Sunday, March 3rd, 2024 Login Here
मंदसौर संसदीय क्षेत्र से सुधीर गुप्ता को मिला टिकीट सेवा कार्यो में उत्कृष्ट कार्य को लेकर रेडक्रॉस सोसायटी जिला शाखा मंदसौर को मिला अवार्ड बांछड़ा डेरों पर पुलिस की दबिश, भारी मात्रा में अवैध शराब जप्त प्रतिवेदन पेश नहीं करने पर नपा सीएमओं के खिलाफ पांच हजार का जमानती वारंट जारी सूदखोरों से परेशान होकर की आत्महत्या, पिता के मृत्युभोज के लिए लिया था पैसा मंत्री सारंग ने की वन-टू-वन चर्चा, कहा 6 लाख वोट से भाजपा को जिताने का संकल्प ले लोकसभा चुनाव - भाजपा के 155 उम्मीदवारों की सूची आज घोषित होने की संभावना स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 200 से अधिक प्रतिनिधि को राष्ट्रीय अवॉर्ड से सम्मानित किया भैरव घाटी पर सड़क हादसा, एक की दर्दनाक मौत दो कारों की आमने-सामने भिडन्त, कॉन्स्टेबल की मौत मानपुरा में ग्रामीण के घर, बाड़े व स्विफ्ट कार से 63 किलो से अधिक अफीम जब्त सुपर पॉवर बनने की दिशा में तीन सेमीकंडक्टर, 1.26 लाख करोड़ के प्लांट को सरकार की मंजूरी 8 महिने बाद खाटु श्याम बाबा के मंदिर में प्रवेश कर भक्तों ने किए दर्शन 15 मिनिट में एक लाख का साउंड सिस्टम चुराने वाला बदमाश सीसीटीवी से पकडाया प्रधानमंत्री ने किया वर्चुअल भूमिपूजन, मंदसौर में 99.14 करोड़ की लागत से 18 महीने में तैयार होगा औद्योगिक पार्क

मन्दसौर। पूज्य सिन्धी भाईबंध पंचायत के आशीर्वाददाता, समाजसेवक बाबूजी के नाम से प्रसिध्द बैंक कर्मी स्व. शिवानी बाबू स्व. चन्द्रकुमार शिवानी की सातवीं व उनकी धर्मपत्नी स्व. श्रीमती कमलादेवी शिवानी की प्रथम वर्सी महोत्सव श्री प्रेमप्रकाश आश्रम में उनकी आत्म शांति व धार्मिक विधि विधान के अनुसार मनाया गया।

इस आशय की जानकारी श्री प्रेमप्रकाश सेवा मण्डली के किशन लालवानी एवं पूज्य सिंधी भाई बंध पंचायत के अध्यक्ष नन्दू आडवानी ने देते हुए बतायसा कि मृत आत्माओं को शांति एवं परिवार व समाज में सुख समृध्दि की कामनाओं हेतु 1 जून शनिवार को श्री प्रेमप्रकाश आश्रम में श्रीमद् भागवत गीता एवं श्री प्रेमप्रकाश ग्रंथ के पाठों की स्थापना की गईं। जिसको श्रध्दालुजनों ने वाचन किया। उनका समापन बाबूजी की वर्सी दिवस 6 जून को महिला मण्डली की अध्यक्ष श्रीमती पुष्पा लक्ष्मणदास पमनानी ने 'शांति के दोहे' एवं श्रीमद् भागवत गीता के अंतिम अध्याय का वाचन श्री प्रेमप्रकाश आश्रम के  प्रमुख विनोद खेतीया ने कर किया व श्रध्दा रूमाल इंदौर से पधारे बाबूजी के परिवार के पुत्र व पुत्र वधु श्रीमती सरला अजय शिवानी, श्रीमी प्रिया राजकुमार शिवानी, रतलाम से बहन गोधावरी देवी मनोहरलाल जेठवानी, भाई व बहु श्रीमती निर्मला पुरूषोत्तम शिवानी एवं श्रीमती दिव्या नारायण शिवानी ने ग्रंथ व श्रीमद् भागवत गीता पर चराकर सम्पन्न किया।

इस पावन अवसर पर श्रीमती पुष्पा लक्ष्मणदास पमनानी, विनोद खेतीया व महिला मण्डली क सेवाधारियों ने माना पिता की महिमा के सुन्दर भजन प्रस्तुत किये। व अपने मुखारविन्द से कहा कि जो मनुष्य अपने जीवन में सत कर्म करता है व अपने गुरू को समर्पण भाव से सेवा कार्य करता है तो उनके वर्सी उत्सव पर मेले व उत्सव आयोजित होते है। शिवानी बाबू ने भी अपने जीवन में खुब संघर्ष किया व ईमानदारी से समाज व मानव की सेवा का कार्य किया। ''वर्सी मेला लगन जीन जा, जीन मन खे पारीया आहे''। जो मनुष्य लोभ, मोह, अहंकार, काम, क्रोध के विकारों को त्याग करता है वह अपने जीवन को सतगुरू की सेवा में अर्पण कर देता है। उसका जगत में नाम अमर हो जाता है। शिवानी बाबू के सेकड़ों स्नेहीजन व प्रेमीजनों ने श्री प्रेमप्रकाश आश्रम में पधारकर श्रीमती कमलादेवी चन्द्रकुमार शिवानी की तस्वीर पर पुष्प अर्पित किये। जिसमें प्रमुख रूप से पूर्व मंत्री कैलाश चावला, पं. महेश मिश्रा, पूर्व आयकर अधिकारी दुर्गेश जिंदल, सुरेन्द्रसिंह सिसौदिया, कुलदीपसिंह सिसौदिया, पं. विनोद शर्मा, नन्दू आडवानी, दृष्टानंद नैनवानी, वासुदेव खैमानी, पं. प्रकाश शर्मा, कन्हैयालाल बाबानी, स्मृति बैंक के जी.टी. हेमनानी, गिरधारीलाल काउ जजवानी, राम कोटावानी, राम कल्याणी, त्रिलोक रूपलानी, दयाराम जैसवानी, ठाकुरदास खेराजानी, ठाकुरदास श्यामयानी, प्रकाश बुलचंदानी, पी.आर. ज्ञानी, आसनदास सेवलदासानी, भीमसेन संगतानी, दिनेश बाबानी, महेश डालवानी, दिनेश कल्याणी आदि ने भगवान श्री लक्ष्मीनारायण एवं सतगुरू टेऊरामजी महाराज की आरती भी सम्पन्न की।  अंत में सुख, शांति, समृध्दि व अमन चैन का पल्लव गादिनशीन पंचमपीठावेश्वर सतगुरू स्वामी भगतप्रकाश महाराज के मुखारविन्द के पल्लव का प्रसारण किया गया व आभार प्रदर्शन सेवा मण्डली के अध्यक्ष पुरूषोत्तम शिवानी एवं दयाराम जैसवानी ने माना।

Chania