Sunday, August 1st, 2021 Login Here
छापामार कार्रवाहीं में यूरिया की कालाबाजारी करते पकड़े गऐ व्यापारी जहरीले जाम से बही के चैकीदार की भी मौत, एसआईटी पहुंची जांच के लिए एम्बुलेंस स्टेण्ड पर जमाया निजी टैक्सियों ने कब्जा, पुलिस ने हटवाया मंडी में हम्मालों ने कर दी हड़ताल, चर्चा के बाद काम पर लोटे मंगलवार को बादल हुए साफ, ठण्डक रहीं बरकरार जहरीली शराब कांड, एक के बाद एक तीन और मौतों के बाद आंकड़ा पहंुचा 10 पर सावन का पहला सोमवार, शिवमय हुआ पशुपति का शहर लगातार बारिश से शिवना लबालब, शिव के अभिषेक से दूर रह गई मैय्या अब मंदसौर के आसमान पर उडान भर तैयार होंगें पायलट जहरीली शराब से एक और की मौत, चार गंभीर में से एक रेफर महिनों के बजाय सालों में पूरे हुए सेतु में घटिया निर्माण का टांका फिर भी कार्रवाहीं नहीं शराब पीने के बाद तीन की मौत , चार घायल समर्थ गुरु से जुड़े जीवन मे अज्ञानता होगी दूर -आचार्यश्री आस्था के पुष्प से गुरू को नमन, आज से प्रारम्भ होगी शिवशंकर की आराधना साठ साल बाद गांधीसागर झील का लाभ किसानों को, डेढ़ लाख हेक्टेयर में सिंचाई

राजस्थान के जोधपुर के बाद झालावाड़ में भी बर्ड फ्लू की हो चुकी है पुष्टी
मंदसौर जनसारंगी।

मंदसौर में पिछले चार-पांच दिनों में 100 कौओं की मौत से दहशत का माहौल बन रहा है क्योंकि राजस्थान के जोधपूर के बाद झालावाड़ में भी कौओं की मौत के बाद बर्ड फ्लू की पुष्टी हो चुकी है ऐसे में कोरोना को झेल रहे मंदसौर में  कई तरह की चर्चाओं का दौर शुरु हो गया है। हालांकि प्रशासन या स्वास्थ्य विभाग की तरफ से फिलहाल कोई हलचल नजर नहीं आई है, लेकिन झालवाड़ में बर्ड फ्लू की पुष्टी ने मंदसौर में भी भय पैदा कर दिया है जो सोशल मीडिया पर देखने को मिल रहा है।
राजस्थान के जोधपुर के बाद झालावाड़ में भी बर्ड फ्लू की पुष्टी हो गई है जहां बड़ी संख्या में कौओं की मौत का मामला सामने आया है। झालावाड़ में एवियन इन्फ्लूएंजा (एक तरह का बर्ड फ्लू) से कौओं की मौत की पुष्टि के बाद राज्य के पोल्ट्री फॉर्म का व्यापार करने वालों में हडकंप मचा है। झालावाड़ जिला प्रशासन ने राड़ी के बालाजी क्षेत्र में बुधवार देर रात एक किलोमीटर क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया है। बालाजी क्षेत्र में ही 25 दिसंबर से लगातार कौओं की मौत हो रही है। यहां 100 से ज्यादा कौओं की मौत हो चुकी है। जबकि बड़ी संख्या में कौएं बीमार हैं। फिलहाल, प्रशासन ने यह नहीं बताया कि कितने कौओं की अब तक मौत हुई है। कौओं के सैंपल जांच के लिए भोपाल भी भेजे गए हैं।
झालावाड़ की घटना के बाद मंदसौर में भी डेढ़ सौ से अधिक कौओं की मौत होने की जानकारी मिली है। समाजसेवी ओम बडोलिया के अनुसार अब तक एक सौ सत्तर से अधिक कौओं ने दम तोड़ा है। जिनका विधि विधान से अंतिम संस्कार भी किया गया। हालांकि मंदसौर में इतने कौओं की मौत के कारणों का खुलासा नहीं हुआ है शहरवासियों ने भी इसे गंभीरता से नहीं लिया था लेकिन झालावाड की घटना से मंदसौर के लोगों में सनसनी फैल गई है। यह सनसनी सोशल मीडिया पर चल रही खबरो ने भी फैलाई है। फिलहाल प्रशासन ने इस अभी तक गंभीरता से नहीं लिया है, लेकिन लोगों में डर का माहौल देखा जा रहा है।
झालावाड़ में पक्षियों की मौत का पहला मामला
झालावाड़ में यह पहला मामला है जब पक्षियों में इस तरह की बीमारी सामने आई है। इधर, गुरुवार को कोटा से विशेषज्ञों की टीम झालावाड़ पहुंच गई है। यह टीम कौओं की जांच करेगी। फिलहाल, कौओं में एवियन इन्फ्लूएंजा की पुष्टि होने के बाद शहर के सभी पोल्ट्री फार्म और इनसे जुड़ी दुकानों पर सैंपलिंग करवाई जा रही है। वहीं, बालाजी क्षेत्र में स्थित पोल्ट्री फार्म और अंडों की दुकानों की बिक्री को बंद करवा दिया गया है।

Chania