Sunday, August 1st, 2021 Login Here
छापामार कार्रवाहीं में यूरिया की कालाबाजारी करते पकड़े गऐ व्यापारी जहरीले जाम से बही के चैकीदार की भी मौत, एसआईटी पहुंची जांच के लिए एम्बुलेंस स्टेण्ड पर जमाया निजी टैक्सियों ने कब्जा, पुलिस ने हटवाया मंडी में हम्मालों ने कर दी हड़ताल, चर्चा के बाद काम पर लोटे मंगलवार को बादल हुए साफ, ठण्डक रहीं बरकरार जहरीली शराब कांड, एक के बाद एक तीन और मौतों के बाद आंकड़ा पहंुचा 10 पर सावन का पहला सोमवार, शिवमय हुआ पशुपति का शहर लगातार बारिश से शिवना लबालब, शिव के अभिषेक से दूर रह गई मैय्या अब मंदसौर के आसमान पर उडान भर तैयार होंगें पायलट जहरीली शराब से एक और की मौत, चार गंभीर में से एक रेफर महिनों के बजाय सालों में पूरे हुए सेतु में घटिया निर्माण का टांका फिर भी कार्रवाहीं नहीं शराब पीने के बाद तीन की मौत , चार घायल समर्थ गुरु से जुड़े जीवन मे अज्ञानता होगी दूर -आचार्यश्री आस्था के पुष्प से गुरू को नमन, आज से प्रारम्भ होगी शिवशंकर की आराधना साठ साल बाद गांधीसागर झील का लाभ किसानों को, डेढ़ लाख हेक्टेयर में सिंचाई

े राजस्थान की उदयपुर पुलिस लाई मंदसौर
मंदसौर जनसारंगी।
 9अक्टूबर 2019 को व्हीप नेता युवराजसिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस मामले में मुख्य आरोपी दीपक तंवर की मंदसौर पुलिस को लंबे समय से तलाश थी। इसी बीच उदयपुर पुलिस ने दीपक तंवर को अवैध बंदूक और दो जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार किया था। इसके बाद आज दीपक तंवर को उदयपुर पुलिस प्रोटेक्शन वारंट पर दीपक तंवर को मंदसौर लाई। शहर कोतवाली पुलिस को भी इस संबंध में अवगत कराया गया। आरोपी तंवर को सीजेएम कोर्ट में पेश किया गया। यहां शहर पुलिस ने भी केस डायरी पेश की। यहां पुलिस ने युवराजसिंह हत्याकांड के मामले में आरोपी दीपक तंवर का 27 जुलाई तक का रिमांड मांगा। इसके बाद दीपक तंवर को 25  जुलाई शाम चार बजे तक के पुलिस रिमांड पर सौंपा है। उल्लेखनीय है कि इस मामले में चार आरोपियों को पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद दीपक तंवर को फरवरी में उदयपुर पुलिस ने आर्म्स एक्ट के मामले में गिरफ्तार किया था।

Chania