Monday, February 26th, 2024 Login Here
गरीब के जीवन से कष्टों को मिटाना प्रदेश सरकार का लक्ष्य-डॉ यादव चिकित्सक पर हुई कार्रवाहीं का डाक्टरों व सिंधी समाज ने किया विरोध किरायेदारों से अनजान पुलिस, मकान मालिक भी लापरवाह नवनिर्वाचित राज्यसभा सांसद बंशीलाल जी गुर्जर का मंदसोर शहर में होगा भव्य स्वागत ट्रक में लहसुन के नीचे छुपाकर रख 1031 किलो डोडाचूरा जब्त, ड्राइवर गिरफ्तार मुख्‍यमंत्री डॉ.मोहन यादव आज नीमच में 752 करोड से अधिक के कार्यो का लोकार्पण एवं भूमिपूजन करेंगे 36 घंटे में पुलिस ने किया अन्तरॉज्जीय लूटेरों को गिरफ्तार मदिरा दुकानों के नवीनीकरण आवेदन 22 फरवरी तक करें पांच साल के इंतजार के बाद आज से मंदसौर में प्रारंभ होगा पासपोर्ट कार्यालय मध्यप्रदेश से राज्यसभा के पांचों प्रत्याशी निर्विरोध निर्वाचित; 4 सीट बीजेपी, एक कांग्रेस के खाते में 133 किमी लंबे मार्ग में 14 किमी लंबा दूसरा रेलवे ट्रैक तैयार साँप भगाने के लिए टैंक में पेट्रोल डाला, तीली जलाते ही धमाका हुआ, दम्पत्ति झुलसे नदियॉ को छलनी करने का खेल चल रहा,माफियाओं पर नही लग पा रही नकेल सिंगिग स्टार बनने के चक्कर मे लोग हो रहे शिकार संसद रत्न पुरस्कार से सम्मानित होने वाले सांसदों को राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति ने बधाई दी

कांग्रेस के आधे बंद का जिले में दिख मिलाजुला असर
मंदसौर जनसारंगी।

 कांग्रेस ने मूल्य वृद्धि के विरोध में प्रदेशभर में आधे दिन बंद का आव्हान किया था। जिले में कहीं इसका असर दिखा तो कहीं बाजार खुले रहें। मंदसौर जिला मुख्यालय पर भी बंद का मिलाजुला असर देखने को मिला। मंदसौर नगर में जिला कांग्रेस अध्यक्ष नवकृष्ण पाटिल के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की टोली दुकानों को बंद करवाने के लिए नगर के विभिन्न क्षेत्रों में नारेबाजी करते हुए दोपहर 2 बजे तक भ्रमण करते हुए दिखाई दिए। नगर में बंद के आह्वान का असर अभिनंदन क्षेत्र, संजीत नाका क्षेत्र तथा नगर के कई महत्वपूर्ण क्षेत्रों में बिल्कुल बेअसर दिखाई दिया।कृषि उपज मंडी में भी रोज की तरह नीलामी का कार्य चालू रहा।  इस दौरान कांग्रेसियों ने लोगों से गांधीवादी तरीके से दुकानें बंद करने का आव्हान किया। इसके अलावा कुछ तहसील मुख्यालयों पर बंद का असर दिखा तो कहीं व्यापार व्यवसाय रोजमर्रा की तरह रहा। बंद के इस आह्वान के तहत दलोदा, सीतामऊ, सुवासरा, मल्हारगढ़, नारायणगढ़ में बाजार की दुकानें बंद रही है।  कांग्रेस के बंद को देखते हुए प्रशासन ने भी जिले भर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हुए थे, जगह जगह पुलिस बल तैनात था।
 कांग्रेस ने पेट्रोल-डीजल एवं घरेलू गैस सिलेण्डर सहित अन्य चीजों के दामों में लगातार हो रही वृद्धि के विरोध में जनता से 20 फरवरी को स्वेच्छानुसार आधे दिन का प्रदेशव्यापी बंद रखने का आह्वान सोमवार को किया था। इसको लेकर मंदसौर में भी कांग्रेसियों ने एक दिन पहले बैठक की। व्यापारियों से बात कर हाथ झोड़े और आधे दिन बंद का आव्हान किया। आज बंद का असर मिलाजुला नजर आया। कहीं दुकानें बंद रही तो कहीं व्यापार व्यवसाय रोजमर्रा की तरह व्यापार करता नजर आया। बैठक में कृषि उपज मंडी भी बंद कराने को लेकर चर्चा की गई थी। हालंाकि मंडी रोजाना की तरह खुली रही। सुबह कांग्रेसी बंद कराने के लिए बाजार में निकले। जिन दुकानों को खुला देखा गया, उन्हें बंद करने के लिए व्यापारियों से आग्रह किया गया। मंदसौर के मुख्य बाजार जैसे सराफा बाजार, सदर बाजार, घंटाघर, कालिदास मार्ग, नेहरू बस स्टैंड, उतारा धानमंडी, दया मंदिर मार्ग, कालाखेत, गांधी चैराहा, बीपीएल चैराहा, गाड़ी अड्डा, गोल चैराहा क्षेत्र की दुकानें बंद रही है। इन क्षेत्रों की दुकानों को बंद करवाने के लिए कांग्रेस कार्यकर्ताओं को नारेबाजी करते हुए सड़कों पर उतरना पड़ा है। जिला कांग्रेस अध्यक्ष नवकृष्ण पाटिल तथा मंदसौर ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष मोहम्मद खलील शेख के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की टोली इन क्षेत्रों में दुकानों को बंद करवाते हुए देखी गई है। इसके साथ ही नगर भ्रमण पर निकली कार्यकर्ताओं की टोली में जिला कांग्रेस के कार्यवाहक अध्यक्ष शैलेंद्र बघेरवाल, अजय लोढा, डॉ प्रीतिपालसिंह राणा, डॉ राघवेंद्र सिंह तोमर, रफत पयामी, तरुण खींची, मनजीतसिंह मनी, देवेंद्र योगी, कमलेश सोनी लाला, अशोक रैकवार, राकेश सुरावत आदि मुख्य रूप से शामिल थे। सुरक्षा की दृष्टि से भ्रमण पर निकली इस टोली के पीछे नगर पुलिस अधीक्षक व शहर कोतवाली के टीआई के वाहन साथ चल रहे थे। गांधी चैराहा व प्रमुख स्थानों पर पुलिसकर्मी भी तैनात दिखाई दिए।
मंदसौर नगर में बंद के इस आह्वान के चलते सदर बाजार, घंटाघर, कालाखेत, नेहरू बस स्टैंड, कालिदास मार्ग, गांधी चैराहा, गोल चैराहा, बीपीएल चैराहा, महाराणा प्रताप बस स्टैंड, सम्राट खाल का व्यापार व्यवसाय पूरी तरह बंद रहा है। बंद के सामान में इन मार्गों पर चलित किराना की दुकानें, कपड़े की दुकान, सोने चांदी की दुकान, रेडीमेड कपड़ों की दुकान, रेस्टोरेंट्स, इलेक्ट्रिक एवं इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकानें, मिठाई व नमकीन की दुकान, बर्तन की दुकान, चाय की होटल, पान, बीड़ी, सिगरेट की दुकानें और स्टेशनरी की दुकानें दोपहर 2 बजे तक बंद देखी गई। कांग्रेस पार्टी का बंद का आह्वान अभिनंदन क्षेत्र, संजीत नाका क्षेत्र, खानपुरा क्षेत्र, रामटेकरी, जनता कॉलोनी सहित कई गली मोहल्लों में पूरी तरह बेअसर रहा है। इन क्षेत्रों में दुकानें सुबह से ही खुल गई थी, जो की अनवरत चलती रही है। इन क्षेत्रों में बंद करवाने के लिए कांग्रेस के कार्यकर्ता भी नहीं पहुंचे हैं।बंद के इस आह्वान मैं मेडिकल की दुकानें, सब्जी मार्केट, फल फ्रूट, बसों का आवागमन, टेंपो टैक्सी और पेट्रोल पंप को छुट दी हुई थी। इस कारण बंद के आह्वान का इन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा है। बंद के दौरान कहीं पर भी अप्रिय स्थिति देखने को नहीं मिली है। प्रशासन की ओर से भी हर स्थान पर पुलिस बल तैनात किया हुआ था।
इस दौरान कांग्रेस नेताओ ने कहा कि जनता और व्यापारी महंगाई और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नीतियों से त्रस्त हो चुके हैं। उसी का असर है कि आज व्यापारियों ने कांग्रेस को समर्थन दिया और स्वेच्छा से दुकानें बंद रखी। इसके अलावा अधिकांश तहसील मुख्यालयों पर बंद का असर देखने को मिला। नेताओं ने बीजेपी सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि पेट्रोल-डीजल एवं रसोई गैस के दामों में निरंतर वृद्धि हो रही है। जनता पर महंगाई की मार निरंतर बढ़ती जा रही है। जो लोग महंगाई से राहत के नाम पर सत्ता में आये थे वो आज जनता को रोज महंगाई की आग में झोंक रहे हैं।
जिले में कांग्रेस का प्रदर्शन
इधर बात करें पिपलियामंडी, सुवासरा, गरोठ, मल्हारगढ़, सीतामऊ सहित अन्य जगहों की तो बंद का असर नजर आया। हालंाकि शामगढ़ में बंद का असर नहीं दिखाई दिया। सुवासरा में धरना देकर पदर्शन किया गया। कांग्रेसियों ने बाइक और गैस सिलेंडर को माला पहनाई और नारेबाजी की। गरोठ में भी चूल्हे पर चाय बनाकर कांग्रेसियों ने प्रदर्शन किया। इसके अलावा जिले भर में ज्ञापन भी सौंपे गए।

Chania