Sunday, March 3rd, 2024 Login Here
मंदसौर संसदीय क्षेत्र से सुधीर गुप्ता को मिला टिकीट सेवा कार्यो में उत्कृष्ट कार्य को लेकर रेडक्रॉस सोसायटी जिला शाखा मंदसौर को मिला अवार्ड बांछड़ा डेरों पर पुलिस की दबिश, भारी मात्रा में अवैध शराब जप्त प्रतिवेदन पेश नहीं करने पर नपा सीएमओं के खिलाफ पांच हजार का जमानती वारंट जारी सूदखोरों से परेशान होकर की आत्महत्या, पिता के मृत्युभोज के लिए लिया था पैसा मंत्री सारंग ने की वन-टू-वन चर्चा, कहा 6 लाख वोट से भाजपा को जिताने का संकल्प ले लोकसभा चुनाव - भाजपा के 155 उम्मीदवारों की सूची आज घोषित होने की संभावना स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 200 से अधिक प्रतिनिधि को राष्ट्रीय अवॉर्ड से सम्मानित किया भैरव घाटी पर सड़क हादसा, एक की दर्दनाक मौत दो कारों की आमने-सामने भिडन्त, कॉन्स्टेबल की मौत मानपुरा में ग्रामीण के घर, बाड़े व स्विफ्ट कार से 63 किलो से अधिक अफीम जब्त सुपर पॉवर बनने की दिशा में तीन सेमीकंडक्टर, 1.26 लाख करोड़ के प्लांट को सरकार की मंजूरी 8 महिने बाद खाटु श्याम बाबा के मंदिर में प्रवेश कर भक्तों ने किए दर्शन 15 मिनिट में एक लाख का साउंड सिस्टम चुराने वाला बदमाश सीसीटीवी से पकडाया प्रधानमंत्री ने किया वर्चुअल भूमिपूजन, मंदसौर में 99.14 करोड़ की लागत से 18 महीने में तैयार होगा औद्योगिक पार्क

कोरोना का सेम्पल लिया,पास में ही रहते थे विदेश से आये दंपत्ति, क्वारन्टाइन हो चुका था पूरा
मन्दसौर निप्र। मन्दसौर के दशरथ नगर में दवा व्यापारी बुजुर्ग की मौत से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई। मृतक के पड़ोस में ही 8 मार्च को विदेश से लौटे दंपत्ति रहते थे लेकिन उनके क्वारन्टाइन की अवधि पूरी हो चुकी थी,उनमे कोरोना के कोई लक्षण नही पाए गए थे। उनके पास रहने वाले जिस वृद्ध की मौत हुई वे भी हार्ड और फेफड़े की बीमारी से ग्रस्त थे।ऐसे में एहतियातन स्वास्थ्य विभाग ने मृतक का सेम्पल लिया। उनके पूरे परिवार की भी जांच की और पूरे इलाके को सेनेटाइज करके पूरा लॉक डाउन कर दिया गया है।
जानकारी के अनुसार दशरथ नगर के निवासी नाथूलाल  ( पिपलिया कराडिया  वाले ) का बीती रात से स्वास्थ्य बिगड़ जाने से उन्हें सिद्धिविनायक अस्पताल में  भर्ती कराया गया था, उनकी स्थिति बिगड़ती देख स्वास्थ्य विभाग ने उन्हें भोपाल के कोरोना  सेंटर में भर्ती करने निर्णय लिया और तमाम सुविधाओंं केेे बाद उन्हें मंदसौर से रेफर किया गया था।  लेकिन रास्ते में ही  उनकी मौत हो गई।

सिविल सर्जन डॉ अधीर कुमार मिश्रा के अनुसार  अनुसार बुजुर्ग हार्ट और फेफड़े सहित अन्य बीमारियों से भी ग्रस्त थे लेकिन फिर भी  एहतियातन उनका सेम्पल कोरोंना की जांच के लियेे भेजा गया।
 बताया जाता है की मृतक के पड़ोस में ही रहने वाले एक दंपत्ति विदेश जाकर आये हैं। लेकिन उनकी आईसोलेशन की 14 दिन की अवधि पूरी हो चुकी है। उन्हें किसी तरह की कोई दिक्कत नही थी फिर भी प्रशासन पूरी एहतियात बरत रहा है और पूरे क्षेत्र को सख्त लॉक डाउन कर दिया गया है।
 
Chania