Friday, June 18th, 2021 Login Here
दो दिन में चार लोगों ने कर ली आत्महत्या/ एक ही दिन में तीन ने मौत को गले लगाया 200 वैक्सीन लगना थी लेकिन 100 ही लगी, ग्रामिणों ने किया हंगामा कलेक्टर ने किया मिनी गोवा यानी कंवला के हर संभव विकास का वादा आरक्षक की मानवता/ घायल को अस्पताल पहुंचाया और घटनास्थल से मिले दस हजार भी लोटाऐ राजाधिराज के पट खुलते ही आराध्य के दर्शन कर हर्षित हुए श्रृद्धालु कोरोना के सक्रिय संक्रमित 24 बचें लेकिन फिर मिला ब्लेक फंगस का संदिग्ध मरीज वैक्सीन लगवाने के बाद मंदसौर के राजाराम ने किया शरीर पर स्टील चिपकने का दावा धर्मातंरण की सूचना के बाद पुलिस और प्रशासन ने खंगाली जेल बारिश से पहले हर बार नोटिस लेकिन सालों से नपा सूची से नाम ही नहीं हट रहे नेहरू बस स्टेण्ड हुआ विरान, उत्कृष्ट स्कूल मैदान में हुआ बसों का बसेरा छोटी पुलिया पर खड़े युवकों से 50 ग्राम स्मैक बरामद चैकिंग में हाथ लगी वाहन चोरों की गैंग, दो आरोपियों से तीन बाईक बरामद आज से राजाधिराज के दरबार में श्रृद्धालुओं को प्रवेश खुले शॉपिंग मॉल, जिम और रेस्टोरेंट, 62 दिन बाद लौटी रौनक कोरोना में सैकड़ों लोगों को खोने के बाद भी हवा की कीमत समझ नहीं आ रही

       (ब्रजेश जोशी)
 यही होना था....बहुत बढ़िया किया...पाकिस्तान ऐसी ही भाषा समझता है...मजा आ गया...अब मालूम पड़ेगी नापाक पाक को कि हिन्दुस्तान क्या चीज है...वाकई हमारी वायु सेना लाजवाब है...बदला ले लिया...इतनी बड़ी कार्यवाही की की ही उम्मीद थी....।
    यह सब हम नहीं कह रहे वरन आम जन-मानस के मुख से दिन भर जो भावनाएं व्यक्त हुई है वह लिख रहे हैं।मंगलवार की सुबह न्यूज चैनल्स पर भारतीय वायुसेना द्वारा पाक सीमा में घूस कर आतंकी ठिकानों पर एयर सर्जिकल स्ट्राईक करने की खबर लोगों ने देखी बस यही सब प्रतिक्रियाएं व्यक्त होतीं रही। और इन सब बातों के साथ   नरेन्द्र मोदी के 56 इंची सीने की भी चर्चा होती रही  जनता की  प्रतिक्रियाओं में वे हीरो के रूप में उभरे हैं। मोदी का कृतित्व और यह बड़ी कार्यवाही काफी मेल खाते हैं। पुलवामा के बाद सेना को खुली छूट देना और राजनैतिक इच्छाशक्ति से जन भावनाओं के अनुरूप कड़ा कदम उठाना मोदी से अपेक्षित था। पाक सीमा में घूस कर आतंक के सरगना और पुलवामा के गुनाहगार अजर मसूद की सल्तनत को नेस्तनाबूत करना हिन्दुस्तान की हिम्मत को दर्शाता  है। हमारी वायुसेना के शौर्य को प्रणाम...! आतंक के खिलाफ इतनी बड़ी जंग दुनिया ने भी पहली बार देखी,सहम गया होगा दुनिया का चोधरी अमेरिका भी.. सन्न रह गया होगा दुनिया की महाशक्ति रूस , चोंक गया होगा सैन्य शक्ति की डींगें हांकने वाला चीन हिन्दुस्तान की रहमदिली और शांतिप्रियता को उसकी कमजोरी समझने वाले आतंकी आकाओं को अब अच्छी तरह मालूम हो गया होगा  हमारी सैन्य शक्ति पराक्रम। दहल गया होगा अजर मसूद भी जिसे अपनों को खोने के दर्द का अहसास हुआ होगा। खुद मारा जाता तो अपने भाई, साले और अन्य रिश्तेदारों की मौत दर्द कैसे सहता। हमारे अनेक देशवासियों को मौत का दर्द देने वाला दुर्दांत आतंकी सरगना मसूद अब इतना ख़ौफ़ज़दा हो गया होगा कि  चूहे की आहट से भी डर जाता होगा।
वास्तव में बिना युद्ध के इससे बड़ी कार्यवाही और कोई हो नहीं सकती थी। पुलवामा का गम अब 
जोश में बदल गया है। देश के नेताओं से एक अनुरोध है कि वे इस शौर्य गाथा पर राजनीति न करें न श्रेय लेने की न विरोध करने की....यदि ऐसा किया गया तो जनता की निगाह में  राजनीति के पतन की पराकाष्ठा होगी। यह राजनीति का नहीं राष्ट्रनीति का विषय है।भारत की इस दहाड़ से पाकिस्तान कराह उठा है।और पूरी दुनिया हमारी सैन्य शक्ति को सेल्यूट कर रही है।
Chania