Sunday, August 1st, 2021 Login Here
छापामार कार्रवाहीं में यूरिया की कालाबाजारी करते पकड़े गऐ व्यापारी जहरीले जाम से बही के चैकीदार की भी मौत, एसआईटी पहुंची जांच के लिए एम्बुलेंस स्टेण्ड पर जमाया निजी टैक्सियों ने कब्जा, पुलिस ने हटवाया मंडी में हम्मालों ने कर दी हड़ताल, चर्चा के बाद काम पर लोटे मंगलवार को बादल हुए साफ, ठण्डक रहीं बरकरार जहरीली शराब कांड, एक के बाद एक तीन और मौतों के बाद आंकड़ा पहंुचा 10 पर सावन का पहला सोमवार, शिवमय हुआ पशुपति का शहर लगातार बारिश से शिवना लबालब, शिव के अभिषेक से दूर रह गई मैय्या अब मंदसौर के आसमान पर उडान भर तैयार होंगें पायलट जहरीली शराब से एक और की मौत, चार गंभीर में से एक रेफर महिनों के बजाय सालों में पूरे हुए सेतु में घटिया निर्माण का टांका फिर भी कार्रवाहीं नहीं शराब पीने के बाद तीन की मौत , चार घायल समर्थ गुरु से जुड़े जीवन मे अज्ञानता होगी दूर -आचार्यश्री आस्था के पुष्प से गुरू को नमन, आज से प्रारम्भ होगी शिवशंकर की आराधना साठ साल बाद गांधीसागर झील का लाभ किसानों को, डेढ़ लाख हेक्टेयर में सिंचाई

मंदसौर  जनसारंगी।
 नीट की परीक्षा में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों को ले जाने वाली बस को हरी झंडी दिखाकर विधायक  यशपाल सिंह सिसोदिया एवं कलेक्टर मनोज पुष्प ने हरी झंडी दिखाकर शुभकामनाओं के साथ विदा किया।
 मंदसौर से इन बसों को कोटा, उज्जैन, इंदौर एवं भोपाल के लिए रवाना किया गया है। हरी झंडी दिखाने के अवसर पर कोविड-19 से बचाव के लिए पर्याप्त रूप से सोशल डिस्टेंस का पालन किया गया। कलेक्टर एवं विधायक के द्वारा सभी बच्चों को परीक्षा के संबंध में अग्रिम शुभकामनाएं भी दी गई। परीक्षा में शामिल होने के लिए पांच बसों को मंदसौर से भोपाल के लिए रवाना किया गया। वहीं 3 तूफान छोटे वाहन को मंदसौर जिले से कोटा रवाना किया गया। इस तरह से एक बस को मंदसौर जिले से भोपाल के लिए रवाना किया गया। यह सभी बसें इन बच्चों को परीक्षा संपन्न होने के पश्चात सुरक्षित अपने घर तक पहुंचाएगी।
शिक्षा अधिकारी ने बताया कि सार्वजनिक परिवहन के साधन बंद होने के कारण  बच्चों को जाने के लिये वाहनों की व्यवस्था करने के निर्देश दिये थे ं मंदसौर से 206 बच्चों का पंजीयन नीट की परीक्षा देने जाने के लिये  करवाया था। गरोठ, सीतामऊ, मल्हारगढ़, भानपुरा ब्लाक मुख्यालय से बच्चों को भेजने की व्यवस्था की थी। विभाग केवल परिवहन की व्यवस्था करेगा। सामान्य दिनों में बच्चा अपने खर्च से रहने और भोजन की व्यवस्था करता, यहीं मानकर रहने ओर भोजन की व्यवस्था बच्चें खुद करेगे। एक बच्चें के साथ एक पालक को जाने की व्यवस्था की गई है। जो वाहन बच्चों को लेकर जा रहे है वहीं वाहन इन्हें वापस लेकर आऐगें।

Chania