Monday, February 26th, 2024 Login Here
गरीब के जीवन से कष्टों को मिटाना प्रदेश सरकार का लक्ष्य-डॉ यादव चिकित्सक पर हुई कार्रवाहीं का डाक्टरों व सिंधी समाज ने किया विरोध किरायेदारों से अनजान पुलिस, मकान मालिक भी लापरवाह नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद बंशीलाल जी गुर्जर का मंदसोर शहर में होगा भव्य स्वागत ट्रक में लहसुन के नीचे छुपाकर रख 1031 किलो डोडाचूरा जब्त, ड्राइवर गिरफ्तार मुख्‍यमंत्री डॉ.मोहन यादव आज नीमच में 752 करोड से अधिक के कार्यो का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे 36 घंटे में पुलिस ने किया अन्तरॉज्जीय लूटेरों को गिरफ्तार मदिरा दुकानों के नवीनीकरण आवेदन 22 फरवरी तक करें पांच साल के इंतजार के बाद आज से मंदसौर में प्रारंभ होगा पासपोर्ट कार्यालय मध्यप्रदेश से राज्यसभा के पांचों प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित; 4 सीट बीजेपी, एक कांग्रेस के खाते में 133 किमी लंबे मार्ग में 14 किमी लंबा दूसरा रेलवे ट्रैक तैयार साँप भगाने के लिए टैंक में पेट्रोल डाला, तीली जलाते ही धमाका हुआ, दम्पत्ति झुलसे नदियॉ को छलनी करने का खेल चल रहा,माफियाओं पर नही लग पा रही नकेल सिंगिग स्टार बनने के चक्कर मे लोग हो रहे शिकार संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित होने वाले सांसदों को राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने बधाई दी

कूटरचित दस्तावेज का उपयोग कर की थी धोखाधड़ी
गरोठ जनसारंगी।
 गरोठ शासकीय कन्या उमावि के पूर्व प्राचा ने दो साल की सजा सुनाई है। अपर सत्र न्यायाधीश आशीष टॉंकले द्वारा धोखधडी एवं कूट रचना के आरोप में आरोपित तेजमल पिता लक्ष्मीनारायण उदिया आयु 51 साल निवासी मारूति नगर, गरोठ थाना गरोठ जिला मंदसौर को 02 वर्ष का सश्रम कारावास एवं छह हजार  रूपये जुर्माने से दण्डित किया गया।
 अपर लोक अभियोजक आर. एस चन्द्रावत द्वारा बताया गया कि 16 जून 2010 से 23 नवंबर 2010 तक में आरोपित गरोठ में शासकीय कन्या उच्चतर मा. विद्यालय में प्राचार्य के पद पर रहते हुए इस अवधि के फर्जी एवं कूटरचित मेडिकल सिकनेस सर्टिफिकेट तथा मेडिकल फिटनेस सर्टिफिकेट को जानबूझकर अपने हित में उपयोग कर धोखधडी की । इस संबंध में फरियादी द्वारा पुलिस अधिक्षक को शिकायत करने पर एसडीओपी गरोठ द्वारा जॉच की गई । जॉंच में अरोपित तेजमल के विरूद्ध धारा 420, 468, 471 भादवि का पाया जाने पर जॉच पूर्ण कर अभियुक्त के विरूद्ध अभियोग पत्र थाना गरोठ द्वारा न्यायालय में प्रस्तुत किया गया।   प्रकरण में न्यायालय के समक्ष अपर लोक अभियोजक आर. एस. चन्द्रावत द्वारा रखे गये तथ्यो तथा न्यायालय में आयी साक्ष्य से सहमत होकर माननीय न्यायालय द्वारा आरोपित तेजमल के विरूद्ध धारा 420 भादवि में 02 वर्ष का सश्रम कारावा, धारा 468 भादंवि में 02 वर्ष का सश्रम कारावा एवं धारा 471 भादंवि में 02 वर्ष का सश्रम कारावास एवं कुल 6000/- रूपये के अर्थदण्ड जुर्माने से दण्डित किया गया ।  प्रकरण में अभियोजन संचालन अपर लोक अभियोजक आर. एस. चन्द्रावत द्वारा किया गया।

Chania