Sunday, August 1st, 2021 Login Here
छापामार कार्रवाहीं में यूरिया की कालाबाजारी करते पकड़े गऐ व्यापारी जहरीले जाम से बही के चैकीदार की भी मौत, एसआईटी पहुंची जांच के लिए एम्बुलेंस स्टेण्ड पर जमाया निजी टैक्सियों ने कब्जा, पुलिस ने हटवाया मंडी में हम्मालों ने कर दी हड़ताल, चर्चा के बाद काम पर लोटे मंगलवार को बादल हुए साफ, ठण्डक रहीं बरकरार जहरीली शराब कांड, एक के बाद एक तीन और मौतों के बाद आंकड़ा पहंुचा 10 पर सावन का पहला सोमवार, शिवमय हुआ पशुपति का शहर लगातार बारिश से शिवना लबालब, शिव के अभिषेक से दूर रह गई मैय्या अब मंदसौर के आसमान पर उडान भर तैयार होंगें पायलट जहरीली शराब से एक और की मौत, चार गंभीर में से एक रेफर महिनों के बजाय सालों में पूरे हुए सेतु में घटिया निर्माण का टांका फिर भी कार्रवाहीं नहीं शराब पीने के बाद तीन की मौत , चार घायल समर्थ गुरु से जुड़े जीवन मे अज्ञानता होगी दूर -आचार्यश्री आस्था के पुष्प से गुरू को नमन, आज से प्रारम्भ होगी शिवशंकर की आराधना साठ साल बाद गांधीसागर झील का लाभ किसानों को, डेढ़ लाख हेक्टेयर में सिंचाई

मंदसौर जनसारंगी।
अफजलपुर थाने में तैनात आरक्षक जितेंद्र श्रीवास्तव ने एक बार फिर  ईमानदारी की मिसाल पेश की। रात में अफजलपुर थाने से आरक्षक जितेंद्र श्रीवास्तव व पायलेट मोहम्मद शाकिर एफआरवी 20 से इवेंट पर ग्राम रठाना जा रहे थे। इस दौरान सीतामऊ मार्ग पर ग्राम छोटी रूपावली की पुलिया के पास हुई दुर्घटना में महेंद्र सिंह पिता गोपाल सिंह निवासी ग्राम मूंदड़ी घायल हो गया था, जो बेहोशी की हालत में उक्त घटना स्थल पर पड़ा मिला। जिसे देख एफआरवी वहां रुकी ओर घायल को उपचार हेतु जिला अस्पताल ले जाने की तैयारी में लगे। इस बीच वहा से गुजर रही गरोठ की एंबुलेंस को रोका गया तो एम्बुलेंस चालक ने पेट्रोल कम होने की बात की। ऐसे में आरक्षक जितेंद्र श्रीवास्तव ने एंबुलेंस चालक को अपनी जेब से 500 रुपए दिए। इसके बाद घायल को एंबुलेंस की मदद से उपचार हेतु जिला अस्पताल पहुंचाया। जहां घायल को उपचार के वार्ड में भर्ती कराया गया। बाद में घटनास्थल से घायल महेंद्र सिंह का मोबाइल और एक पर्स मिला। पर्स में दस हजार रुपए थे। मोबाइल के माध्यम से श्रीवास्तव ने महेंद्र के परिजनों को सूचना दी और अपनी ईमानदारी का परिचय देते हुए गुरुवार सुबह घायल के भाई धनपाल सिंह को बुलाकर उन्हें रुपयों से भरा पर्स, मोबाइल और बाइक सुपुर्द की। गौरतलब है कि इससे पहले भी श्रीवास्तव ने शिवना नदी में कूदे एक युवक युवक की जान बचाई थी। इसके अलावा नरसिंहपुरा के आकाश कुमावत के रास्ते पर गिरे मीले 20 हजार रुपए उसे कोतवाली बुलाकर लौटाए थे। एसपी सिद्धार्थ चैधरी साहब ने जितेंद्र श्रीवास्तव को 500-500 रुपए इनाम से नवाजा था।

Chania