Sunday, February 25th, 2024 Login Here
गरीब के जीवन से कष्टों को मिटाना प्रदेश सरकार का लक्ष्य-डॉ यादव चिकित्सक पर हुई कार्रवाहीं का डाक्टरों व सिंधी समाज ने किया विरोध किरायेदारों से अनजान पुलिस, मकान मालिक भी लापरवाह नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद बंशीलाल जी गुर्जर का मंदसोर शहर में होगा भव्य स्वागत ट्रक में लहसुन के नीचे छुपाकर रख 1031 किलो डोडाचूरा जब्त, ड्राइवर गिरफ्तार मुख्‍यमंत्री डॉ.मोहन यादव आज नीमच में 752 करोड से अधिक के कार्यो का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे 36 घंटे में पुलिस ने किया अन्तरॉज्जीय लूटेरों को गिरफ्तार मदिरा दुकानों के नवीनीकरण आवेदन 22 फरवरी तक करें पांच साल के इंतजार के बाद आज से मंदसौर में प्रारंभ होगा पासपोर्ट कार्यालय मध्यप्रदेश से राज्यसभा के पांचों प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित; 4 सीट बीजेपी, एक कांग्रेस के खाते में 133 किमी लंबे मार्ग में 14 किमी लंबा दूसरा रेलवे ट्रैक तैयार साँप भगाने के लिए टैंक में पेट्रोल डाला, तीली जलाते ही धमाका हुआ, दम्पत्ति झुलसे नदियॉ को छलनी करने का खेल चल रहा,माफियाओं पर नही लग पा रही नकेल सिंगिग स्टार बनने के चक्कर मे लोग हो रहे शिकार संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित होने वाले सांसदों को राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने बधाई दी

मंदसौर जनसारंगी।
दो दिन की राहत के बाद शुक्रवार को मंदसौर में एक बार फिर कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ गई है। दो दिनों तक जो कमी आई उसका कारण भी मंदसौर की आरटीपीसीआर लेब में जांच होना हीं है, दो दिनों तक स्वास्थ्य विभाग ने मंदसौर में ही सेंम्पलों की जांच करवाई तो केवल 33 ही पॉजीटिव मिले लेकिन शुक्रवार को जब भोपाल लेब से जांच रिर्पोट मिली तो  149पॉजीटिव मिले। इसमें 17 दूसरे राज्यों के मरीज है। हालांकि अभी भी यह स्पष्ट नहीं हो पा रहा है कि मंदसौर की लेब में जांच होने पर पॉजीटिव सहीं क्यों पता नहीं लग पा रहे है।
स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार शुक्रवार को भोपाल की लैब से आई सुबह की 757 सेंपल की जांच रिपोर्ट  में 910 पाजिटिव मिले हैं। इसमें 17 मरीज अन्य राज्यों के है। शाम को 826 सेंपल की रिर्पोट में 58 पॉजीटिव मिले यानी शुक्रवार को कुल 149 नऐ संक्रमित मिले। जबकी दो दिन से मरीजों की संख्या में एकदम कमी आ रही थी वह शुक्रवार को फिर बढ़ गई है। गुरुवार को मंदसौर में हुई जांच में 13 व बुधवार को 20 ही मरीज मिले थे। जबकि इससे पहले ही मंगलवार को भोपाल से आई रिपोर्ट में 133 पाजिटिव मरीज मिले थे। हालांकि इस पूरे मामले में जिला अस्पताल प्रबंधन ही संदेह के घेरे में दिख रहा है क्योंकि मंदसौर के नजदीकी जिले नीमच, रतलाम व राजस्थान के प्रतापगढ़ में लंबे समय से औसत 100 मरीज प्रतिदिन मिल ही रहे थे पर मंदसौर में संख्या व 20 से ज्यांदा पहुंच ही नहीं रही थी। इसके बाद ही भोपाल से ही स्वास्थ्य आयुक्त डा. सुदामा खाड़े ने भी स्वयं रुचि लेकर मंदसौर से सैंपल भोपाल की निजी लैब में भिजवाए थे तो वहां पर जांच में 100 से ज्यादा मरीज मिलने लगे थे। दो तीन दिन वहां जांच के के बाद फिर मंदसौर में जांच हुई तो दो दिन में महज 33 मरीज मिले। अब फिर भोपाल सैंपल भेजे तो एक दिन में 149 मरीज पाजिटिव मिले हैं। इसके साथ ही जिले में तीसरी लहर में कुल 813 मरीज मिल चुके हैं। इनमें से 483 एक्टिव है। जिनमें से 478 होम आइसोलेट हैं।
----------------------------------------

Chania