Sunday, August 1st, 2021 Login Here
छापामार कार्रवाहीं में यूरिया की कालाबाजारी करते पकड़े गऐ व्यापारी जहरीले जाम से बही के चैकीदार की भी मौत, एसआईटी पहुंची जांच के लिए एम्बुलेंस स्टेण्ड पर जमाया निजी टैक्सियों ने कब्जा, पुलिस ने हटवाया मंडी में हम्मालों ने कर दी हड़ताल, चर्चा के बाद काम पर लोटे मंगलवार को बादल हुए साफ, ठण्डक रहीं बरकरार जहरीली शराब कांड, एक के बाद एक तीन और मौतों के बाद आंकड़ा पहंुचा 10 पर सावन का पहला सोमवार, शिवमय हुआ पशुपति का शहर लगातार बारिश से शिवना लबालब, शिव के अभिषेक से दूर रह गई मैय्या अब मंदसौर के आसमान पर उडान भर तैयार होंगें पायलट जहरीली शराब से एक और की मौत, चार गंभीर में से एक रेफर महिनों के बजाय सालों में पूरे हुए सेतु में घटिया निर्माण का टांका फिर भी कार्रवाहीं नहीं शराब पीने के बाद तीन की मौत , चार घायल समर्थ गुरु से जुड़े जीवन मे अज्ञानता होगी दूर -आचार्यश्री आस्था के पुष्प से गुरू को नमन, आज से प्रारम्भ होगी शिवशंकर की आराधना साठ साल बाद गांधीसागर झील का लाभ किसानों को, डेढ़ लाख हेक्टेयर में सिंचाई

गुदरी में सघन स्वास्थ्य परीक्षण शुरू, ग्रामीण क्षेत्रों में आर्थिक गतिविधियां भी प्रारंभ, शहर में भी शीघ्र होगी शुरू
मंदसौर निप्र। मंगलवार को शहर के लिए एक अच्छी खबर भी आई जिले के बोलिया का युवक को रोना शेर जंग जीत गया इसके साथ ही कोर्णाक पर विजय हासिल करने वाले जिले में 6 लोग हो चुके हैं बोलिया के युवक को पूरी तरह ठीक होने पर आज उसके घर भेजा गया इसके साथ ही मंदसौर में 4 और संदिग्ध पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है जिसमें से छिपा बाखल के वृद्ध की मौत हो चुकी है। तीन लोगों के सैंपल एक बार फिर जांच के लिए भेजे जा रहे हैं मृतक सहित चारों पॉजिटिव गुजरी के मृत वृद्ध के संपर्क के ही बताए जा रहे हैं।
यह जानकारी देते हुए कलेक्टर मनोज पुष्प ने बताया की मंदसौर जिले के पांच कोविड-19 के मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं। सिद्धि विनायक अस्पताल मन्दसौर में कोरोना वायरस से ग्रसित मरीजों के उपचार की व्यवस्था मंदसौर जिला प्रशासन द्वारा की गई है। इसी की अंतर्गत आज सिद्धिविनायक हॉस्पिटल से एक और मरीज जो की बोलियां का निवासी हैं स्वस्थ होकर घर लौट चुका है। कोरोना वायरस से अब तक संक्रमित 6 मरीज स्वस्थ होकर अपने घरों को लौट चुके हैं। लगातार 14 से 15 दिन तक सिद्धि विनायक अस्पताल मंदसौर में डॉक्टरों की टीम, पैरामेडिकल स्टाफ की टीम ने इन मरीजों के उपचार के साथ इनमें सकारात्मकता और बीमारी से लड़ने के लिए मनोबल का निर्माण किया। अस्पताल की टीम ने प्रतिदिन कोविड-19 मरीजों का दवाइयों से उपचार के साथ उनकी डाइट, खानपान, दिनचर्या में मनोवैज्ञानिक तौर पर आत्मबल को सुदृढ़ करने का कार्य किया गया। आज एक उपचार के बात प्रसन्नता के साथ घर जा चुके हैं। कलेक्टर मनोज पुष्प, पुलिस अधीक्षक  हितेश चौधरी एवं स्वास्थ्य विभाग व अस्पताल के स्टाफ ने उत्साह, उमंग, तालियां बजाकर इन मरीजों को घर के लिए अस्पताल से विदाई दी गई।
कलेक्टर श्री पुष्प ने बताया कि मंगलवार की सुबह कुल 27 जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है इसमें से चार संदिग्ध कोरोना पॉजीटिव मिले है बाकी सभी की रिपोर्ट नेगेटिव है।चार में से एक पिछले दिनों इंदौर में मृत हुए उस्मान छिपा भी शामिल है इनके अलावा तीन और लोग संदिग्ध पॉजिटिव आए हैं जिनके सैंपल पुनः जांच के लिए भेजे जा रहे हैं। सभी पॉजिटिव मरीज गुदरी क्षेत्र के पॉजिटिव मरीज के संपर्क वाले ही हैं इसी के चलते प्रशासन ने स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से गहन स्वास्थ्य सर्वे और परीक्षण गुदरी क्षेत्र में प्रारंभ कर दिया गया है। जिसमें क्षेत्र के चिकित्सकों मेडिकल से जुड़े अन्य लोगों को भी सम्मिलित किया गया है सभी को सुरक्षा उपलब्ध कराई गई है जो घर-घर जाकर परीक्षण कर रहे हैं ।आपने बताया कि कोरेन्टीन एक ही परिवार के अधिकांश लोग हैं लेकिन किसी में भी अभी तक कोरोनावायरस कोई लक्षण नहीं है उम्मीद है इनके जांच सिंपल जाएंगे तो नेगेटिव ही आएंगे।
गुदरी के 35 लोगों का कोरेन्टीन पूरा,भेजा घर
जिले के 35 व्यक्तियों को महक होटल मन्दसौर में क्वॉरेंटाइन में रखा गया था। इनमे से अधिकांश गुदरी के पॉजीटिव के संपर्क वाले ही है।  इन सभी लोगों की निर्धारित अवधि पूर्ण होने के पश्चात प्रशासन के द्वारा इनको सकुशल महक होटल से छुट्टी प्रदान कर दी गई है। अब यह सभी 35 व्यक्ति सकुशल अपने घर जाएंगे तथा मौज मस्ती से रहेंगे। अब इनमें कोरोना का कोई भी खतरा नहीं है एवं सभी व्यक्ति पूरी तरह से स्वस्थ हैं।
स्वास्थ विभाग और पुलिस टीम का मुल्तानपूरा में हुआ स्वागत
मन्दसौर। कोरोना वायरस की आमद मुल्तान पूरा में भी हो चुकी है,यहा निवासी एक बुजुर्ग की मौत भी हो चुकी है।प्रशासन की टीम ने क्षेत्र को कोरनटाइन एरिया भी घोषित किया है।मंगलवार को जब स्वास्थ विभाग की टीम क्षेत्र में पहुची तो यहा के रहवासियों ने पूरी टीम पर फूल बरसा तथा तालिया बजा कर स्वागत किया। उल्लेखनीय है कि इंदौर सहित कई शहरों में स्वास्थ विभाग की टीम पर पत्थर फेंकने तथा विरोध करने की घटनाएं सामने आ चुकी है।

आरोग्य सेतु करेगा सुरक्षा
 समस्त को सुचित किया जाता है कि कोविड-19 से बचाव एवं सावधानी हेतु आरोग्‍य सेतु एप एनआईसी दिल्ली द्वारा निर्मित किया गया है। आप स्‍वयं एवं अपने समस्‍त लोगो एवं अपने पड़ोसी रिस्तेदारों के मोबाईल में आरोग्‍य सेतु एप अनिवार्यत: इंस्टाल करें।
यह एप्लीकेशन एक ऐसी एप्लीकेशन है जिसके माध्यम से कोरोनावायरस के क्या क्या लक्षण हैं। किस तरह से फैलता है। इससे बचाव के क्या तरीके हैं। इस संबंध में समस्त जानकारी इस ऐप के माध्यम से प्राप्त हो सकती हैं। साथ ही सभी राज्यों के टोल फ्री नंबर भी इस एप्लीकेशन पर उपलब्ध हैं। इसके साथ ही अगर आप के संपर्क में कोई व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव आता है। तो इस एप्लीकेशन के माध्यम से आपको सूचना प्राप्त हो जाएगी। इसलिए इस एप्लीकेशन को तत्काल इंस्टॉल करें।


आथिक गतिविधियों को प्रारंभ
ग्रामीण क्षेत्र में आर्थिक गतिविधियों कों प्रारम्भ किया गया है। शहरी क्षेत्र में भी कटेन्मेंट एरिया को छोड़कर आर्थिक गतिविधियों को प्रारम्भ करने पर विचार चल रहा है इसको लेकर व्यापारियों से भी चर्चा चल रही है। कोरोना ऐसी महामारी है जिसके लिये कोई तारीख तय नही हैं की कब खत्म होगी इसलिये अब हमे कोरोना से बचाव के साथ आर्थिक गतिविधियों को प्रारंभ करना पड़ेगा । पुरी योजना के साथ प्रशासन इन्हें प्रारंभ कराएगा।
मनोज पुष्प
कलेक्टर

जनता पर्याप्त सावधानी करे
कोरोना गंभीर महामारी है। हम सब को समझना पड़ेगा। जरूर सुविधाओं को सब तक पहुँचना जरूरी है।इसलिये धीरे-धीरे आर्थिक गतिविधियों को प्रारम्भ करेंगे लेकिन सभी सावधानी रखें ।आवश्यक हो तभी घर से बाहर निकले काम करके तत्काल वापस घर आ जाए किसी भी वस्तु की कोई कमी नहीं है, सब कुछ आराम से मिलेगा। इसलिए घबराएं नहीं जितना काम हो उतना ही बाहर निकले ।जो भी असामाजिक तत्व दिखेगा उस पर हम कार्रवाई करेंगे।
 हितेश चौधरी
पुलिस अधीक्षक

Chania