Sunday, March 3rd, 2024 Login Here
मंदसौर संसदीय क्षेत्र से सुधीर गुप्ता को मिला टिकीट सेवा कार्यो में उत्कृष्ट कार्य को लेकर रेडक्रॉस सोसायटी जिला शाखा मंदसौर को मिला अवार्ड बांछड़ा डेरों पर पुलिस की दबिश, भारी मात्रा में अवैध शराब जप्त प्रतिवेदन पेश नहीं करने पर नपा सीएमओं के खिलाफ पांच हजार का जमानती वारंट जारी सूदखोरों से परेशान होकर की आत्महत्या, पिता के मृत्युभोज के लिए लिया था पैसा मंत्री सारंग ने की वन-टू-वन चर्चा, कहा 6 लाख वोट से भाजपा को जिताने का संकल्प ले लोकसभा चुनाव - भाजपा के 155 उम्मीदवारों की सूची आज घोषित होने की संभावना स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 200 से अधिक प्रतिनिधि को राष्ट्रीय अवॉर्ड से सम्मानित किया भैरव घाटी पर सड़क हादसा, एक की दर्दनाक मौत दो कारों की आमने-सामने भिडन्त, कॉन्स्टेबल की मौत मानपुरा में ग्रामीण के घर, बाड़े व स्विफ्ट कार से 63 किलो से अधिक अफीम जब्त सुपर पॉवर बनने की दिशा में तीन सेमीकंडक्टर, 1.26 लाख करोड़ के प्लांट को सरकार की मंजूरी 8 महिने बाद खाटु श्याम बाबा के मंदिर में प्रवेश कर भक्तों ने किए दर्शन 15 मिनिट में एक लाख का साउंड सिस्टम चुराने वाला बदमाश सीसीटीवी से पकडाया प्रधानमंत्री ने किया वर्चुअल भूमिपूजन, मंदसौर में 99.14 करोड़ की लागत से 18 महीने में तैयार होगा औद्योगिक पार्क

 भोपाल निप्र । मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी के राष्ट­ीय उपाध्यक्ष शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ सरकार पर हमला करते हुए कहा कि इस सरकार के 2 मंत्री तो पद पर रहने के लायक ही नहीं हैं। शिवराज सिंह मंत्री जीतू पटवारी और प्रद्युम्न सिंह तोमर के बारे में बात कर रहे थे, जिन्होंने सरकारी कार्यक्रम में भरे मंच से कहा कि हमारी सरकार गरीबों को शराब आदि का नशा करने के लिए भी पैसा दे रही है।  
शिवराज सिंह ने कहा कि यह अजब सरकार के गजब मंत्री है। इन्हें नहीं समझ आता कि ये क्या बोल रहें हैं। इन्हें होश नहीं है, पहले ही प्रशासनिक अराजकता और कानून व्यवस्था ध्वस्त है। जहां चारों तरफ अफरा.तफरी मची है, वहीं लगता है की ये खुद सामाजिक अराजकता भी फैलाना चाहते हैं। कमलनाथ सरकार के मंत्रियों को कम से कम मंत्री होने का मतलब पता होना चाहिए। उन्होंने कहा कि सामान्य मनुष्य अगर नशे के बारे में बोले तो अलग बात होती है लेकिन मंत्री बोल रहे हैं कि देशी.विदेशी पीने की व्यवस्था कर दी। दूसरे मंत्री कह रहे हैं कि बुढ़ापे में बीड़ी तंबाकू खाने की व्यवस्था कर दी। यह बीड़ी पिला के और तंबाकू खिला के ःया कैंसर के शिकार बनाना चाहते हैं सबको। मंत्रियों और सरकार की जिम्मेदारी है कि वो लोगों को नशे से दूर रखने का प्रयास करें। तंबाकू जैसा नशा जिससे कैंसर पैदा होता है उससे जनता को दूर रखें लेकिन यहां तो उल्टा उसका प्रचार करते है कमलनाथ सरकार के मंत्री। उन्होंने कहा कि इन मंत्रियों का यह व्यवहार मंत्री रहने लायक नहीं है।  शिवराज ने बोला कि मुख्यमंत्री कन्यादान योजना एक पवित्र उद्देश्य से प्रारंभ की गई थी। वह परिवार जिनके लिए बेटियों की शादी उनपर भारी पड़ती है या कुछ और कारणों से बेटियों शादी में दिक्कतें आतीं हैं, यह योजना उन परिवार के लिए थी। वहीं मंत्री अगर खुलेआम देशी विदेशी नशे का प्रचार करेंगे, तो समाज किस दिशा में जाएगा।

Chania