित,


भोपाल। एग्जिट पोल आने के बाद से ही मध्य प्रदेश की सियासत गरमा गई है। एक तरफ भाजपा कमलनाथ सरकार के गिरने की बात बार-बार बोल रही है, तो वहीं कांग्रेस हर तरह की चुनौती से निपटने को तैयार है। इस बीच प्रदेश सरकार के कानून मंत्री पीसी शर्मा का बड़ा बयान आया है। आज उन्होंने भोपाल में कहा कि, प्रदेश सरकार देवास के संघ प्रचारक सुनील जोशी हत्याकांड की फाइल फिर से खोलेगी। कानून मंत्री ने कहा कि, "जिस तरह भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने शहीद हेमंत करकरे की शहादत पर विवादित बयान दिया था और गांधीजी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताया था। उससे उनकी विचारधारा का अंदाजा लगाया जा सकता है।" ऐसे में सरकार को ये आशंका है कि वो संघ प्रचारक सुनील जोशी की हत्या में शामिल हो सकती हैं। साध्वी प्रज्ञा इस मामले में पहले आरोपीं थीं औऱ शिवराज सिंह की सरकार के दौरान उनकी गिरफ्तारी भी हुई थी। लेकिन बाद में कोर्ट ने उन्हें बरी कर दिया था। मगर अब सरकार दोबारा से इस मामले की फाइल खोलेगी और फिर से इसकी जांच होगी।

वहीं कमलनाथ सरकार के अल्पमत में होने और भाजपा नेताओं द्वारा सरकार गिराने की बात पर मंत्री पीसी शर्मा ने साफ कर दिया कि, हमारी सरकार को कोई खतरा नहीं है। उलटे भाजपा के 25 विधायक हमारे संपर्क में है और लोकसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद ये सभी भाजपा विधायक कांग्रेस में आ जाएंगे। इस बीच प्रदेश सरकार के खाद्य एवं आपूर्ति मंत्री प्रद्युम्न तोमर का बयान आया है कि भाजपा कांग्रेस विधायकों को खरीदने के लिए पचास करोड़ का ऑफऱ कर रही है पर कानून मंत्री ने कहा कि, कांग्रेस के विधायक पार्टी के साथ खड़े हैं और किसी भी लालच से वो डिगने वाले नहीं है।
Chania