Friday, March 1st, 2024 Login Here
स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 200 से अधिक प्रतिनिधि को राष्ट्रीय अवॉर्ड से सम्मानित किया भैरव घाटी पर सड़क हादसा, एक की दर्दनाक मौत दो कारों की आमने-सामने भिडन्त, कॉन्स्टेबल की मौत मानपुरा में ग्रामीण के घर, बाड़े व स्विफ्ट कार से 63 किलो से अधिक अफीम जब्त सुपर पॉवर बनने की दिशा में तीन सेमीकंडक्टर, 1.26 लाख करोड़ के प्लांट को सरकार की मंजूरी 8 महिने बाद खाटु श्याम बाबा के मंदिर में प्रवेश कर भक्तों ने किए दर्शन 15 मिनिट में एक लाख का साउंड सिस्टम चुराने वाला बदमाश सीसीटीवी से पकडाया प्रधानमंत्री ने किया वर्चुअल भूमिपूजन, मंदसौर में 99.14 करोड़ की लागत से 18 महीने में तैयार होगा औद्योगिक पार्क गुजरात मॉडल से मप्र सरकार रोकेगी चेक पोस्ट पर अवैध वसूली अधिक आवक के चलते मंडी में बढ़ी अव्यवस्था, दिनभर बंद रही नीलामी शाम को शुरु हुई, आधे घंटे बाद फिर बंद, व्यापारी, किसान व हम्मालों का विरोध जारी नीमच से सिंगोली रावतभाटा होते हुए कोटा रेल मार्ग के फाइनल सर्वे की स्वीकृति, 5 करोड़ से अधिक की राशि स्वीकृत 500 जवानों की 45 टीमों ने की अपराधियों की धरपकड़, एक रात में 156 अपराधियों को पकडा मध्यप्रदेश की 29 सीटों पर पैनल तैयार,मंदसौर संसदीय क्षेत्र से देवीलाल धाकड, यशपालसिंह सिसोदिया, मदनलाल राठौर और सुधीर गुप्ता का नाम दुर्घटनाओं की जांच वैज्ञानिक तरीके से करने के निर्देश लेकिन पुरातन परम्परा अभी भी कायम अव्वल होने का दावा करने वाली नपा में सफाई व्यवस्था बदहाल
जनसारंगी न्यूज़                                   
  रतलाम /जगदीश राठौर । रतलाम जिले के जावरा स्थित विश्व प्रसिद्ध हुसैन टेकरी शरीफ के मुत्तवली एवं जावरा रियासत के अंतिम नवाब सरवर अली खान (बब्बन साहब) आयु 86 वर्ष का मुंबई हॉस्पिटल इंदौर में उपचार के दौरान इंतकाल हो गया है। यह जानकारी देते हुए नायब मुत्तवली मोबिन तैमूरी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी वसी जमा बैग एवं प्रबंधक परवेज अख्तर ( अक्कूमिया) ने बताया कि वे एक अच्छे अधिवक्ता के साथ ही रतलाम रोड नाका स्थित विश्वास फूड्स व चौपाटी रोड स्थित प्रीमीयर ऑयल मिल जावरा के वर्षों तक प्रबंधक रहे । आपने जावरा न्यायालय में प्रसिद्ध अधिवक्ता अब्दुल बारी खान के निर्देशन में काफी समय तक वकालत भी की । मरहूम श्री खान का अंग्रेजी भाषा पर उनका बहुत अच्छा नियंत्रण रहा । मध्य प्रदेश वक्फ बोर्ड भोपाल द्वारा मरहूम सरवर अली खान वर्ष 1985 में नायब मुतवली मनोनीत हुए थे । सन 1999 मे नवाब मुर्तजा अली खान के इंतकाल के पश्चात वे ( 11 नवंबर 2021) लगातार करीब 22 वर्षों तक हुसैन टेकरी शरीफ जावरा के मुत्तवल्ली रहे। मुखर, स्पष्टवादी, विकास की सोच एवं हुसैन टेकरी शरीफ को पर्यटन स्थल घोषित कराने के प्रयास के लिए  नवाब सरवर अली खान धर्मस्व एवं पर्यटन मंत्री मध्य प्रदेश शासन भोपाल को अनेक मर्तबा प्रस्ताव भेजें इसलिए उनका नाम इतिहास के स्वर्णिम अक्षरों में लिखा जाएगा । मरहूम श्री खान ने अपने 22 वर्षों के कार्यकाल के दौरान अनेक चुनौतियों का सामना करते हुए हुसैन टेकरी के विकास के लिए अनेक निर्माण कार्यों की सौगात हजारों यात्रियों को दी । मध्य भारत के जमाने में ग्वालियर स्टेट के अधीन होलकर, रतलाम स्टेट, जावरा की मुस्लिम रियासत एवं सैलाना रियासत रही । मरहूम नवाब सरवर अली खान को कोई संतान नहीं थी। कुल तीन बहने थी इनमें दो बहनों का देहांत हो चुका है और एक बहन भोपाल में है । मरहूम नवाब सरवर अली खान को आज 11 नवंबर ( गुरुवार )को जोहर की नमाज के पश्चात दोपहर 2:00 बजे सुपुर्द- ए- खाक किया जाएगा । हुसैन टेकरी शरीफ स्थित हजरत इमाम हुसैन की दरगाह (मुख्य बड़ा रोजा) के मैदान में दफनाया जाएगा । नवाब सरवर अली खान के इंतकाल की दुखद खबर मिलते ही मुस्लिम धर्मावलंबियों, हुसैन टेकरी शरीफ के व्यापारियों के अलावा अन्य धर्म के लोगों में बहुत अफसोस है ।
Chania