Sunday, February 25th, 2024 Login Here
गरीब के जीवन से कष्टों को मिटाना प्रदेश सरकार का लक्ष्य-डॉ यादव चिकित्सक पर हुई कार्रवाहीं का डाक्टरों व सिंधी समाज ने किया विरोध किरायेदारों से अनजान पुलिस, मकान मालिक भी लापरवाह नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद बंशीलाल जी गुर्जर का मंदसोर शहर में होगा भव्य स्वागत ट्रक में लहसुन के नीचे छुपाकर रख 1031 किलो डोडाचूरा जब्त, ड्राइवर गिरफ्तार मुख्‍यमंत्री डॉ.मोहन यादव आज नीमच में 752 करोड से अधिक के कार्यो का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे 36 घंटे में पुलिस ने किया अन्तरॉज्जीय लूटेरों को गिरफ्तार मदिरा दुकानों के नवीनीकरण आवेदन 22 फरवरी तक करें पांच साल के इंतजार के बाद आज से मंदसौर में प्रारंभ होगा पासपोर्ट कार्यालय मध्यप्रदेश से राज्यसभा के पांचों प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित; 4 सीट बीजेपी, एक कांग्रेस के खाते में 133 किमी लंबे मार्ग में 14 किमी लंबा दूसरा रेलवे ट्रैक तैयार साँप भगाने के लिए टैंक में पेट्रोल डाला, तीली जलाते ही धमाका हुआ, दम्पत्ति झुलसे नदियॉ को छलनी करने का खेल चल रहा,माफियाओं पर नही लग पा रही नकेल सिंगिग स्टार बनने के चक्कर मे लोग हो रहे शिकार संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित होने वाले सांसदों को राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने बधाई दी

मंदसौर। रतलाम के बाद अब पड़ोसी जिले नीमच ओर राजस्थान के प्रतापगढ़ में भी कोरोना का मरीज मिलने के बाद मंदसौर में सावधानी रखने की जरुरत है। कोरोना की दूसरी लहर के भयावह दौर में आक्सीजन, उपचार और बेड तक के लिये लोगों को भारी परेशानियां हुई थी। बावजूद लोग अभी भी सबक लेने को तैयार नहीं है। अभी भी लोग शहर सहित जिलेभर में बिना मास्क ही घूम रहे है। ऐसे में कोरोना व नये वेरियंट से बचाव को लेकर सतर्कता व जागरूकता नहीं बरती गई तो तीसरी लहर की आशंका हकीकत बन सकती है। राजस्थान के प्रतापगढ़ में कोरोना मरीज सामने आया है वही बुधवार को नीमच जिले में 2 मरीज कोरोना पॉजिटिव सामने आए हैं नीमच व रतलाम लेब से कुल 634 सेम्पल की रिपोर्ट आई है जिसमे 2 व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव नीमच  के बोहरा बाजार के हैं।
एक तरफ कोरोना से बचाव के लिये प्रशासन द्वारा घर-घर वैक्सीनेशन किया जा रहा है। वहीं कोरोना की तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग द्वारा भी आक्सीजन प्लांट एवं अस्पताल में व्यवस्थाओं को दुरूस्त किया जा रहा है। लेकिन लोग अभी कोरोना से बचाव को लेकर सतर्क नहीं दिख रहे है। लगातार समझाइश भी दी जा रही है कि बिना मास्क के घर से नहीं निकलें। शारीरिक दूरी का ध्यान रखें। अंजान व्यक्ति से दूर ही रहें। किसी से हाथ न मिलाएं। हाथ जोडक़र नमस्कार करें। अपनी व अपने परिवार की सुरक्षा का ख्याल रखें। बावजूद लोग घरों से बिना मास्क ही निकल रहे हैं। शारीरिक दूरी का पालन भी बंद हो गया है। इस तरह की लापरवाही के कारण ही कोरोना की तीसरी लहर की दस्तक हो सकती है। कोरोना की रोकथाम के लिये लोगों को सतर्क और जागरूक रहने की आवश्यकता है। कोरोना से बचाव का सबसे कारगर उपाय अभी मास्क ही है, लेकिन मास्क लगाने में भी लोग लापरवाही कर रहे हैं।

Chania