Monday, February 26th, 2024 Login Here
गरीब के जीवन से कष्टों को मिटाना प्रदेश सरकार का लक्ष्य-डॉ यादव चिकित्सक पर हुई कार्रवाहीं का डाक्टरों व सिंधी समाज ने किया विरोध किरायेदारों से अनजान पुलिस, मकान मालिक भी लापरवाह नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद बंशीलाल जी गुर्जर का मंदसोर शहर में होगा भव्य स्वागत ट्रक में लहसुन के नीचे छुपाकर रख 1031 किलो डोडाचूरा जब्त, ड्राइवर गिरफ्तार मुख्‍यमंत्री डॉ.मोहन यादव आज नीमच में 752 करोड से अधिक के कार्यो का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे 36 घंटे में पुलिस ने किया अन्तरॉज्जीय लूटेरों को गिरफ्तार मदिरा दुकानों के नवीनीकरण आवेदन 22 फरवरी तक करें पांच साल के इंतजार के बाद आज से मंदसौर में प्रारंभ होगा पासपोर्ट कार्यालय मध्यप्रदेश से राज्यसभा के पांचों प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित; 4 सीट बीजेपी, एक कांग्रेस के खाते में 133 किमी लंबे मार्ग में 14 किमी लंबा दूसरा रेलवे ट्रैक तैयार साँप भगाने के लिए टैंक में पेट्रोल डाला, तीली जलाते ही धमाका हुआ, दम्पत्ति झुलसे नदियॉ को छलनी करने का खेल चल रहा,माफियाओं पर नही लग पा रही नकेल सिंगिग स्टार बनने के चक्कर मे लोग हो रहे शिकार संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित होने वाले सांसदों को राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने बधाई दी
    प्रदेश के 25 से ज्यादा शहरों-जिलों में पारा गिरकर 5 या उससे नीचे चला गया है
    ग्वालियर चंबल में विजिबिलिटी जीरो रही, मुख्यमंत्री कमलनाथ का दौरा निरस्त 

भोपाल. मध्यप्रदेश में कडाके की ठंड है। प्रदेश के ज्यादातर हिस्से शीतलहर की चपेट में है। कई जिलों में तापमान लगातार गिर रहा है। उत्तरी इलाकों से आ रहीं बर्फीली हवाएं प्रदेश में ठिठुरन बढ़ी है। कड़ाके की ठंड से कई शहरों में पाला पड़ गया है और पत्तियों पर ओस की बूंदे जम गईं हैं। राज्य के 25 शहरों में पारा 5 डिग्री या उससे नीचे दर्ज किया गया है। इधर, घने कोहरे और ज़ीरो विसिबिलिटी के कारण ग्वालियर- भिंड का मुख्यमंत्री कमलनाथ का दौरा निरस्त हो गया है। उन्हें रावतपुरा सरकार के यहां मुरारी बापू की कथा के बाद लहार-भिंड में कर्जमाफी के कार्यक्रम में भाग लेना था।
टीकमगढ़, रायसेन और रतलाम इलाकों में पाले का असर रहा। खेतों में फसलों पर ओस जम गई है। प्रदेश में सबसे सर्द रात टीकमगढ़ में रही, जहां पर पारा पारा 1.5 डिग्री पर पहुंच गया। वहीं पचमढ़ी में तापमान 1.2 डिग्री दर्ज किया गया है। एक दिन में दो डिग्री से ज्यादा की गिरावट दर्ज की गई है। दो दिन में भोपाल में लगातार दूसरे दिन पारे में गिरावट जारी रही है और न्यूनतम तापमान एक डिग्री घटकर 5.3 डिग्री दर्ज किया गया, शुक्रवार को ये 6.3 डिग्री था।

मौसम विभाग के अनुसार, उत्तर से आ रही बर्फीली हवाओं के कारण प्रदेश कड़ाके की ठंड से ठिठुर गया है। ज्यादातर शहरों में रात के तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। मालवा, निमाड़, बुंदेलखंड, भिंड, ग्वालियर-चंबल और महाकौशल समेत भोपाल संभाग के इलाकों में ज्यादातर शहरों में शीत लहर और कोल्ड डे जैसे हालात रहे। मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया ने बताया कि नमी कम हो गई है उत्तर से सर्द हवाएं सीधे आ रही हैं, जिससे कड़ाके की ठंड पड़ रही है। ग्वालियर चंबल में विजिबिलिटी शुक्रवार को आधी रात से ही जीरो हो गई है। वहीं टीकमगढ़, खजुराहो और शिवपुरी में विजिबिलिटी 50 मीटर तक चली गई।

    इन जिलों में शीतलहर और तीव्र शीतलहर - मौसम विभाग के अनुसार, सागर, रीवा, शहडोल, जबलपुर, ग्वालियर, चंबल, उज्जैन, इंदौर, होशंगाबाद और भोपाल संभागों में कुछ जिलों में शीत लहर और तीव्र शीतलहर चलेगी।
    कोल्ड डे और सीवियर कोल्ड डे इन शहरों में -  सागर, रीवा, शहडोल, जबलपुर, ग्वालियर, चंबल, उज्जैन, इंदौर, होशंगाबाद और भोपाल संभाग के कुछ जिलों में कोल्ड डे तो कुछ शहरों में सीवियर कोल्ड डे रहेगा।
    घना और अत्यधिक घना कोहरा - सागर, रीवा, शहडोल, ग्वालियर और चंबल संभाग के कुछ जिलों में घना और अत्यधिक घना कोहरा रहेगा।
    इन जिलों में पड़ेगा पाला - सागर, रीवा, ग्वालियर, शहडोल, चंबल संभाग के कुछ जिलों में कहीं-कहीं पाला पड़ने की संभावना है।
Chania