Sunday, February 25th, 2024 Login Here
गरीब के जीवन से कष्टों को मिटाना प्रदेश सरकार का लक्ष्य-डॉ यादव चिकित्सक पर हुई कार्रवाहीं का डाक्टरों व सिंधी समाज ने किया विरोध किरायेदारों से अनजान पुलिस, मकान मालिक भी लापरवाह नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद बंशीलाल जी गुर्जर का मंदसोर शहर में होगा भव्य स्वागत ट्रक में लहसुन के नीचे छुपाकर रख 1031 किलो डोडाचूरा जब्त, ड्राइवर गिरफ्तार मुख्‍यमंत्री डॉ.मोहन यादव आज नीमच में 752 करोड से अधिक के कार्यो का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे 36 घंटे में पुलिस ने किया अन्तरॉज्जीय लूटेरों को गिरफ्तार मदिरा दुकानों के नवीनीकरण आवेदन 22 फरवरी तक करें पांच साल के इंतजार के बाद आज से मंदसौर में प्रारंभ होगा पासपोर्ट कार्यालय मध्यप्रदेश से राज्यसभा के पांचों प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित; 4 सीट बीजेपी, एक कांग्रेस के खाते में 133 किमी लंबे मार्ग में 14 किमी लंबा दूसरा रेलवे ट्रैक तैयार साँप भगाने के लिए टैंक में पेट्रोल डाला, तीली जलाते ही धमाका हुआ, दम्पत्ति झुलसे नदियॉ को छलनी करने का खेल चल रहा,माफियाओं पर नही लग पा रही नकेल सिंगिग स्टार बनने के चक्कर मे लोग हो रहे शिकार संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित होने वाले सांसदों को राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने बधाई दी

कार्यवाही नही होने तक मंदसौर में पीएम नही कराने की मांग पर अड़े थे , एसडीएम के आश्वासन के बाद माने , छोटी सादड़ी में भी पुलिस ने किया आश्वस्त तब किया अंतिम संस्कार
- जेपी तेलकार
पिपलिया मण्डी/जनसारंगी  न्यूज   । राजस्थान के छोटी सादड़ी थाना क्षेत्र के नाराणी गांव निवासी युवक की मंदसौर जिला चिकित्सालय में मौत हो जाने पर परिजनों ने छोटी सादड़ी पुलिस थाना के दो पुलिसकर्मियों द्वारा बेरहमी से पिटाई करने से मौत हो जाने का आरोप लगात े हुए थाने के बाहर शव रखकर प्रदर्शन किया और दोनो पुलिसकर्मियों को उनके सुपूर्द करने की मांग की । बाद में पुलिस ने दोनो पुलिस कर्मियों पर कार्यवाही का आश्वासन दिया जिसके बाद परिजन मृतक का शव ले गये और गांव में ले जाकर अंतिम संस्कार किया । इससे पहले मंदसौर में कांग्रेस नेता श्यामलाल जोकचन्द्र के साथ ही  परिजनों ने बुधवार को जिला अस्पताल में शव को लेने से इंकार कर दिया व मांग की कि परिजनों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाए तथा मामले की मजिस्ट­ीयल जांच की मांग की। काफी देर तब हंगामे के बाद एसडीएम बिहारीसिंह ने दोनों मांग को लेकर सरकार को प्रपोजल बनाकर भेजने का आश्वासन दिया, तब जाकर 22 घंटे बाद परिजन पोस्टमार्टम कराने पर तैयार हुए, बाद में पेनल टीम ने शव का पीएम किया।
जानकारी के अनुसार मंगलवार को बरखेड़ापंथ में रह रहे जमाई नारायणी (छोटीसादड़ी) निवासी मिट्ठुलाल पिता उदयलाल बावरी की मंदसौर जिला अस्पताल में मौत हो गई थी। परिजनों ने आरोप लगाया था कि मल्हारगढ़ पुलिस 17 अगस्त को मिटठुलाल को बरखेड़ापंथ घर से मारपीट   करते हुए ले गई थी व थाने पर भी मारपीट की। मल्हारगढ़ थाने पर तबीयत बिगड़ने पर पुलिस मल्हारगढ़ अस्पताल ले गई। बाद में मंदसौर रेफर कर दिया। जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। परिजनों का आरोप है कि पुलिस की बेरहम पिटाई से ही मिट्ठुलाल की मौत हुई है। जबकि मल्हारगढ़ टीआई का कहना है कि लूट के मामले में छोटीसादड़ी पुलिस उसे लेने आई थी, वह पहले ही सड़क दुर्घटना में घायल हो गया था। छोटीसादड़ी पुलिस उसे मल्हारगढ़ लाने से पहे ही तबीयत बिगड़ने पर मल्हारगढ़ के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र ले गई, जहां से उसे मंदसौर रेफर कर दिया और मंदसौर में उसकी मौत हुई। पुलिस ने उसके साथ मारपीट नही की, न हि उसकी मौत पुलिस कस्टडी में हुई। रही है। चौदह लोगों की शराबकांड में मौत के बाद भी आज तक कोई बड़ी कार्रवाई दोषियों पर नही है, जांच के नाम पर केबल गरीबों को परेशान किया गया। करीब आधे घंटे तक प्रशासन से हुई बहस-बाजी के बाद कांग्रेस नेता श्यामलाल जोकचन्द्र ने पुलिस अधीक्षक मंदसौर के नाम ज्ञापन एसडीएम बिहारीसिंह को सौंपा जिसमें मारपीट करने वाले दोषी पुलिस अधिकारियों व अधिनस्त कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। साथ ही यह भी मांग की कि मामले की मजिस्ट­ीयल जांच कराई जाकर परिजनों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाए। एसडीएम बिहारीसिंह ने आश्वासन दिया कि दोनों मांगों को लेकर वे प्रपोजल बनाकर सरकार को भिजवाएंगे, एसडीएम ने आश्वस्त किया कि पूर्व में भी जो मारपीट की घटना हुई थी। उसमें मौत के बाद हत्या का प्रकरण हुआ था, इसलिए जांच पर भरोसा रखे। करीब डेढ़ बजे परिजन शव का पीएम कराने के लिए तैयार हुए। शव का पीएम पेनल टीम ने किया। इस अवसर पर कांग्रेस नेता परशुराम सिसोदिया, राजेश भारती, श्यामलाल    सोलंकी सहित बड़ी संख्या में परिजन व बावरी समाज के लोग उपस्थित थे।  
पुलिस कर्मियों के विरुध्द मामला दर्ज कर कार्यवाही करने की मांग
मृतक की पत्नी ने रिपोर्ट में बताया कि वह स्वयं और उसका पति मिट्ठूलाल बावरी उसके पिता के घर बरखेड़ा पंथ तहसील मल्हारगढ़ मध्यप्रदेश मंगलवार को दोपहर 12 बजे घर के अंदर खाना खा रहे थे। इस दौरान छोटीसादड़ी पुलिस थाने से पुलिसकर्मी विनय प्रताप और असरार खा दोनों जबरन घर में घुस कर उसके पति मिट्ठूलाल बावरी के साथ मारपीट करते हुए पुलिस वाहन में बिठाकर ले गए। वहाँ मध्यप्रदेश के अन्य पुलिस कर्मियों को भी बुला लिया। पुलिस पर रास्ते में उसके पति के साथ और गंभीर मारपीट करने का आरोप लगाते हुए मल्हारगढ़ अस्पताल में भर्ती करवाकर चले जाने और अस्पताल में अधिक हालत बिगड़ने पर मिट्ठूलाल बावरी की मौत होने की          बात कही है। मृतक की पत्नी ने दोनों पुलिस कर्मियों पर वर्दी की आड़ में उसके पति के साथ जानलेवा हमला करने के कारण मृत्यु होने का आरोप लगाते हुए पुलिस कर्मियों के विरुध्द मामला दर्ज कर कार्यवाही  करने की मांग की है।  


Chania