Friday, March 1st, 2024 Login Here
स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 200 से अधिक प्रतिनिधि को राष्ट्रीय अवॉर्ड से सम्मानित किया भैरव घाटी पर सड़क हादसा, एक की दर्दनाक मौत दो कारों की आमने-सामने भिडन्त, कॉन्स्टेबल की मौत मानपुरा में ग्रामीण के घर, बाड़े व स्विफ्ट कार से 63 किलो से अधिक अफीम जब्त सुपर पॉवर बनने की दिशा में तीन सेमीकंडक्टर, 1.26 लाख करोड़ के प्लांट को सरकार की मंजूरी 8 महिने बाद खाटु श्याम बाबा के मंदिर में प्रवेश कर भक्तों ने किए दर्शन 15 मिनिट में एक लाख का साउंड सिस्टम चुराने वाला बदमाश सीसीटीवी से पकडाया प्रधानमंत्री ने किया वर्चुअल भूमिपूजन, मंदसौर में 99.14 करोड़ की लागत से 18 महीने में तैयार होगा औद्योगिक पार्क गुजरात मॉडल से मप्र सरकार रोकेगी चेक पोस्ट पर अवैध वसूली अधिक आवक के चलते मंडी में बढ़ी अव्यवस्था, दिनभर बंद रही नीलामी शाम को शुरु हुई, आधे घंटे बाद फिर बंद, व्यापारी, किसान व हम्मालों का विरोध जारी नीमच से सिंगोली रावतभाटा होते हुए कोटा रेल मार्ग के फाइनल सर्वे की स्वीकृति, 5 करोड़ से अधिक की राशि स्वीकृत 500 जवानों की 45 टीमों ने की अपराधियों की धरपकड़, एक रात में 156 अपराधियों को पकडा मध्यप्रदेश की 29 सीटों पर पैनल तैयार,मंदसौर संसदीय क्षेत्र से देवीलाल धाकड, यशपालसिंह सिसोदिया, मदनलाल राठौर और सुधीर गुप्ता का नाम दुर्घटनाओं की जांच वैज्ञानिक तरीके से करने के निर्देश लेकिन पुरातन परम्परा अभी भी कायम अव्वल होने का दावा करने वाली नपा में सफाई व्यवस्था बदहाल
मंदसौर। धुंधडक़ा तहसील में स्थित एक गिट्टी प्लांट के मालिक पर खनिज विभाग के अफसर भारी मेहरबान बने हुए है। मेहरबानी इतनी की तत्कालीन वित्तमंत्री और वर्तमान उपमुख्यमंत्री के आदेश को ताक पर रख दिया। अवैध रूप से चल रहे गिट्टी प्लांट के चलते पास में स्थित स्कूल की दीवारों पर दरारें चल गई। इसके अलावा खेत और आवासीय इलाकों में रहने वाले लोगों की जान माल दोनों को ही खतरा है। कई शिकायतों के बाद भी जिम्मेदार इसे गंभीरता से नही ले रहे।
यहां है गिट्टी प्लांट, कब्जा कर बनाया

गांव में भूमि सर्वे कमंाक 113 में संचालित गिट्टी प्लांट अवैध रूप से चल रहा है। अवैध इसलिए की दस बीघा की लीज को पचास बीघा से अधिक बढ़ाकर कब्जा कर प्लांट संचालित किया जा रहा है। गांव से भावता जाने वाले मार्ग को भी प्लांट के मालिकों ने बंद कर दिया। यहां आसपास ईट भट्टा स्थापित है। जिन ईट भट्टे वालों को ईट बनाने के लिए जमीन दी गई थी। प्लांट संचालकों ने इसे भी कब्जे में ले लिया। जिससे कई लोगों के रोजगार पर भी आफत आन पड़ी है।
जगदीश देवड़ा ने दिए थे आदेश

यह मामला तत्कालीन वित्तमंत्री और वर्तमान वित्तमंत्री एवं उपमुख्यमंत्री जगदीश देवड़ा के संज्ञान में भी आया। इसके बाद उन्होंने इस संबंध में आदेश जारी कर गिट्टी प्लांट को बंद करने के प्रशासन को कहा। इसके बाद प्रशासन ने 15 मई 2023 को पत्र लिखकर गिट्टी प्लांट बंद करने के लिए खनिज विभाग को पत्र लिखा। इसके बाद भी खनिज विभाग के अधिकारियों ने गिट्टी प्लांट संचालक के प्रति गजब की वफादारी दिखाई।
ब्लास्ट से स्कूल में दरारें

क्रेशर पर होने वाली ब्लास्टिंग की वजह से माध्यमिक विद्यालय की बिल्डिंग में दरारें आ गई है। तीन सौ फीट दूर स्थित इस स्कूल में पढऩे वाले विद्यार्थियो पर भी खतरा मंडरा रहाहै। प्लांट से ईट भट्टे पर काम करने वाले मजदूर भी काफी हैरान परेशान है। आए दिन होने वाली ब्लास्टिंग से हमेशा उनके ऊपर खतरा मंडराता रहता है। इधर खेतों में काम करने वाले लोग भी दहशत में जी रहे हैं। लोगों का कहना है कि इससे खेतों की जमीन की उपजाऊ क्षमता पर भी असर पड़ सकता है। साथ ही आसपास के आवासीय इलाकों में रहने वाले लोग भी इससे परेशान है।
कई बार शिकायतें, प्रदर्शन

इसको लेकर ग्रामीणों ने कई बार शिकायतें की। कलेक्टर और एसपी से लेकर मौखिक और लिखीत शिकायतें अधिकारी को की जा चुकी है। इसके अलावा प्रदर्शन भी किया गया। इसके बाद भी जिम्मेदार इसे गंभीरता से नही ले रहे हैं।

Chania