Friday, June 18th, 2021 Login Here
दो दिन में चार लोगों ने कर ली आत्महत्या/ एक ही दिन में तीन ने मौत को गले लगाया 200 वैक्सीन लगना थी लेकिन 100 ही लगी, ग्रामिणों ने किया हंगामा कलेक्टर ने किया मिनी गोवा यानी कंवला के हर संभव विकास का वादा आरक्षक की मानवता/ घायल को अस्पताल पहुंचाया और घटनास्थल से मिले दस हजार भी लोटाऐ राजाधिराज के पट खुलते ही आराध्य के दर्शन कर हर्षित हुए श्रृद्धालु कोरोना के सक्रिय संक्रमित 24 बचें लेकिन फिर मिला ब्लेक फंगस का संदिग्ध मरीज वैक्सीन लगवाने के बाद मंदसौर के राजाराम ने किया शरीर पर स्टील चिपकने का दावा धर्मातंरण की सूचना के बाद पुलिस और प्रशासन ने खंगाली जेल बारिश से पहले हर बार नोटिस लेकिन सालों से नपा सूची से नाम ही नहीं हट रहे नेहरू बस स्टेण्ड हुआ विरान, उत्कृष्ट स्कूल मैदान में हुआ बसों का बसेरा छोटी पुलिया पर खड़े युवकों से 50 ग्राम स्मैक बरामद चैकिंग में हाथ लगी वाहन चोरों की गैंग, दो आरोपियों से तीन बाईक बरामद आज से राजाधिराज के दरबार में श्रृद्धालुओं को प्रवेश खुले शॉपिंग मॉल, जिम और रेस्टोरेंट, 62 दिन बाद लौटी रौनक कोरोना में सैकड़ों लोगों को खोने के बाद भी हवा की कीमत समझ नहीं आ रही

मंदसौर  जनसारंगी।
 कालाखेत-गांधी चैराहा मार्ग पर नगर पालिका द्वारा बनाए जा रहे 225 मीटर लंबे नाले का निर्माण चार माह बाद भी पूरा नहीं हो पाया है। इस कारण राहगीर और रहवासी परेशान हो रहे हैं। कार्य बंद होने का कारण ठेकेदार को समय पर भुगतान नहीं होना बताया जा रहा है। नाला निर्माण जब से शुरू हुआ है, तब से ही चींटी चाल से भी धीमी गति से चल रहा है। इसी के कारण चार माह बाद भी अधूरा ही है।
वार्ड 17 में एमआरसी स्कूल के सामने मार्ग पर नगर पालिका द्वारा करीब 225 मीटर लंबे नाले का निर्माण कार्य फरवरी माह में शुरू किया था, लेकिन चार माह में सिर्फ खोदाई और आधा-अधूरा पक्का निर्माण ही हो पाया है। नाले का काम धीमी गति से चलने के कारण रहवासी और व्यवसायी परेशान हैं। इसको लेकर कई बार रहवासी व व्यवसायियों ने आक्रोश भी जताया। निर्माण कार्य प्रारंभ होने के दौरान ही नाले की जेसीबी से खोदाई के दौरान बीएसएनएल की केबलें कट गई थीं। इसके बाद बीएसएनएल और नपा के अधिकारियों के बीच विवाद हो गया। नाले का निर्माण कार्य तो एक तरफ रह गया और नपा के अधिकारी व बीएसएएनल के अधिकारी विवाद में ही उलझे रहे। इसके कारण भी नाले का काम प्रभावित हुआ और रहवासी, व्यवसायी व राहगीर परेशान होते रहे। कुछ दिन काम बंद रहने के बाद काम शुरू हुआ। नाले की दीवारें बनाने एवं अन्य कार्य ठेकेदार द्वारा किया गया, लेकिन नपा द्वारा ठेकेदार को समय पर भुगतान जारी नहीं करने के कारण अब फिर से काम बंद हो गया है। भुगतान के कारण काम कई दिनों से बंद पड़ा है। इसके कारण रहवासी, राहगी सभी परेशान हो रहे हैं। नाले में सरिए निकल रहे हैं, इससे कभी भी कोई हादसा भी हो सकता है। जबकि नाले का निर्माण पूर्ण होने के बाद नाले को ऊपर से ढंकना भी है, ऐसे में अभी इतने काम में ओर कितना समय लगेगा यह अधिकारी भी नहीं बता पा रहे हैं।

Chania