Friday, March 1st, 2024 Login Here
स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 200 से अधिक प्रतिनिधि को राष्ट्रीय अवॉर्ड से सम्मानित किया भैरव घाटी पर सड़क हादसा, एक की दर्दनाक मौत दो कारों की आमने-सामने भिडन्त, कॉन्स्टेबल की मौत मानपुरा में ग्रामीण के घर, बाड़े व स्विफ्ट कार से 63 किलो से अधिक अफीम जब्त सुपर पॉवर बनने की दिशा में तीन सेमीकंडक्टर, 1.26 लाख करोड़ के प्लांट को सरकार की मंजूरी 8 महिने बाद खाटु श्याम बाबा के मंदिर में प्रवेश कर भक्तों ने किए दर्शन 15 मिनिट में एक लाख का साउंड सिस्टम चुराने वाला बदमाश सीसीटीवी से पकडाया प्रधानमंत्री ने किया वर्चुअल भूमिपूजन, मंदसौर में 99.14 करोड़ की लागत से 18 महीने में तैयार होगा औद्योगिक पार्क गुजरात मॉडल से मप्र सरकार रोकेगी चेक पोस्ट पर अवैध वसूली अधिक आवक के चलते मंडी में बढ़ी अव्यवस्था, दिनभर बंद रही नीलामी शाम को शुरु हुई, आधे घंटे बाद फिर बंद, व्यापारी, किसान व हम्मालों का विरोध जारी नीमच से सिंगोली रावतभाटा होते हुए कोटा रेल मार्ग के फाइनल सर्वे की स्वीकृति, 5 करोड़ से अधिक की राशि स्वीकृत 500 जवानों की 45 टीमों ने की अपराधियों की धरपकड़, एक रात में 156 अपराधियों को पकडा मध्यप्रदेश की 29 सीटों पर पैनल तैयार,मंदसौर संसदीय क्षेत्र से देवीलाल धाकड, यशपालसिंह सिसोदिया, मदनलाल राठौर और सुधीर गुप्ता का नाम दुर्घटनाओं की जांच वैज्ञानिक तरीके से करने के निर्देश लेकिन पुरातन परम्परा अभी भी कायम अव्वल होने का दावा करने वाली नपा में सफाई व्यवस्था बदहाल

मंदसौर जनसारंगी
श्री गुरुनानक जयंती के अवसर पर मनाए जा रहे प्रकाश पर्व में बुधवार को सिख समाज द्वारा नगर कीर्तन निकाला गया। गुरुवाणी की धुन पर समाजजन शहर के प्रमुख मार्गों पर निकले। गुरु ग्रंथ साहेब और पंज प्यारे की अगवानी में समाज की महिलाओं ने सड़कों को धोकर फूल बिछाए। जिस मार्ग से भी संकीर्तन निकला, पूरा मार्ग फूलों से पट गया।
सिख समाज द्वारा गुरुनानक जयंती के अवसर पर पांच दिवसीय प्रकाश पर्व मनाया जा रहा है। बुधवार को नई आबादी स्थित गुरुद्वारे से दोपहर 1.30 बजे नगर कीर्तन निकला। कीर्तन में पंज प्यारे की अगुवाई में गुरु ग्रंथ साहेब को नगर भ्रमण कराया गया। महिला, पुरुष व बच्चे गुरुनानकजी के जयकारे लगाते हुए चल रहे थे।
कीर्तन में जालंधर (पंजाब) से आई पार्टी (अखाड़ा) के कलाकारों ने हैरत अंगेज करतब दिखाए। कीर्तन के आगे-आगे समाज की महिलाएं सड़क को बुहारकर पानी से धो रही थी। इसके बाद कुछ महिलाएं पंज प्यारे की राहों में फूल भी बिछा रही थीं। कीर्तन मार्ग पर जगह-जगह गुरु ग्रंथ साहेब की पूजा की गई।
नगर कीर्तन नई आबादी गुरुद्वारे से सहकारी बाजार रोड, महू-नीमच राजमार्ग, गोल चौराहा मार्ग, डीकेवाय, बीपीएल चौराहा, गांधी चौराहा, दया मंदिर मार्ग, घंटाघर, शुक्ला चौक, वीर सावरकर ब्रिज होते हुए जगतपुरा मे स्थित गुरुद्वारा पहुंचा। यहां पर नगर कीर्तन का समापन हुआ। मार्ग में जगह-जगह लगभग 25 से अधिक समाजों, सामाजिक संगठनों ने जुलूस का स्वागत किया। गुरुद्वारा में शाम को अरदास हुई। 19 नवंबर को श्री गुरुनानक जयंती मनाई जाएगी।

Chania