Monday, February 26th, 2024 Login Here
गरीब के जीवन से कष्टों को मिटाना प्रदेश सरकार का लक्ष्य-डॉ यादव चिकित्सक पर हुई कार्रवाहीं का डाक्टरों व सिंधी समाज ने किया विरोध किरायेदारों से अनजान पुलिस, मकान मालिक भी लापरवाह नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद बंशीलाल जी गुर्जर का मंदसोर शहर में होगा भव्य स्वागत ट्रक में लहसुन के नीचे छुपाकर रख 1031 किलो डोडाचूरा जब्त, ड्राइवर गिरफ्तार मुख्‍यमंत्री डॉ.मोहन यादव आज नीमच में 752 करोड से अधिक के कार्यो का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे 36 घंटे में पुलिस ने किया अन्तरॉज्जीय लूटेरों को गिरफ्तार मदिरा दुकानों के नवीनीकरण आवेदन 22 फरवरी तक करें पांच साल के इंतजार के बाद आज से मंदसौर में प्रारंभ होगा पासपोर्ट कार्यालय मध्यप्रदेश से राज्यसभा के पांचों प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित; 4 सीट बीजेपी, एक कांग्रेस के खाते में 133 किमी लंबे मार्ग में 14 किमी लंबा दूसरा रेलवे ट्रैक तैयार साँप भगाने के लिए टैंक में पेट्रोल डाला, तीली जलाते ही धमाका हुआ, दम्पत्ति झुलसे नदियॉ को छलनी करने का खेल चल रहा,माफियाओं पर नही लग पा रही नकेल सिंगिग स्टार बनने के चक्कर मे लोग हो रहे शिकार संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित होने वाले सांसदों को राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने बधाई दी

कर रखा था अवैध भंडारण,कलेक्टर-एसपी भी पहुंचे मौके पर
नाहरगढ़ जनसारंगी।
जिस चावल को गरीब की थाली में पहुंच कर उसके पेट की आग को शांत करना था वहीं चावल एक गौदाम से अवैध भंडारण के रूप मेंपकडाया।देर शाम तक चले तोल के बाद  198  क्विटल चावल निकला जिसके बाद अमले ने  जहां से चावल आने की संभावना थी उस राशन की दूकान का ेसील कर दिया। इतनी बड़ी मात्रा में सरकारी चावल पकड़े जाने के बाद रात में कलेक्टर मनोज पुष्प और पुलिस अधीक्षक सिद्दार्थ चौधरी भी मौके पर पहुंचे। पांच महिने में  एक बार फिर सार्वजनिक वितरण प्रणाली के चावल पकड़े गऐ है इससे पहले मंदसौर के औघोगिक क्षेत्र में एक गौदाम पर और उसके बाद धानमंडी क्षेत्र से भी   गरीब की थाली का चावल बड़ी मात्रा में पकड़ा गया था लेकिन यह चावल कहां से आकर व्यापारियों की दूकान और गौदाम तक पहुंच रहा है इसका खुलासा नहीं हो पाया है।
लॉक डाउन के दौरान किसी भी गरीब को भूखा नहीं रहना पडे इसके लिए सरकार ने पीडीएस (सार्वजनिक वितरण प्रणाली ) के तहत हर व्यक्ति को चावल उपलब्ध कराया था लेकिन यह चावल गरीब की थाली तक पहुंचने से पहले ही व्यापारियोेंके गौदाम और दूकानों तक पहुंच रहा है।मंगलवार की सुबह प्रशासनिक अमले ने नाहरगढ़ में स्थित एक गौदाम पर छापामार कार्रवाई कर 198 क्विंटल सरकारी चावल पकड़े। बताया जाता है कि सीतामऊ  तहसील के नाहरगढ़  स्थित हनुमान मंदिर के पास राहुल धनोतिया के गोदाम पर सरकारी चांवल होने की जानकारी एसडीएम बिहारीसिंह को मिली। इसके बाद एसडीएम बिहारीसिंह और नायब तहसीलदार वैभव जैन प्रशासनिक टीम के साथ गोदाम पर पहुंचे।  यहां तलाशी लेने पर गोदाम में बड़ी मात्रा में चावल मिला। यह चावल राशन दुकानों पर बंटने के लिए शासन द्वारा भेजा गया था । इस कार्रवाही के दौरान प्रशासन ने जिस राशन की दूकान से चावल आने की संभावना जताई जा रहीं थी उसे भी सील किया।
बडी मात्रा में सरकारी चावल मिलने की खबर से हडकं प मच गया। सुबह शुरू हुई छापामार कार्रवाई के बाद देर शाम तक चावल का तोल चलता रहा। एसडीएम बिहारीसिंह, नायब तहसीलदार वैभव जैन भी मौके पर पहुंचे इसके साथ ही आपूर्ति विभाग के नारायणसिह चंद्रावत व रविन्द्र सिंह राठौर भी मौके पर ही मौजूद थे, करीब 20 चोकीदार और 12 पटवारी चावल की तुलाई में जूटे हुए थे।मौके पर खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग का अमला भी पहुंच गया था। अनुमान के मुताबिक करीब सौ क्विंटल से ज्यादा चावल पकडा गया है। हालांकि चावल कहां से आया था इसकी जानकारी अब तक नहीं है। लेकिन इतना तय है कि यह चावल गरीबों को राशन की दूकान के माध्यम से बंटना था लेकिन यह बजाय गरीबों के घरों तक पहुंचने के कालाबाजारियों के गौदाम तक पहुंच गया।
पहले पकडा था व्यापारी के गौदाम से 500 क्विंटल ओर पिकप से 37 क्विंटल
मंदसौर में करीब पांच महिने पहले खाद्य विभाग ने औघेगिक क्षेत्र स्थित एक गौदाम से 500 क्विंटल चावल पकडा था इसके एक महिने बाद यातायात विभाग ने पिकप से 37 क्विंटल चावल पकडा था लेकिन इन दोनो ही मामलों में अब तक यह साफ नहीं हो पाया है कि यह चावल कहा से आया था। क्योंकि यह चावल भी सरकारी राशन की दूकानों के माध्यम से गरीबों तक बंटना थे लेकिन बजाय गरीब की थाली तक पहुंचने के व्यापारियों के गौदाम तक पहुंच गए थें । मंदसौर जिले में पांच महिने में इतनी बडी मात्रा में सरकारी चावल व्यापारियों के यहां से मिल रहे है बावजूद इसके अभी तक इस मामलें में गहन जांच नहीं हो पाई है कि आखिर यह चावल कहां से पहुंच रहा है। उधर खाद्य विभाग लगातार दावा कर रहा है कि उनका स्टॉक बराबर है जितना चावल गरीबों को दिया गया है इसके अलावा जितना चावल होना चाहिऐ वह बराबर गौदामों में रखा है ऐसे में सवाल उठ रहा है  कि जब खाद्य विभाग उनका स्टॉक बराबर होने का दावा कर रहा है तो फिर आखिर चावल आ कहा से रहा है।

प्रकरण दर्ज कराऐगें
क्विंटलों चावल होने की संभावना है । एसडीएम, नायब तहसीलदार और  खाद्य अधिकारी मौके पर कार्रवाही कर रहे है। जिस राशन की दूकान से आने की संभावना बताई जा रहीं है उसे भी सील किया गया है। पूरे मामलें की जांच चल रहीं है इसके बाद इसमें प्रकरण भी दर्ज कराया जाऐगा।
मनोज पुष्प,कलेक्टर
Chania