Friday, May 7th, 2021 Login Here
रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित, चार महिने में नहीं बन पाया सवा दो सौ मीटर का नाला दूकान का शटर बंद लेकिन अंदर मिले ग्राहक हर दिन आॅक्सीजन आने का दावा लेकिन खत्म नहीं हो रहीं मारा-मारी *रजिस्ट्री की गाइड लाइन 30 जून तक यथावत* MP में 1 मई से शुरू नहीं होगा वैक्सीनेशन पार्ट-3:2.5 लाख डोज की पहली खेप 3 मई तक मिली तो 18+ लोगों को 5 मई से लगेगा टीका, 19 हजार लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन सोमली नदी को पार कर मंदसौर की तरफ आगे बढा चंबल का पानी

नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी 30 मई गुरुवार को शाम 7 बजे राष्ट­पति भवन में प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। प्रधानमंत्री के साथ कई मंत्री भी शपथ लेंगे। गौरतलब है लोकसभा चुनाव ने भाजपा ने स्पष्ट बहुमत प्राप्त किया है। भाजपा को 303सीटें मिली है, जबकि एनडीए के साथ मिलाकर आंकड़ा 353 तक पहुंच गया है।
शनिवार को एनडीए संसदीय दल का नेता चुने जाने के बाद नरेंद्र मोदी ने राष्ट­पति रामनाथ कोविंद से मुलाकात कर नई सरकार बनाने का दावा पेश किया, जिसपर राष्ट­पति ने उन्हें पदनामित प्रधानमंत्री का पत्र सौंपा। इससे पहले एनडीए के प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट­पति से मुलाकात कर नरेंद्र मोदी को संसदीय दल का नेता चुने जाने का पत्र राष्ट­पति को सौंपा था। इसके अलावा एनडीए के सभी घटक दलों ने अपने-अपने समर्थन पत्र भी राष्ट­पति को सौंपे। नरेंद्र मोदी को शाम को हुई एनडीए और भाजपा की संसदीय दल की बैठक में सर्वानुमति से नेता चुना गया। इसके बाद मोदी ने राष्ट­पति भवन जाकर महामहिम राष्ट­पति रामनाथ कोविंद से मुलाकात कर नई सरकार बनाने का दावा पेश किया।  इससे पहले भाजपा के राष्ट­ीय अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में एनडीए के दल ने राष्ट­पति से मुलाकात की। इसके बाद संवैधानिक प्रक्रिया के तहत राष्ट­पति ने मोदी को पदनामित प्रधानमंत्री का पत्र सौंपा। इसके अलावा राष्ट­पति भवन से नवनिर्वाचित प्रधानमंत्री मोदी को मंत्रिमंडल के गठन, उसके सदस्यों और शपथ समारोह की तिथि और समय की जानकारी देने को भी कहा गया है।
सरकार अपना काम तेज गति से बढ़ाएगी - राष्ट­पति द्वारा नव निर्वाचित प्रधानमंत्री का पत्र सौंपे जाने के बाद नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश ने उन्हें प्रचंड जनादेश दिया है। जनादेश के साथ लोगों की अपेक्षाएं जुड़ी हुई है। सरकार आपकी अपेक्षाओं पूरी करेगी। सरकार अब अपना काम तेज गति से बढ़ाएगी। हम मंत्र सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास होगा। मैं एनडीए के नेताओं का आभार प्रकट करता हूं।


Chania