Friday, June 18th, 2021 Login Here
दो दिन में चार लोगों ने कर ली आत्महत्या/ एक ही दिन में तीन ने मौत को गले लगाया 200 वैक्सीन लगना थी लेकिन 100 ही लगी, ग्रामिणों ने किया हंगामा कलेक्टर ने किया मिनी गोवा यानी कंवला के हर संभव विकास का वादा आरक्षक की मानवता/ घायल को अस्पताल पहुंचाया और घटनास्थल से मिले दस हजार भी लोटाऐ राजाधिराज के पट खुलते ही आराध्य के दर्शन कर हर्षित हुए श्रृद्धालु कोरोना के सक्रिय संक्रमित 24 बचें लेकिन फिर मिला ब्लेक फंगस का संदिग्ध मरीज वैक्सीन लगवाने के बाद मंदसौर के राजाराम ने किया शरीर पर स्टील चिपकने का दावा धर्मातंरण की सूचना के बाद पुलिस और प्रशासन ने खंगाली जेल बारिश से पहले हर बार नोटिस लेकिन सालों से नपा सूची से नाम ही नहीं हट रहे नेहरू बस स्टेण्ड हुआ विरान, उत्कृष्ट स्कूल मैदान में हुआ बसों का बसेरा छोटी पुलिया पर खड़े युवकों से 50 ग्राम स्मैक बरामद चैकिंग में हाथ लगी वाहन चोरों की गैंग, दो आरोपियों से तीन बाईक बरामद आज से राजाधिराज के दरबार में श्रृद्धालुओं को प्रवेश खुले शॉपिंग मॉल, जिम और रेस्टोरेंट, 62 दिन बाद लौटी रौनक कोरोना में सैकड़ों लोगों को खोने के बाद भी हवा की कीमत समझ नहीं आ रही
 देवी अंबा, लक्ष्मी और मां सरस्वती से लिया आशीर्वाद
मंदसौर स्थानीय ब्रह्माकुमारी आश्रम में सजी चैतन्य झांकियों में श्रद्धालुओं ने राजयोग से आत्मिक सुख की अनुभूति की ओर चैतन्य स्वरूप में विराजित देवी अंबा लक्ष्मी और मां सरस्वती से आशीर्वाद लिया। चौथे दिन मां जगदंबा की आरती बतौर मुख्य अतिथि वरिष्ठ एडवोकेट धीरेंद्र त्रिवेदी, पेंशनर संघ के सचिव नंदकिशोर राठौर, विनर क्लब के अध्यक्ष सुभाष गंगवाल, बृजेश मारोठिया, पार्षद निरांत बग्गा, शिक्षाविद प्रेरणा मिश्रा, आलोक यादव, समाजसेवी चित्र मंडलोई, ललिता मेहता, दुर्गा जापानी, उम्मीद सामाजिक सेवा संस्थान के अध्यक्ष भगवत शरण गुप्ता, कृष्णा सहायक सरकारी संस्था के अध्यक्ष महेश जूनवाल, बंशीलाल टांक, मनोहर लाल चौहान, राजेश परमार, गोविंद कंठी, श्रीमती सुनीता देशमुख एवं बिंदु चंद्र के आतिथ्य में संपन्न हुई।
चैतन्य झांकियों के दर्शन के लिए प्रतिदिन श्रद्धालुओं की लंबी-लंबी कतारें लग रही है ।सैकड़ों धर्मालूजन चैतन्य देवियों के दर्शन कर अपने आप को धन्य कर रहे हैं चैतन्य देवियों के दर्शन को आए श्रद्धालुओं ने राजयोग के माध्यम से आत्मिक सुख की अनुभूति की और जाना कि कैसे व्यक्ति राजयोग का अभ्यास करके नकारात्मकता से अपने जीवन को सकारात्मक बना सकता है, तनावों से मुक्ति पा सकता है और अपने जीवन को खुशहाल बना सकता है।
इस अवसर पर उपस्थित अतिथियों ने नवरात्रि की महिमा बताते हुए कहा कि वास्तव में चैतन्य देवियों के दर्शन करना अपने आप में एक अनूठी और ऊर्जा देने वाली अनुभूति है।ब्रह्माकुमारी आश्रम एक ऐसी आध्यात्मिक जगह है जहां व्यक्ति स्वयं अपने आप को दैनंदिनी तनाव से दूर कर अपनी आध्यात्मिक उन्नति कर सकता है। प्रारंभ में प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय मंदसौर की संचालिका बीके समिता बहन ने चैतन्य देवियों के महत्व को बताया और आव्हान किया कि प्रत्येक व्यक्ति राजयोग का अभ्यास कर अपने जीवन को खुशहाल बनाएं।
इस अवसर पर श्याम कहार, राहुल, मयंक, रश्मि और कशिश ने  सुंदर नृत्य की प्रस्तुति दी । विजय मौर्य, निरंजन भटनागर ने भजनों की प्रस्तुति दी। संचालन दीपेश भागवत ने किया।
Chania