Sunday, February 25th, 2024 Login Here
गरीब के जीवन से कष्टों को मिटाना प्रदेश सरकार का लक्ष्य-डॉ यादव चिकित्सक पर हुई कार्रवाहीं का डाक्टरों व सिंधी समाज ने किया विरोध किरायेदारों से अनजान पुलिस, मकान मालिक भी लापरवाह नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद बंशीलाल जी गुर्जर का मंदसोर शहर में होगा भव्य स्वागत ट्रक में लहसुन के नीचे छुपाकर रख 1031 किलो डोडाचूरा जब्त, ड्राइवर गिरफ्तार मुख्‍यमंत्री डॉ.मोहन यादव आज नीमच में 752 करोड से अधिक के कार्यो का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे 36 घंटे में पुलिस ने किया अन्तरॉज्जीय लूटेरों को गिरफ्तार मदिरा दुकानों के नवीनीकरण आवेदन 22 फरवरी तक करें पांच साल के इंतजार के बाद आज से मंदसौर में प्रारंभ होगा पासपोर्ट कार्यालय मध्यप्रदेश से राज्यसभा के पांचों प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित; 4 सीट बीजेपी, एक कांग्रेस के खाते में 133 किमी लंबे मार्ग में 14 किमी लंबा दूसरा रेलवे ट्रैक तैयार साँप भगाने के लिए टैंक में पेट्रोल डाला, तीली जलाते ही धमाका हुआ, दम्पत्ति झुलसे नदियॉ को छलनी करने का खेल चल रहा,माफियाओं पर नही लग पा रही नकेल सिंगिग स्टार बनने के चक्कर मे लोग हो रहे शिकार संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित होने वाले सांसदों को राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने बधाई दी

कुकड़ेश्वर थाना क्षेत्र के गांव लसूड़िया आतरी की घटना
चार लोगों को पकड़ा था, जिसमें से तीन भाग निकले

नीमच निप्र  । बिहार के बाद मध्यप्रदेश में भी अब मॉब लिचिंग की घटना देखने को मिली है। यहां मोर चोरी के आरोप में एक बुजुर्ग की भीड़ ने पीट-पीटकर हत्या कर दी। मामला कुकड़ेश्वर थाना क्षेत्र के गांव लसूड़िया आतरी में देर रात करीब साढ़े 11 बजे की है। पुलिस ने 10 लोगों के खिलाफ 307 का प्रकरण दर्ज कर 9 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।
रात में ग्रामीणों को सूचना मिली थी कि कुछ लोग मोर चोरी करने गांव में घूम रहे हैं। इसके बाद ग्रामीणों ने इकट्टा होकर चार लोगों को पकड़ा, इनमें से तीन मौका पाकर भाग निकले, जबकि एक बुजुर्ग इनके हत्थे चढ़ गया। इन्होंने बुजुर्ग की जमकर पिटाई की, जिससे वह गंभीरू रूप से घायल हो गया। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने उसे अस्पताल पहुंचाया, जहां इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। मृतक के पास से मरे हुए चार मोर बरामद हुए हैं। कुकड़ेश्वर पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर जांच शुरू कर दी है।
एसपी राकेश सगर ने बताया कि मोर चोरी के मामले में फरियादी अम्बालाल की रिपोर्ट पर चार लोगों को आरोपी बनाया है। इसमें हीरालाल और बेटा राहुल, बंशीलाल और बेटा पप्पू शामिल हैं। इनके पास से चार मृत मोर मिले हैं।  जब ये मोर को लेकर आ रहे थे तो ग्रामीणों ने इन्हें रोका तो इन्होंने भागने की कोशिश की। इस पर ग्रामीणों ने इन्हें पीटा और डायल 100 को बुलाया। पुलिस घायल को अस्पताल लेकर आई। हालत गंभीर होने पर हीरालाल की मौत हो गई। पुलिस ने 10 लोगों के खिलाफ 307 का मामला दर्ज कर 9 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस के अनुसार मृतक और उसके साथी भागते नहीं तो शायद यह घटना नहीं होती। ःयोंकि वे इसी गांव के थे और रात में इनके भागने पर ग्रामीणों को चोरी की शंका हुई होगी और उन्होंने कानून हाथ में ले लिया।  
बता दें कि एक दिन पहले ही नीमच से ही ऐसा ही एक और मामला सामने आया था। जब भीड़ ने बकरा चुराकर ले जा रहे तीन लोगों की जमकर पिटाई की थी। इस घटना का वीडियो वायरल हुआ था। जानकारी के मुताबिक बुधवार दोपहर दो युवक एक बाइक पर बकरा लेकर जा रहे थे। लेकिन भादवा माता मंदिर के पास उनकी फिसल गई। हादसे के बाद मौके पर पहुंचे लोग युवकों को जैसे ही उठाने लगे तो उन्होंने मौके से भागने की कोशिश की। ये देख ग्रामीणों को शक हुआ और उन्होंने युवकों को रोककर पूछताछ शुरू कर दी।
इनके साथ बकरा होने की वजह से ग्रामीणों को चोरी की शंका हुई। बस फिर क्या था, गांववालों ने इनकी पिटाई शुरू कर दी। इसके बाद पुलिस मौके पर पहुंचीं और इन युवकों को भीड़ से बचाया। पुलिस ने बकरा चोरी करने के प्रयास में तीनों युवकों को गिरफ्तार कर लिया था। ये युवक मंदसौर के थे।

Chania