Friday, March 1st, 2024 Login Here
स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 200 से अधिक प्रतिनिधि को राष्ट्रीय अवॉर्ड से सम्मानित किया भैरव घाटी पर सड़क हादसा, एक की दर्दनाक मौत दो कारों की आमने-सामने भिडन्त, कॉन्स्टेबल की मौत मानपुरा में ग्रामीण के घर, बाड़े व स्विफ्ट कार से 63 किलो से अधिक अफीम जब्त सुपर पॉवर बनने की दिशा में तीन सेमीकंडक्टर, 1.26 लाख करोड़ के प्लांट को सरकार की मंजूरी 8 महिने बाद खाटु श्याम बाबा के मंदिर में प्रवेश कर भक्तों ने किए दर्शन 15 मिनिट में एक लाख का साउंड सिस्टम चुराने वाला बदमाश सीसीटीवी से पकडाया प्रधानमंत्री ने किया वर्चुअल भूमिपूजन, मंदसौर में 99.14 करोड़ की लागत से 18 महीने में तैयार होगा औद्योगिक पार्क गुजरात मॉडल से मप्र सरकार रोकेगी चेक पोस्ट पर अवैध वसूली अधिक आवक के चलते मंडी में बढ़ी अव्यवस्था, दिनभर बंद रही नीलामी शाम को शुरु हुई, आधे घंटे बाद फिर बंद, व्यापारी, किसान व हम्मालों का विरोध जारी नीमच से सिंगोली रावतभाटा होते हुए कोटा रेल मार्ग के फाइनल सर्वे की स्वीकृति, 5 करोड़ से अधिक की राशि स्वीकृत 500 जवानों की 45 टीमों ने की अपराधियों की धरपकड़, एक रात में 156 अपराधियों को पकडा मध्यप्रदेश की 29 सीटों पर पैनल तैयार,मंदसौर संसदीय क्षेत्र से देवीलाल धाकड, यशपालसिंह सिसोदिया, मदनलाल राठौर और सुधीर गुप्ता का नाम दुर्घटनाओं की जांच वैज्ञानिक तरीके से करने के निर्देश लेकिन पुरातन परम्परा अभी भी कायम अव्वल होने का दावा करने वाली नपा में सफाई व्यवस्था बदहाल

आदतन अपराधी के कब्जे से ग्राम दौलतपुरा में मुक्त कराई गई जमीन
मंदसौर जनसारंगी।

माफिया का सफाया अभियान के तहत बुधवार को एक बार फिर प्रशासन और पुलिस की टीम ने ग्राम दौलतपुरा में सरकार की भूमि पर सरकारी जेसीबी चलाकर उसे अतिक्रमण से मुक्त कराया। उक्त भूमि पर आदतन अपराधी ने पिछले छह सालों से कब्जा कर रखा था ऐसे में आज प्रशासनिक मशीनरी से उसे नेस्तनाबूत कर दिया। अतिक्रमणकर्ता ने शासकीय भूमि पर अतिक्रमण कर पक्का निर्माण कर उसे किराऐ पर दे दिया था।
जानकारी के अनुसार ग्राम बुलगढ़ी के आदतन अपराधी भूरेखा के रेवास देवडा मार्ग स्थित एमआईटी कॉलेज के पास में किए गए अतिक्रमण पर सरकारी जेसीबी चली। प्रशासनिक अमले के साथ पुलिस ने पहुंचकर अतिक्रमण को हटाया। भूरे खां द्वारा दौलतपुरा मुख्य मार्ग पर स्थित तीन हजार स्क्वायर फिट सरकारी जमीन पर करीब पांच छह साल से अतिक्रमण किया था। जिसमें पांच दुकानें तैयार कर किराये पर दे दी गई। इसके अलावा एक दुकान निर्माणाधीन थी। साथ ही दुकानों के पिछे भी कुछ निर्माण किया गया था। इसको लेकर कई बार भूरे खां को नोटिस भी दिए गए। नोटिस का संतोषप्रद जवाब नहीं मिलने के बाद आज प्रशासनिक अमला मौके पर पहुंचा। भूरे खां के अतिक्रमण को हटाया गया। उल्लेखनीय है कि भूरे खां के खिलाफ प्राणा घातक हमला, चोरी, बलवा, मारपीट, हफ्ता वसूली सहित अन्य कई गंभीर आरोप थानों में दर्ज है। वर्ष 1987 से लेकर वर्ष 2019 तक भूरा खां के खिलाफ कुल १८ अपराध पुलिस ने दर्ज किए है।
उल्लेखनिय है कि माफिया का सफाया अभियान के तहत प्रशासन और पुलिस मिलकर लगातार माफियाओं के खिलाफ कार्रवाहीं कर रहे है और उनके कब्जे की सरकारी भूमियों को भी अतिक्रमण मुक्त करा रहे है। इससे पहले भी करोड़ों रूपऐ की बेशकीमती भूमियों को भी अतिक्रमण से मुक्त कराया गया है। पुलिस और प्रशासन की इस कार्रवाहीं से अपराधियों में भय भी व्याप्त हो रहा है।

Chania