Sunday, March 3rd, 2024 Login Here
मंदसौर संसदीय क्षेत्र से सुधीर गुप्ता को मिला टिकीट सेवा कार्यो में उत्कृष्ट कार्य को लेकर रेडक्रॉस सोसायटी जिला शाखा मंदसौर को मिला अवार्ड बांछड़ा डेरों पर पुलिस की दबिश, भारी मात्रा में अवैध शराब जप्त प्रतिवेदन पेश नहीं करने पर नपा सीएमओं के खिलाफ पांच हजार का जमानती वारंट जारी सूदखोरों से परेशान होकर की आत्महत्या, पिता के मृत्युभोज के लिए लिया था पैसा मंत्री सारंग ने की वन-टू-वन चर्चा, कहा 6 लाख वोट से भाजपा को जिताने का संकल्प ले लोकसभा चुनाव - भाजपा के 155 उम्मीदवारों की सूची आज घोषित होने की संभावना स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 200 से अधिक प्रतिनिधि को राष्ट्रीय अवॉर्ड से सम्मानित किया भैरव घाटी पर सड़क हादसा, एक की दर्दनाक मौत दो कारों की आमने-सामने भिडन्त, कॉन्स्टेबल की मौत मानपुरा में ग्रामीण के घर, बाड़े व स्विफ्ट कार से 63 किलो से अधिक अफीम जब्त सुपर पॉवर बनने की दिशा में तीन सेमीकंडक्टर, 1.26 लाख करोड़ के प्लांट को सरकार की मंजूरी 8 महिने बाद खाटु श्याम बाबा के मंदिर में प्रवेश कर भक्तों ने किए दर्शन 15 मिनिट में एक लाख का साउंड सिस्टम चुराने वाला बदमाश सीसीटीवी से पकडाया प्रधानमंत्री ने किया वर्चुअल भूमिपूजन, मंदसौर में 99.14 करोड़ की लागत से 18 महीने में तैयार होगा औद्योगिक पार्क

पिपलिया मण्डी। पुलिस ने यहां देशी शराब दुकान के पास बने कमरे पर दविश देकर भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब जब्त की है। टीम का नेतृत्व स्वयं एडिशनल एसपी अमितकुमार वर्मा ने किया, जांच के दौरान पुलिस ने शराब दुकान के पास आहते निकट बने कमरे का ताला तोड़ा, जिसमें बड़ी मात्रा में अंग्रेजी शराब व बीयर (कुल 129 लिटर शराब) जब्त की है। कार्रवाई के बाद एसपी ने टीआई ओपी तंतवार को लाइन अटैच कर दिया।
दोनों ठेकों पर एक साथ जांच, ताला तोड़ने की मशक्कत करते रहे एएसपी:-
जानकारी के अनुसार अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमितकुमार वर्मा सोमवार को शाम 5 बजे करीब मंदसौर से पुलिस टीम को लेकर पिपलिया कृषि मंडी से आगे स्थित देशी शराब दुकान पहंुचे। इस दौरान पुलिस ने दुकान के पास बने आहते में एक कमरे का ताला तुड़वाया, ताला तोड़ने में पुलिस को खासी मशक्कत करना पड़ी। कुछ देर तो एएसपी स्वयं ताले तो तोड़ने के लिए मशक्कत करते दिखे। ताला टूटने के बाद कमरे से अवैध रुप से एकत्रित अंग्रेजी शराब निकली। वहीं डी फ्रीज में बीयर की बोतलें निकली। बताया गया दूसरी टीम में डीएसपी सौरभकुमार ने पिपलिया अंग्रेजी ठेके पर दविश देकर जांच की, लेकिन वहां कुछ नही मिला, आस-पास दुकानों पर जरुर देशी शराब बिकना पाया गया। हालांकि पुलिस ने वहां कोई कार्रवाई होने से इंकार किया है।
मुखबिर की सूचना पर हुई कार्रवाई:-
जानकार सूत्रों के अनुसार जिला पुलिस को मुखबिर से सूचना मिल रही थी कि पिपलिया में देशी व अंग्रेजी शराब का लायसेंस जसवन्तसिंह के नाम से है। पुलिस को मुखबिर से यह भी सूचना मिली कि देशी ठेके पर अंग्रेजी शराब व अंग्रेजी दुकान पर देशी शराब बिक रही है। बताया गया इसकी शिकायत स्थानीय पुलिस व आबकारी विभाग को भी की गई थी। लेकिन कोई कार्रवाई नही हुई। जानकार सूत्रों के अनुसार मंदसौर पुलिस टीम ने देशी शराब दुकान से अंग्रेजी शराब खरीदते हुए वीडियो भी बनवाया। पुख्ता सूचना के बाद पुलिस ने इस कार्रवाई को अंजाम दिया। कार्रवाई शुरु होने के बाद पिपलिया चोकी प्रभारी कपिल सोराष्ट्रीय भी मौके पहंुचे।
आबकारी विभाग व स्थानीय पुलिस नींद में:-
यहां ठेके के पास कमरे से बड़ी मात्रा में अंग्रेजी शराब मिलना पुलिस व आबकारी विभाग की सुस्ती को दर्शा रहा है। बताया गया पुलिस व आबकारी विभाग को भी इसकी सूचना थी, लेकिन कार्रवाई नही की गई। बाद में एएसपी स्वयं टीम के साथ पिपलिया आए और कार्रवाई को अंजाम दिया। इससे यह तो साफ है या तो वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को स्थानीय पुलिस पर भरोसा नही था, इस कारण मंदसौर से टीम लेकर आना पड़ा। इस कार्रवाई से यह भी प्रतीत हो रहा है कि स्थानीय पुलिस व आबाकारी विभाग के अधिकारी केवल तनख्वाह लेकर नींद निकाल रहे है।
पुलिस की जादूगरी, आरोपी को बताया फरार:-
पुलिस ने कार्रवाई तो की, लेकिन बाद में कार्रवाई के दौरान जादूगरी कर दी। जब्ती में 129 लिटर शराब बताई जा रही है, जब्ती में कौन-कौन सी शराब व बीयर ली, यह नही दर्शाया। साथ ही आरोपी किसी को भी नही बनाया, मौके से आरोपी को फरार बता दिया। पुलिस की इस जादूगरी कार्रवाई पर भी अब प्रश्न चिन्ह लग रहा है। चोकी प्रभारी का कहना है कि शराब किसी और की थी, जो फरार हो गया। जबकि शराब आहते में बने कमरे ही थी और एसा भी नही हो सकता कि देशी शराब दुकान के पास ही कोई अन्य व्यक्ति अवैध रुप से शराब बेचे।
टीआई को किया लाइन अटैच:-
अवैध शराब जब्ती की कार्रवाई के बाद देर शाम जिला पुलिस अधीक्षक सुनीलकुमार पाण्डे ने पिपलिया टीआई ओपी तंतवार को लाइन अटैच कर दिया। उल्लेखनीय है कि यह टीआई लाइन में ही थे, लेकिन शराबकांड के दौरान यहां पदस्थ टीआई शिवकुमार यादव को लाइन अटेच कर तंतवार को पदस्थ किया था। लेकिन तंतवार भी खरे नही उतरे, ढ़ीले-ढाले व सुस्त टीआई तंतवार के यहां पदस्थ होने के बाद पुनः अवैध शराब बिकना शुरु हो गई वहीं चोरियों की घटनाओं में भी भरपूर इजाफा हुआ।
Chania