Sunday, February 25th, 2024 Login Here
गरीब के जीवन से कष्टों को मिटाना प्रदेश सरकार का लक्ष्य-डॉ यादव चिकित्सक पर हुई कार्रवाहीं का डाक्टरों व सिंधी समाज ने किया विरोध किरायेदारों से अनजान पुलिस, मकान मालिक भी लापरवाह नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद बंशीलाल जी गुर्जर का मंदसोर शहर में होगा भव्य स्वागत ट्रक में लहसुन के नीचे छुपाकर रख 1031 किलो डोडाचूरा जब्त, ड्राइवर गिरफ्तार मुख्‍यमंत्री डॉ.मोहन यादव आज नीमच में 752 करोड से अधिक के कार्यो का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे 36 घंटे में पुलिस ने किया अन्तरॉज्जीय लूटेरों को गिरफ्तार मदिरा दुकानों के नवीनीकरण आवेदन 22 फरवरी तक करें पांच साल के इंतजार के बाद आज से मंदसौर में प्रारंभ होगा पासपोर्ट कार्यालय मध्यप्रदेश से राज्यसभा के पांचों प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित; 4 सीट बीजेपी, एक कांग्रेस के खाते में 133 किमी लंबे मार्ग में 14 किमी लंबा दूसरा रेलवे ट्रैक तैयार साँप भगाने के लिए टैंक में पेट्रोल डाला, तीली जलाते ही धमाका हुआ, दम्पत्ति झुलसे नदियॉ को छलनी करने का खेल चल रहा,माफियाओं पर नही लग पा रही नकेल सिंगिग स्टार बनने के चक्कर मे लोग हो रहे शिकार संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित होने वाले सांसदों को राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने बधाई दी

मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव कार्यालय ने चर्चा के बिंदु तय करने की तैयारी शुरू कर दी है।
भोपाल। नए साल की शुरुआत में मुख्यमंत्री कमलनाथ अधिकारियों से रूबरू होंगे। तीन दिसंबर को मंत्रालय में शाम छह बजे से अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, सचिव और विभागाध्यक्षों की बैठक बुलाई गई है। इस दौरान वे सालभर में किए जाने वाले कामों को लेकर सरकार की अपेक्षाएं और रोडमैप सामने रखेंगे। वहीं, अधिकारियों के साथ वन-टू-वन मुलाकात भी करेंगे।
सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री कमलनाथ दो या तीन दिसंबर को भोपाल लौटेंगे। नए साल में कामकाज की शुरुआत वे मंत्रालय में अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। इसके लिए मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव कार्यालय ने चर्चा के बिंदु तय करने की तैयारी शुरू कर दी है।
बताया जा रहा है कि वर्ष 2020 में सरकार की जो प्राथमिकताएं रहेंगी, उनको लेकर बैठक में चर्चा की जाएगी। वहीं, वर्ष 2019 में हुए काम और जो कमियां सामने आईं हैं, उन्हें भी रखा जाएगा। सरकार के सामने सबसे बड़ी चुनौती वित्तीय प्रबंधन की रहने वाली है।
इसको लेकर सभी विभागों को आय के स्रोत बढ़ाने और मितव्ययिता के टिप्स दिए जा सकते हैं। मुख्यमंत्री कार्यालय के अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री से तीन दिसंबर को जो भी अधिकारी मिलकर अपनी बात रखना चाहता है, इसके लिए वे वन-टू-वन मुलाकात भी करेंगे।
चार जनवरी को होगी कैबिनेट
सूत्रों के मुताबिक नए साल में कमलनाथ कैबिनेट की पहली बैठक चार जनवरी को मंत्रालय में होगी। इसमें उद्योगों को समयबद्ध स्वीकृति से जुड़े कानून का मसौदा मंजूरी के लिए रखा जा सकता है। उद्योग विभाग की तैयारी इसे अध्यादेश के जरिए लागू करने की है।

Chania