Sunday, August 1st, 2021 Login Here
छापामार कार्रवाहीं में यूरिया की कालाबाजारी करते पकड़े गऐ व्यापारी जहरीले जाम से बही के चैकीदार की भी मौत, एसआईटी पहुंची जांच के लिए एम्बुलेंस स्टेण्ड पर जमाया निजी टैक्सियों ने कब्जा, पुलिस ने हटवाया मंडी में हम्मालों ने कर दी हड़ताल, चर्चा के बाद काम पर लोटे मंगलवार को बादल हुए साफ, ठण्डक रहीं बरकरार जहरीली शराब कांड, एक के बाद एक तीन और मौतों के बाद आंकड़ा पहंुचा 10 पर सावन का पहला सोमवार, शिवमय हुआ पशुपति का शहर लगातार बारिश से शिवना लबालब, शिव के अभिषेक से दूर रह गई मैय्या अब मंदसौर के आसमान पर उडान भर तैयार होंगें पायलट जहरीली शराब से एक और की मौत, चार गंभीर में से एक रेफर महिनों के बजाय सालों में पूरे हुए सेतु में घटिया निर्माण का टांका फिर भी कार्रवाहीं नहीं शराब पीने के बाद तीन की मौत , चार घायल समर्थ गुरु से जुड़े जीवन मे अज्ञानता होगी दूर -आचार्यश्री आस्था के पुष्प से गुरू को नमन, आज से प्रारम्भ होगी शिवशंकर की आराधना साठ साल बाद गांधीसागर झील का लाभ किसानों को, डेढ़ लाख हेक्टेयर में सिंचाई

 तीन और पॉजीटिव मिले,बैंक सील, बडे अस्पताल की डेंटल ओपीडी बंद
मंदसौर जनसारंगी 
 कोरोना के बढ़ते मामले के बाद भी सरकारी और बड़े निजी संस्थानों पर लापरवाही ज्यादा देखने को मिल रही है। जिला अस्पताल में एक महिला कर्मचारी के कोरोना पॉजीटिव आने के बाद हडकंप मच गया। इसके बाद डेंटल ओपीडी को बंद कर दिया गया है। इसके अलावा एचडीएफसी बैंक में भी कर्मचारियों के पॉजीटिव आने की सूचना है। जिसके बाद बैंक को सील कर दिया गया है। इसके अलावा शुक्रवार को तीन ओर पॉजीटिव मिले जिसमें एक पुलिस का जवान है तथा दूसरा व्यक्ति खानपुरा के रामघाट क्षेत्र का है तथा तीसरा सुवासरा का रहने वाला है। इसके साथ ही तीन लोग कोरोना से जंग जीतकर आज अपने घर भी पहुंचे।
कोरोना काल मंदसौर पर भारी पड़ता नजर आ रहा है। स्थिति यह हैं कि मन्दसौर में अब कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा ढाई सौ के करीब पहुंच गया हैं। तीन दिन में करीब 60 मामले सामने आए हैं। कल भी मन्दसौर, रतलाम और भोपाल से आई सैम्पलों की रिपोर्ट में 12 मरीजो में कोरोना की पुष्टि हुई हैं। इनमे कनघट्टी और ग्रामीण क्षेत्र के अलावा सारे मामले मन्दसौर शहर के हैं।  कुल मिलाकर कोरोना काल मंदसौर पर भारी पड़ रहा है। इसके बाद भी लापरवाही का दौर जारी है। कोरोना काल में सबसे ज्यादा खतरा सार्वजनिक स्थानों पर मंडरा रहा है। जिसमें बैंक, नगरपालिका, जिला  अस्पताल जैसी जगहों पर जमा भीड़ और लापरवाही कोरोना को दावत देती नजर आ रही है। जिला अस्पताल में डेंटल ओपीडी पर काम करने वाली कर्मचारी के कोरोना पॉजीटिव निकलने के बाद हडकंप मच गया है। इसके बाद अस्पताल का स्टॉफ और ज्यादा सावधानी बरतने लगा है। फिलहाल डेंटल ओपीडी बंद कर दी गई है। वहीं चिकित्क का टेस्ट 19 जुलाई को होगा। रिपोर्ट आने के बाद ओपीडी खोलने पर विचार किया जाएगा।  इसके अलावा एचडीएफ बैंक के दो कर्मचारियों की रिपोर्ट भी पॉजीटिव आने की खबर मिली है। इसके बाद बैंक को दूसरी बार सील किया गया है। 
कनघट्टी और संजीत पहुंचा प्रशासन 
कनघट्टी में 32 वर्षीय युवक की तीन दिन पूर्व भेजी गई रिपोर्ट पॉजिटिव आई हैं। युवक नीमच जिले के भाटखेड़ा फेक्ट¬ में कार्यरत है। सर्दी, खांसी की शिकायत होने पर युवक का शासकीय अस्पताल में सेंपल लिया था। रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद तहसीलदार प्रीति भीसे व स्वास्थ्य विभाग टीम गांव पहुंची। युवक के संपर्क में आए 7 परिजनों को कोरेन्टाइन करने के लिए एबूलेंस से भेजा। इसमें 6 माह का बच्चा भी शामिल है। तहसीलदार प्रीति भीसे ने बच्चे की अलग से व्यवस्था के निर्देश दिए है। साथ की युवक के घर के आस-पास के एरिए को सील कर दिया है। इधर संजीत में एक 16 वर्षीय युवती को कोरोना की पुष्टि होने के बाद प्रशासनिक अधिकारी व स्वास्थ्य विभाग टीम ने युवती के सपंर्क में आए 6 परिजनों को कोरेन्टाइन किया है।
Chania