Friday, June 18th, 2021 Login Here
दो दिन में चार लोगों ने कर ली आत्महत्या/ एक ही दिन में तीन ने मौत को गले लगाया 200 वैक्सीन लगना थी लेकिन 100 ही लगी, ग्रामिणों ने किया हंगामा कलेक्टर ने किया मिनी गोवा यानी कंवला के हर संभव विकास का वादा आरक्षक की मानवता/ घायल को अस्पताल पहुंचाया और घटनास्थल से मिले दस हजार भी लोटाऐ राजाधिराज के पट खुलते ही आराध्य के दर्शन कर हर्षित हुए श्रृद्धालु कोरोना के सक्रिय संक्रमित 24 बचें लेकिन फिर मिला ब्लेक फंगस का संदिग्ध मरीज वैक्सीन लगवाने के बाद मंदसौर के राजाराम ने किया शरीर पर स्टील चिपकने का दावा धर्मातंरण की सूचना के बाद पुलिस और प्रशासन ने खंगाली जेल बारिश से पहले हर बार नोटिस लेकिन सालों से नपा सूची से नाम ही नहीं हट रहे नेहरू बस स्टेण्ड हुआ विरान, उत्कृष्ट स्कूल मैदान में हुआ बसों का बसेरा छोटी पुलिया पर खड़े युवकों से 50 ग्राम स्मैक बरामद चैकिंग में हाथ लगी वाहन चोरों की गैंग, दो आरोपियों से तीन बाईक बरामद आज से राजाधिराज के दरबार में श्रृद्धालुओं को प्रवेश खुले शॉपिंग मॉल, जिम और रेस्टोरेंट, 62 दिन बाद लौटी रौनक कोरोना में सैकड़ों लोगों को खोने के बाद भी हवा की कीमत समझ नहीं आ रही

कई व्यापारी शटर बंद,कर रहे व्यापार, बिना वजह घूमना भी नहीं हो रहा बंद
मंदसौर जनसारंगी।
कोरोना को काबू करने के लिए पिछली 16 अप्रेल से लाॅक डाउन है, इसे अब 24 अप्रेल तक बढा दिया गया है । कोरोना से बचने के नियमों का पालन करते हुए लाॅकडाउन का पालन आम व्यापारी और आम व्यक्ति ईमानदारी से कर रहा है। यहीं कारण है कि अभी तक कोई भी छोटा या मध्यमवर्गीय व्यापारी अपनी दूकानों को बिना नियम खोलने के लिए नहीं आया है लेकिन कई बड़े व्यापारी लगातार नियमों की धज्जियां उडा रहे है। पहले पूरा शटर खोलकर व्यापार हो रहा था पुलिस की सख्ती हुई तो अब शटर खोलकर ग्राहक अंदर किए जा रहे है और व्यापार हो रहा है। इसके साथ ही कई लापरवाह लोग भी लगातार सड़कों पर बिना वजह ही घूम रहे है जबकी कोरोना पूरी तरह से पुलिस और डाक्टर की पकड़ में है यदि पुलिस और डाक्टरों के बनाऐ नियमों का पालन कर लिया जाऐ तो जल्द ही मंदसौर कोरोना से जंग जीत सकता है।
लोगों को जागरूक करने के लिए पुलिस लगातार अभियान चला रहीं है, कार्रवाहीं भी कर रहीं है बावजूद इसके लापरवाह लोग मानने को तैयार नहीं हो रहे है। पुलिस जितनी कार्रवाहीं कर रहीं है उससे ज्यादा लोग बाजार में बिना वजह निकल रहे है जबकी पुलिस ने लोगों की आवाजाहीं को रोकने के लिए शहर के कई इलाकों को पूरी तरह से बंद कर दिया है। गांधी चैराहा, बीपीएल चैराहा के साथ ही नई आबादी की गलियों को भी पूरी तरह से लाॅक कर दिया है ताकी बिना वजह लोग घरों से नहीं निकले लेकिन दिन में कई लापरवाह लोग सूनी, विरान सड़कों को नापने के लिए निकल पडते है वहीं रात में सेहत के बहाने लोग घूम रहे है जबकी उन्हें यह पता होना चाहिए कि उनका घर से बाहर निकलना सेहत बनाना नहीं बल्कि खुद की और दूसरों की सेहत को खतरे में ही डालना है। इसी तरह से शहर में कई व्यापारी भी लगातार अपने शटर खोलकर ग्राहकों को अंदर बिठा रहे है और व्यापार कर रहे है। शनिवार को जब दैनिक जनसारंगी ने शहर का दौरा किया तो कुछ दूकान में अंदर ग्राहक थे जबकी शटर बाहर से बंद था। बाहर दुकान का एक व्यक्ति ग्राहक के इंतजार में खड़ा था जैसे ही ग्राहक आते शटर खोलकर उन्हें अंदर कर दिया जा रहा था, अंदर दूकान मालिक थे जो ग्राहकों को माल बेच रहे थे इस दौरान बाहर खड़ा बंदा दूसरे ग्राहकों के साथ ही पुलिस के आने की सूचना भी दूकान के अंदर दे रहा था। इसी तरह से बस स्टेण्ड क्षेत्र में भी इसी तरह से बस स्टेण्ड क्षेत्र की कुछ दूकानों में भी इसी तरह से व्यापार हो रहा था। लेकिन पुलिस की नजर इन पर नहीं पड़ पाई।
बताया जाता है कि शहर में अनेक स्थानों पर हर दिन इसी तरह से व्यापार हो रहा है। पुलिस भी इन लापरवाह लोगों को समझाकर थक गई है लेकिन लोगों को समझ नहीं आ रहा है कि कोरोना की चैन जितनी जल्दी टूटेगी शहर लाॅक डाउन से मुक्त होंगा लेकिन लापरवाह लोग कोरोना की चेन को ब्रेक हीं नहीं होने दे रहे है जिसका खामियाजा पूरा शहर लाॅकडाउन के रूप में भुगत रहा है।
उधर लोगों को जागरूक करने के लिए पुलिस ने इस बार नया तरीका निकाला, उन्होने कोरोना का वेश धारण कर एक युवक को खडा किया जिसे एक तरफ से पुलिस ने और दूसरी तरफ से डाक्टर ने पकड़ रखा था । उन्होंने आने-जाने वाले लोगों को रोका और बिना वजह घूम रहे लोगों को समझाने की कोशिश करते हुए कहा कि पुलिस जनता को कोरोना से बचाने के लिए लगातार जतन कर रहीं है लेकिन लापरवाह लोग मानने को ही तैयार नहीं हो रहे है। ऐसे में लोगों को जागरूकता दिखानी होगी तभी शहर कोरोना से जंग जीत पाऐगा।

Chania