Friday, March 1st, 2024 Login Here
स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 200 से अधिक प्रतिनिधि को राष्ट्रीय अवॉर्ड से सम्मानित किया भैरव घाटी पर सड़क हादसा, एक की दर्दनाक मौत दो कारों की आमने-सामने भिडन्त, कॉन्स्टेबल की मौत मानपुरा में ग्रामीण के घर, बाड़े व स्विफ्ट कार से 63 किलो से अधिक अफीम जब्त सुपर पॉवर बनने की दिशा में तीन सेमीकंडक्टर, 1.26 लाख करोड़ के प्लांट को सरकार की मंजूरी 8 महिने बाद खाटु श्याम बाबा के मंदिर में प्रवेश कर भक्तों ने किए दर्शन 15 मिनिट में एक लाख का साउंड सिस्टम चुराने वाला बदमाश सीसीटीवी से पकडाया प्रधानमंत्री ने किया वर्चुअल भूमिपूजन, मंदसौर में 99.14 करोड़ की लागत से 18 महीने में तैयार होगा औद्योगिक पार्क गुजरात मॉडल से मप्र सरकार रोकेगी चेक पोस्ट पर अवैध वसूली अधिक आवक के चलते मंडी में बढ़ी अव्यवस्था, दिनभर बंद रही नीलामी शाम को शुरु हुई, आधे घंटे बाद फिर बंद, व्यापारी, किसान व हम्मालों का विरोध जारी नीमच से सिंगोली रावतभाटा होते हुए कोटा रेल मार्ग के फाइनल सर्वे की स्वीकृति, 5 करोड़ से अधिक की राशि स्वीकृत 500 जवानों की 45 टीमों ने की अपराधियों की धरपकड़, एक रात में 156 अपराधियों को पकडा मध्यप्रदेश की 29 सीटों पर पैनल तैयार,मंदसौर संसदीय क्षेत्र से देवीलाल धाकड, यशपालसिंह सिसोदिया, मदनलाल राठौर और सुधीर गुप्ता का नाम दुर्घटनाओं की जांच वैज्ञानिक तरीके से करने के निर्देश लेकिन पुरातन परम्परा अभी भी कायम अव्वल होने का दावा करने वाली नपा में सफाई व्यवस्था बदहाल

रतलाम मेडिकल कॉलेज में मंदसौर नीमच के नागरिकों के उपचार की व्यवस्था को लेकर विधायक यशपालसिंह सिसोदिया ने सीएम शिवराज सिंह चौहान और मंदसौर के कोरोना प्रभारी मंत्री जगदीश देवड़ा को ट्वीट किया जिसमें उन्होंने कहा कि रतलाम मेडिकल काॅलेज में मंदसौर और नीमच के कोरोना पाॅजीटिव मरीजों के लिए पलंगों की संख्या निर्धारित करें। क्योंकि दोनो जिलों के चिकित्सल मरीजों को रैफर कर रहे है पर वहां स्थान उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। इसके साथ ही विधायक श्री सिसोदिया ने आम जनता से भी विडियों जारी कर अपील की जिसमें उन्होंने कहा कि कोरोना की इस दूसरी लहर में मरीज और उसके परीजन गंभीरता को समझे। कोरोना के लक्षण देखते हुए उपचार प्रारम्भ कर रहे है। सीटी स्कैन और एक्सरे में उन्हें कोरोना के लक्षण होते है ऐसे में इन मरीजों से अनुरोध है अपनी आरटीपीसीआर जांच भी कराऐ और किसी भी जांच में कोरोना के लक्षण दिखाई दे तो समय पर शासकीय या निजी कोविड अस्पताल में जाऐ। क्योंकि जिस मरीज का आॅक्सीजन लेवल कम हो रहा है तो घर पर उसे काबू करना मुश्किल होगा।कोरोना के लक्षण होने के बाद भी यदि घर में ही बैठे रहेगें तो स्थिति बेकाबू होगी और सरकारी या निजी कोविड सेंटर पर पहुंचने में देर हो जाऐगी। इसलिए कोई भी व्यक्ति कोराना के शुरूआती लक्षणों में ही सरकारी या निजी कोविड संटर पर ही अपना परीक्षण कराऐ और वहां के चिकित्सकों की सलाह अनुसार ही ट्रीटमेंट ले ताकी कोरोना से जंग को जीता जा सके।
--------------------------------

बैंगलोर से आई रेमडेसिविर की खेप से मन्दसौर पहुचेंगे इंजेक्शन
’रतलाम मेडिकल कॉलेज में भी होगी आपूर्ति, ’मंत्री श्री देवड़ा ने सक्रियता से कराई व्यवस्था,
वरिष्ठ विधायक श्री सिसौदिया एवं कलेक्टर श्री पुष्प से लगातार चर्चा’
’भोपाल/मन्दसौर।
कोरोना पॉजिटिव होने के बावजूद लगातार मन्दसौर एवं रतलाम की व्यवस्था में जुटे मंत्री जगदीश देवड़ा ने मंगलवार को दोनों स्थानों पर रेमडिसिवर इंजेक्शन की व्यवस्था करवाई।
मंगलवार को विधायक यशपालसिंह सिसौदिया एवं कलेक्टर मनोज पुष्प ने आपको इंजेक्शन की आवश्यकता से अवगत करवाया। इस पर मंत्री श्री देवड़ा तत्काल इस व्यवस्था में स्वयं जुटे। आपने उच्च पदस्थ जिम्मेदारों से चर्चा की। आधे घंटे के भीतर ही आपने विधायक श्री सिसौदिया एवं कलेक्टर श्री पुष्प को अवगत करवाया कि बैंगलोर से इंदौर पहुंची इंजेक्शन की खेप में से मन्दसौर और रतलाम की आपूर्ति की जाएगी। मंत्री श्री देवड़ा द्वारा उज्जैन कमिश्नर से चर्चा कर मन्दसौर की खेप को मंदसौर से दवा लेने जाने वाले अधिकारी को देना सुनिश्चित करने को कहा। आपने यह भी सुनिश्चित किया कि रतलाम हवाई पट्टी पर भी शासन के हेलीकॉप्टर के माध्यम से इंजेक्शन की खेप पहुंचेगी।’ ’मंत्री श्री देवड़ा द्वारा तत्परता से की गई मन्दसौर जिले की व्यवस्था के लिए विधायक श्री सिसौदिया ने आपका आभार व्यक्त किया।’
Chania