Friday, March 1st, 2024 Login Here
स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 200 से अधिक प्रतिनिधि को राष्ट्रीय अवॉर्ड से सम्मानित किया भैरव घाटी पर सड़क हादसा, एक की दर्दनाक मौत दो कारों की आमने-सामने भिडन्त, कॉन्स्टेबल की मौत मानपुरा में ग्रामीण के घर, बाड़े व स्विफ्ट कार से 63 किलो से अधिक अफीम जब्त सुपर पॉवर बनने की दिशा में तीन सेमीकंडक्टर, 1.26 लाख करोड़ के प्लांट को सरकार की मंजूरी 8 महिने बाद खाटु श्याम बाबा के मंदिर में प्रवेश कर भक्तों ने किए दर्शन 15 मिनिट में एक लाख का साउंड सिस्टम चुराने वाला बदमाश सीसीटीवी से पकडाया प्रधानमंत्री ने किया वर्चुअल भूमिपूजन, मंदसौर में 99.14 करोड़ की लागत से 18 महीने में तैयार होगा औद्योगिक पार्क गुजरात मॉडल से मप्र सरकार रोकेगी चेक पोस्ट पर अवैध वसूली अधिक आवक के चलते मंडी में बढ़ी अव्यवस्था, दिनभर बंद रही नीलामी शाम को शुरु हुई, आधे घंटे बाद फिर बंद, व्यापारी, किसान व हम्मालों का विरोध जारी नीमच से सिंगोली रावतभाटा होते हुए कोटा रेल मार्ग के फाइनल सर्वे की स्वीकृति, 5 करोड़ से अधिक की राशि स्वीकृत 500 जवानों की 45 टीमों ने की अपराधियों की धरपकड़, एक रात में 156 अपराधियों को पकडा मध्यप्रदेश की 29 सीटों पर पैनल तैयार,मंदसौर संसदीय क्षेत्र से देवीलाल धाकड, यशपालसिंह सिसोदिया, मदनलाल राठौर और सुधीर गुप्ता का नाम दुर्घटनाओं की जांच वैज्ञानिक तरीके से करने के निर्देश लेकिन पुरातन परम्परा अभी भी कायम अव्वल होने का दावा करने वाली नपा में सफाई व्यवस्था बदहाल

पूज्य उत्तम स्वामीजी का एकमात्र लक्ष्य है नर सेवा ही नारायण सेवा है

*गुरु भक्त मंडल के राष्ट्रीय अध्यक्ष तपन भौमिक की मौजूदगी में बैठक संपन्न* 
मंदसौर। यह मंदसौर नगर वासियों और इस पूरे अंचल  का सौभाग्य है कि विश्व विख्यात विद्वान महामंडलेश्वर 108 महर्षि उत्तम स्वामी जी के मुखारविंद से श्रीमद् भागवत कथा महोत्सव का आयोजन हो रहा है। स्वामी जी ने अपनी तपस्या और ज्ञान के आधार पर जो सिद्धि और प्रसिद्धि प्राप्त की है निश्चित रूप से उसका लाभ इस कथा के माध्यम से नगर वासियों को भी मिलेगा।
यह विचार पूज्य श्री उत्तम स्वामीजी के भक्तों के समूह गुरुभक्त मंडल के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री तपन भौमिक ने व्यक्त किए।आप नगर पालिका सभागार में श्रीमद् भागवत ज्ञान महोत्सव जो 17 से 23 दिसंबर तक रुद्राक्ष माहेश्वरी भवन नया पुरा में आयोजित होने जा रहा है जिसमें व्यास पीठ से पूज्य स्वामी श्री उत्तम स्वामी जी कथा प्रवचन करेंगे इसी महोत्सव के निमित्त तैयारी के अंतिम स्वरूप की जानकारी देने हेतु,आयोजित बैठक को संबोधित कर रहे थे। 
आपने बताया है कि स्वामी जी का एक ही उद्देश्य है नर सेवा ही नारायण सेवा है देश-विदेश में उनके लाखों भक्त हैं। उन्होंने कहा कि स्वामी जी कहते हैं कि कलयुग में श्रीमद् भागवत कथा ही प्रभु प्राप्ति और मोक्ष का एक मात्र माध्यम है। जो कथा कहता है उन्हें जो पुण्य मिलता है उससे 100 गुना अधिक पुण्य कथा करवाने वालों को मिलता है। और उससे भी हजार गुना पुण्य कथा श्रवण करने वालों को प्राप्त होता है। इसलिए हम अधिक से अधिक संख्या में कथा श्रवण का लाभ लेंवे।
पूर्व विधायक श्री यशपाल सिंह सिसोदिया ने कहा कि पूज्य स्वामी श्री उत्तमस्वामी जी का हम मंदसौर अंचल के निवासियों पर बड़ा आशीर्वाद है तपन जी के माध्यम से बंजारी बालाजी को एक तीर्थ का स्वरूप स्वामी जी के सानिध्य में मिला है वनवासी कल्याण के लिए भी स्वामी जी ने बहुत कार्य किए हैं। निश्चित रूप से इस कथा के माध्यम से संपूर्ण हिंदू समाज और अधिक मजबूती से संगठित होगा। हुडको डायरेक्टर बंशीलाल गुर्जर ने कहा कि श्रीमद् भागवत कथा ज्ञान यज्ञ महोत्सव में अंचल के लोग अधिक से अधिक कथा श्रवण का लाभ लेवें  ऐसे प्रयास हम सब कर रहे हैं। तीन लाभार्थी परिवार माध्यम है लेकिन यह पूरे नगर वासियों का ही आयोजन है। इस अवसर नपाध्यक्ष रमादेवी गुर्जर , जनपद अध्यक्ष श्री बसंत शर्मा तीनों लाभार्थी परिवार के प्रतिनिधि प्रहलाद काबरा, हरीश अग्रवाल, पीयूष गर्ग और सूरजमल गर्ग भी मंचासीन थे।संचालन वरिष्ठ पत्रकार ब्रजेश जोशी ने किया आभार लाभार्थी परिवार की ओर से प्रहलाद काबरा ने माना इस बैठक में नगर के गणमान्य जन, मातृशक्ति बड़ी संख्या में सम्मिलित हुए।
*आज होगा पोथी एवं कलश यात्रा के साथ कथा महोत्सव का शुभारंभ*
आज 17 दिसंबर रविवार को प्रातः 8:30 बजे बड़ा चौक स्थित चारभुजा नाथ मंदिर से कलश एवं पोथी यात्रा निकलेगी 1100 महिलाएं मस्तक पर कलश धारण कर इस कलश यात्रा में शामिल होंगी, कलश यात्रा गणपति चौक ,अशोक टॉकीज रोड, शुक्ला चौक,घंटाघर , पोस्ट आफिस रोड़ से कालाखेत होकर रुद्राक्ष माहेश्वरी धर्मशाला नयापुरा रोड पर विसर्जित होगी जहां प्रथम दिवस पूज्य श्री उत्तम स्वामी जी कथा महोत्सव का  अपने मुखारविंद से करेंगे। तीनों ही लाभार्थी परिवार ने नगर और अंचल वासियों से कथा श्रवण का लाभ लेने का अनुरोध किया है। प्रतिदिन कथा का समय दोपहर 1:00 बजे से सायंकाल 5:00 बजे तक रहेगा।
Chania