Sunday, August 1st, 2021 Login Here
छापामार कार्रवाहीं में यूरिया की कालाबाजारी करते पकड़े गऐ व्यापारी जहरीले जाम से बही के चैकीदार की भी मौत, एसआईटी पहुंची जांच के लिए एम्बुलेंस स्टेण्ड पर जमाया निजी टैक्सियों ने कब्जा, पुलिस ने हटवाया मंडी में हम्मालों ने कर दी हड़ताल, चर्चा के बाद काम पर लोटे मंगलवार को बादल हुए साफ, ठण्डक रहीं बरकरार जहरीली शराब कांड, एक के बाद एक तीन और मौतों के बाद आंकड़ा पहंुचा 10 पर सावन का पहला सोमवार, शिवमय हुआ पशुपति का शहर लगातार बारिश से शिवना लबालब, शिव के अभिषेक से दूर रह गई मैय्या अब मंदसौर के आसमान पर उडान भर तैयार होंगें पायलट जहरीली शराब से एक और की मौत, चार गंभीर में से एक रेफर महिनों के बजाय सालों में पूरे हुए सेतु में घटिया निर्माण का टांका फिर भी कार्रवाहीं नहीं शराब पीने के बाद तीन की मौत , चार घायल समर्थ गुरु से जुड़े जीवन मे अज्ञानता होगी दूर -आचार्यश्री आस्था के पुष्प से गुरू को नमन, आज से प्रारम्भ होगी शिवशंकर की आराधना साठ साल बाद गांधीसागर झील का लाभ किसानों को, डेढ़ लाख हेक्टेयर में सिंचाई

आत्मसंयम प्रवचन श्रृंखला एवं चातुर्मास अनुष्ठान का समापन अब होगा राजकोट में ,
मन्दसौर। विगत चार मास से मानवता मिशन ट्रस्ट एवं श्री हरीकथा आयोजन समिति के सत्संकल्पो को मूर्त रूप प्रदान करने के आशय से पूज्य गुरुदेव आचार्य श्री रामानुजजी द्वारा प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी अनुष्ठान किया गया , जिसका समापन समारोह गत वर्ष उज्जैन में हुआ था तभी से इस वर्ष का समापन मन्दसौर में कल 30 नवंबर कार्तिक पूर्णिमा पर होना निश्चित हुआ था किंतु कोरोना महामारी के प्रकोप के कारण इस वर्ष अनुष्ठान का समापन सांकेतिक रूप से राजकोट में किया जाएगा ।

इस आशय की जानकारी मानवता मिशन ट्रस्ट के राष्ट्रीय अध्यक्ष गम्भीरमल राठी , राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व हरिकथा आयोजन समिति मन्दसौर के अध्यक्ष नरेंद्र अग्रवाल द्वारा बताया गया कि भगवान श्री पशुपतिनाथ की नगरी मन्दसौर में कल 30 नवम्बर कार्तिक पूर्णिमा पर आचार्य श्री रामानुजजी के अनुष्ठान का समापन भक्तों की भावना के अनुरूप होना  था लेकिन कोरोना महामारी के कारण अब अनुष्ठान का समापन सांकेतिक रूप से गुजरात राजकोट में ही होगा। तथा कोरोना महामारी का प्रकोप खत्म होने के पश्चात पुनः भव्य रूप में अनुष्ठान की पूर्णाहुति मन्दसौर में ही तुलसी विवाह एवं निर्धन कन्याओं के  सामुहिक विवाह के रूप में कि जाएगी । , श्री राठी एवं श्री अग्रवाल ने बताया कि पूज्य गुरुदेव की द्वारिका , चित्रकूट आदि स्थानों पर सुनिश्चित आगामी कथाए भी कोरोना के निष्प्रभावी होने पर भव्यतम रूप में आयोजित होगी ।

उक्त अनुष्ठान के दौरान हुए आत्मसंयम विषय पर हुए सभी 83 प्रवचन गुरुदेव के फ़ेसबुक एवं यूट्यूब पर उपलब्ध है । भक्तगण लाभ लेवे।
Chania