Sunday, February 25th, 2024 Login Here
गरीब के जीवन से कष्टों को मिटाना प्रदेश सरकार का लक्ष्य-डॉ यादव चिकित्सक पर हुई कार्रवाहीं का डाक्टरों व सिंधी समाज ने किया विरोध किरायेदारों से अनजान पुलिस, मकान मालिक भी लापरवाह नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद बंशीलाल जी गुर्जर का मंदसोर शहर में होगा भव्य स्वागत ट्रक में लहसुन के नीचे छुपाकर रख 1031 किलो डोडाचूरा जब्त, ड्राइवर गिरफ्तार मुख्‍यमंत्री डॉ.मोहन यादव आज नीमच में 752 करोड से अधिक के कार्यो का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे 36 घंटे में पुलिस ने किया अन्तरॉज्जीय लूटेरों को गिरफ्तार मदिरा दुकानों के नवीनीकरण आवेदन 22 फरवरी तक करें पांच साल के इंतजार के बाद आज से मंदसौर में प्रारंभ होगा पासपोर्ट कार्यालय मध्यप्रदेश से राज्यसभा के पांचों प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित; 4 सीट बीजेपी, एक कांग्रेस के खाते में 133 किमी लंबे मार्ग में 14 किमी लंबा दूसरा रेलवे ट्रैक तैयार साँप भगाने के लिए टैंक में पेट्रोल डाला, तीली जलाते ही धमाका हुआ, दम्पत्ति झुलसे नदियॉ को छलनी करने का खेल चल रहा,माफियाओं पर नही लग पा रही नकेल सिंगिग स्टार बनने के चक्कर मे लोग हो रहे शिकार संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित होने वाले सांसदों को राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने बधाई दी

    पाकिस्तान की ओर से कश्मीर के पुंछ और राजौरी सेक्टर में गुरुवार रात मोर्टार दागे गए, भारत ने मुंहतोड़ जवाब दिया
    उरी में पाक रेंजर्स की फायरिंग में सूबेदार समेत की जान गई, बुधवार को भारत ने 2 पाकिस्तानी सैनिक मार गिराए थे
श्रीनगर. पाकिस्तान लगातार जम्मू-कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पर संघर्ष विराम का उल्लंघन कर रहा है। पाक रेंजर्स ने गुरुवार रात फिर पुंछ और राजौरी सेक्टर में गोलाबारी की। सैन्य सूत्रों के मुताबिक, भारतीय सेना ने एलओसी के उस पार से हो रही फायरिंग का मुंहतोड़ जवाब दिया। इस कार्रवाई में करीब 4 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए।
इमरान सरकार ने बुधवार को माना था कि भारत की गोलाबारी में पीओके के देवा सेक्टर में उसके दो सैनिकों की मौत हो गई। दरअसल, यह कार्रवाई उरी सेक्टर में संघर्ष विराम उल्लंघन के बाद की गई थी। जिसमें सेना के एक सूबेदार शहीद हो गए और एक महिला की भी जान गई थी। संघर्ष विराम उल्लंघन पर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुवार को कहा था कि सीमा सुरक्षा को लेकर पूरे देश को आश्वस्त रहना चाहिए। जो भी जरूरी होगा वो कदम उठाया जाएगा। भारतीय सेना मुंहतोड़ जवाब देने में पूरी तरह सक्षम है।
भारत के हमले से बचने के लिए पीओके के नागरिकों को ढाल बनाया
पाकिस्तान भारतीय प्रहार से बचने के लिए पीओके के नागरिकों को ढाल बना रहा है। लोगों में पाक सेना के प्रति बढ़ रहे अविश्वास को देखते हुए प्रधानमंत्री इमरान खान ने गुरुवार को एलओसी पर बसे लोगों को बस्तियां नहीं छोड़ने के लिए आर्थिक मदद की घोषणा की। यह मदद एलओसी के दो किमी के दायरे में बसे 33,498 परिवारों की सभी विवाहित महिलाओं को हर माह 10 डॉलर (1546 पाकिस्तानी रुपए) के रूप में मिलेगी। लेकिन, इसकी शर्त यह होगी कि ये परिवार सीमा न छोड़ें। सीमा छोड़ने पर आर्थिक मदद वापस ले ली जाएगी।
5 अगस्त के बाद से गोलीबारी की घटनाएं बढ़ी 
पाकिस्तान लंबे समय से भारतीय सीमा में रिहायशी इलाकों को मोर्टार से निशाना बनाता रहा है। 21 और 22 दिसंबर की रात भी पाक रेंजर्स ने कश्मीर के मेंढर, कृष्णा घाटी और पुंछ में फायरिंग की थी। 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद पाकिस्तान की तरफ से सीजफायर तोड़े जाने की घटनाएं बढ़ गई हैं।





Chania